Tuesday , September 25 2018
अन्य व्यापार

डेयरी फार्म हाउस के कारोबार को खोलने की जानकारी | How to Start dairy Farming business plan in India in Hindi

डेयरी फार्म हाउस के कारोबार को खोलने की जानकारी | How to Start dairy Farming business plan in India in Hindi

डेयरी फार्म हाउस का कारोबार आम दूसरे कारोबार की तरह नहीं होता है. ये कारोबार सुनने में जितना सरल लगता है उतना सरल बिल्कुल नहीं है. इस कारोबार को सही तरह से चलाने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है. इसलिए अगर आप इस कारोबार को शुरू करने का विचार कर रहे हैं, तो आप हमारा ये लेख जरूर पढ़े. इस लेख में आज हम आपको बताने वाले है कि इस कारोबार को शुरू करने में किन-किन चीजों का ध्यान रखने की जरूरत पड़ती है. कैसे आप इस कारोबार को सही तरह से चला सकते है. लेकिन इन सबसे पहले आपको ये जानना जरूरी है कि इस व्यापार की हमारे देश में क्या स्थिति है और इसके जरिए आप कितना मुनाफा कमा सकते हैं.

देश में डेयरी फार्म की मांग और इससे जुड़ा मुनाफा (Indian Dairy Farm Business Demand And Profit) –

साल 2015-16 के दौरान किए गए एक आर्थिक सर्वेक्षण के मुताबिक दूध उत्पादन में भारत पहले स्थान पर है. भारत विश्व में होने वाले दूध उत्पादन का 18.5% हिस्सा उत्पाद करता है. जिसका मतलब ये है कि इस व्यापार की मांग हमारे देश में काफी है. वहीं दूध एक ऐसा उत्पाद है जिसका निर्यात करके भी आप पैसे कमा सकते हैं. वहीं अभी हाल ही में भारत सरकार द्वारा पेश की गई एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2014 से लेकर साल 2017 तक डेयरी किसानों की आय में 23.77% की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है. इतना ही नहीं साल 2013-14 की तुलना में साल 2016-17 में देश के दूध के उत्पादन में 20.12% की बढ़त हुई है. इस बात से अनुमान लगाया जा सकता है कि इस व्यापार से ना केवल दूध की बल्कि इससे जुड़े किसानों की भी आय में अच्छी खासी वृद्धि हुई है.

डेयरी फार्मिंग

कई स्तर पर शुरू कर सकते हैं ये व्यापार (Cost of setting up small and large scale dairy farm Business in India in hindi)

इस व्यापार को आप छोटे, मध्यम और बड़े पैमाने पर भी शुरू कर सकते हैं. अगर आपके पास ज्यादा संख्या में भैंस या गाय खरीदने के लिए पैसे नहीं हैं, तो आप केवल चार भैंसों को रखकर भी ये व्यापार खोल सकते हैं. लेकिन ये याद रखें की जितना ज्यादा दूध आपको इन भैंसों से मिलेगा उतना ज्यादा ही आपका मुनाफा होगा. यानी अगर आप चार भैंसे रखते हैं, तो आपको मुनाफा तो होगा ही मगर ज्यादा नहीं. वहीं अगर इन भैंसो या गायों की संख्या बढ़ा दी जाती है, तो आपका लाभ भी बढ़ेगा. नीचे हमने आपको तीन स्तर पर डेयरी फॉर्म खोलने से जुड़ी कुछ जानकारी दे रखी है.

  • बड़े स्तर पर डेयरी फार्म (large scale dairy farming Business in India)

इस तरह की डेयरी फार्म खोलने के लिए आपको 20 लाख रुपए तक लगाने पड़ सकते हैं. इस डेयरी में आपको कम से कम 30 भैंसों को रखना होगा. वहीं अगर आपको एक भैंस दिन का 10 लीटर दूध देती है, तो 30 भैंसों के हिसाब से आपको दिन का 300 लीटर दूध बेचने के लिए मिल जाएगा. वहीं आप इस दूध को अगर 40 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से बेचते हैं, तो आपको दिन का 12000 हजार रुपए का मुनाफा होगा. वहीं ये राशि महीने के हिसाब से 3,6,0000 होगी. वहीं इन आकड़ों के हिसाब से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि आप कितना मुनाफा कमा सकते हैं. हालांकि इस मुनाफे में भैंस को रखने पर आने वाले खर्च और कर्मचारियों को सैलरी देने का खर्चा शामिल है.

  • मध्यम स्तर की डेयरी फार्म : (Medium scale dairy farming)

इस तरह की डेयरी फार्म चलाने के लिए आपको 7 से 10 लाख रुपए तक की जरूरत पड़ेगी.   वहीं आपको इस व्यापार को शुरू करने के लिए कम से कम 15 से 18 भैंसों या गायों की आवश्यकता पड़ेगी. वहीं आपके मुनाफे की बात करें, तो आपको इस लेवल के डेयरी फार्म को खोलने से करीबन डेढ़ लाख तक का लाभ हो सकता है. वहीं अगर आप भैंसों या गायों की संख्या बढ़ा देते हैं तो आपका लाभ और बढ़ जाएगा.

  • छोटे स्तर के डेयरी फार्म (Small scale dairy farming)

आप कम पैसों में भी डेयरी खोल सकते हैं. छोटे स्तर पर इस व्यापार को शुरू करने के लिए आपको पांच भैंसों या गायों की जरूरत पड़ेगी. वहीं इन भैंसों को लेते समय ये सुनिश्चित कर लें, कि ये अच्छी नस्ल की हों और एक दिन में कम से कम 10 लीटर दूध तो अवश्य दे. छोटे स्तर पर डेयरी खोल कर आपको महीने के 50 से 70 हजार रुपए तक का लाभ हो सकता है.

कहां से खरीदें भैंसे (Place To Buy Cow For Dairy)

भारत सरकार द्वारा डेयरी फार्म के कारोबार को बढ़ावा देने के लिए कई तरह की मदद की जा रही हैं. आप भैंस या गाय को सरकार द्वारा बनाए गए एक पोर्टल के जरिए खरीद सकते हैं. इस पोर्टल का लिंक इस प्रकार हैhttps://epashuhaat.gov.in/.  इस लिकं पर जाकर आपको कई नस्ल की भैंसों या गायों की जानकारी मिल जाएगी. इतनी ही नहीं आप चाहें तो इन्हें इस पोर्टल के जरिए खरीद या बेच भी सकते हैं. ऊपर बताए गए लिंक के अलावा आप एक अन्य लिंक पर भी जाकर भैंस को खरीद सकते हैं. ये लिंक इस प्रकार है.

https://www.indiamart.com/proddetail/jersey-cows-7765497548.html

ऑनलाइन के अलावा आप अपने आस-पास के किसी गांव के किसान से भी भैंस खरीद सकते हैं. ऐसा करने से आपको भैंस थोड़ी सस्ती मिल जाएगी और आप मुनाफे में रह सकते हैं.

भैंसों या गायों की कीमत (Price Of Cow In India)

भैंसों या गायों की कीमत का निर्णय उनकी नस्ल के आधार पर लिया जाता है. अगर आप अच्छी नस्ल की भैंस खरीदते हैं, तो आपको 30 हजार रुपए तक का खर्च आएगा. वहीं अगर भैंस की नस्ल ज्यादा अच्छी नहीं है, तो आप 20 हजार के अंदर ही भैंस को खरीद सकते हैं. वहीं गायें आपको सस्ते दामों पर आसानी से मिल सकतीं हैं.

भैंस या गायों खरीदते समय ध्यान देने वाली बातें-

दुनिया भर में भैंसों या गायों की कई तरह की नस्लें देखने को मिलती हैं और हर नस्ल की भैंस अलग-अलग मात्रा में दूध दिया करती है. इसलिए अपने व्यापार के लिए केवल उन्हीं भैंसों को खरीदे, जो कि आपके व्यापार के लिए फायदेमंद हो. वहीं इस व्यापार के लिए जर्सी कैटल, होल्सटीन मवेशी नस्ल और साहिवाल नस्ल की भैंसे सही रहती हैं. जर्सी कैटल 15 से 18 लीटर दूध देने की क्षमता रखती हैं. 

भैंसो या गायों को देने वाला खाना (buffalo healthy food)

अगर आप उम्मीद करते हैं कि आपकी भैंस या गाय आपको अच्छा खासा दूध दे, तो आपको उस हिसाब से अपनी भैंस को खाने देना होगा. किसी भी भैंस या गाय के दूध देने की क्षमता इस बात पर निर्भर करती है, कि वो किस तरह का खाना खाती है. इसलिए भैंसों के खाने का आपको अच्छा खासा ध्यान रखना होगा. वहीं भैंसों या गायों को दिया जाने वाले खाने में सुखा चारा और ताजी घास शामिल होती हैं, इसके अलावा भैंस को कई तरह के खनिज (मिनिरल्स) वाली चीजे भी दी जाती हैं.

http://www.gpfindia.in/product/milk-formula/  

डेयरी फार्म खोलने की प्रक्रिया (Process Of Opening A Dairy Farm Business)

  • स्थान का चयन करना- (land required for dairy farm in India)

इस व्यापार को शुरू करने से पहले आप एक स्थान का चयन कर लें. जहां पर आपके द्वारा खरीदी गई भैंसों या गायों को रखा जाएगा. किसी भी प्रकार की डेयरी खोलने से पहले स्थान का चयन करना बेहद ही जरूरी होता है. उस स्थान पर पानी की कैसी सुविधा है, इसको अच्छे से पता कर लें. क्योंकि भैंसों या गायों द्वारा अच्छा खासा पानी पिया जाता है. इसलिए ऐसे ही स्थान का चयन करें, जहां पर आपको खुलकर पानी मिल सके. वहीं गर्मी के मौसम में भैंसों या गायों को हवा देने के लिए पंखे की भी जरुरत पड़ती है. जिसके लिए ये देख लें, कि वहां पर बिजली की सुविधा मौजूद हो.

एक या दो एकड़ जमीन पर ही अपनी डेयरी को खोलें. क्योंकि जितना खुला स्थान होगा आप उतने अच्छे से भैंसों या गायों को दिए जाने वाली खाने के सामान को रख सकेंगे.

  • चुने गए स्थान में निर्माण कार्य-

स्थान पसंद करने के बाद आपको उस स्थान में भैंसों या गायों को रखने के लिए कुछ कमरे बनाने होंगे. ताकि सर्दी के मौसम में भैंसों या गायों को उन कमरों में रखा जा सके. कमरों के अलावा आपको टीन की मदद से एक छत बनानी होगी. उस छत के नीचे भैंसो या गायों को आसानी से रखा जा सके. इसके अलावा छत के नीचे उनको चारा देने की सुविधा के लिए भी आपको बॉक्स आकार में एक जगह का निर्माण करवाना होगा. ताकि बॉक्स आकार वाली जगह पर आप खाने का सामान उनके लिए डाल सकेंगे. वहीं ऊपर बताई गई चीजों के अलावा आपको तीन से चार कमरों की और जरूरत पड़ेगी. इन कमरों में आप उनके खाने का सामान, दूध लेने के बर्तन और अन्य चीजों को रख सकेंगे.    

  • लोगों का चयन (recruitment of employees)

भैंसों का दूध निकालने, उनको समय पर खाने देने और उनकी साफ सफाई के लिए आपको कुछ लोगों की जरूरत पड़ेगी. इसलिए आपको इस कार्य के लिए कुछ लोगों को नौकरी पर रखना होगा.

  • भैंसों या गायों से दूध निकालना-

लोगों का चयन करने के बाद जो अगला कार्य है वो है भैंसों से दूध निकालने की प्रक्रिया. भैंसों से दिन में दो बार दूध लिया जा सकता है. वहीं इस कार्य पर लगाए गए लोगों को सफाई के साथ दूध निकाले के निर्देश जरूर दें. दूध निकल जाने के बाद सारे दूध को एक जगह जमा करके रख लें. जिसके बाद आप इस दूध को बेच सकते हैं.

व्यापार करने का तरीका-

इस व्यापार को करने के दो तरीके हैं. पहले तरीके के तहत आप दूध को किसी कंपनी को बेच सकते हैं. ऐसे कई सारी कंपनियां हमारे देश में हैं, जो कि दूध वालों से रोजाना उनका दूध खरीदती हैं. वहीं दूसरे तरीके के तहत आप अपनी कंपनी खोलकर दूध को बाजार में सीधे तौर पर बेच सकते हैं. हालांकि अपनी कंपनी खोलने के लिए आपको थोड़ी ज्यादा मेहनत करनी होगी. लेकिन एक बार आपकी कंपनी चलने लगेगी तो आपको लाभ भी अच्छा होगा. इतना नहीं कंपनी शुरू करके आप दूध से बनने वाले अन्य उत्पादों को भी बेच सकते हैं. जैसे दही, पनीर, मक्खन इत्यादि जैसे उत्पाद. वहीं अगर आप कंपनी शुरू करते है तो नीचे दी गई बातों का ध्यान रखें.

व्यापार का पंजीकरण (License process)

अपनी कंपनी खोलकर अगर आप दूध बेचना चाहते हैं, तो आपको इसके लिए अपनी कंपनी का पंजीकरण करवाना होगा. कंपनी का पंजीकरण करवाने के लिए आपको अपनी कंपनी के लिए एक नाम सोच कर रखना होगा. वहीं आप अपनी कंपनी के नाम का पंजीकरण स्थानीय प्राधिकरण से दफ्तर में जाकर करवा सकते हैं. इसके अलावा आपको ट्रेड लाइसेंस, FSSAI लाइसेंस और वैट पंजीकरण करवाने की भी जरूरत पड़ेगी. इन लाइसेंस और पंजीकरण की प्रक्रिया में आपका थोड़ा सा खर्चा भी आएगा.

पैकेजिंग और बॉक्स की जरूरत (Packaging And Labelling)

अगर आप अपनी कंपनी के जरिए दूध को बचते हैं, तो आपको दूध बेचने के लिए पैकेट बनवाने होंगे. दूध के इन पैकेट पर आपको अपनी कंपनी की जानकारी भी देनी होगी और दूध किस दिन पैक किया गया है. इसकी जानकारी भी पैकेट पर देनी होगी. वहीं इन पैकेट को बनवाने के लिए आपको उस व्यापारी से संपर्क करना होगा, जो इस तरह के पैकेट तैयार करने का कार्य करता है.

अपने व्यापार का प्रोमोशन (Marketing)

अपनी कंपनी के नाम का प्रचार करना काफी जरूरी है, ताकि लोगों को पता लग सके, कि इस नाम की कोई कंपनी मौजूद है. कंपनी का प्रचार करने से लोगों में आपके द्वारा बनाए गए सामान की जानकारी पहुंचेगी. जिससे की आपके व्यापार को लाभ होगा. प्रचार कार्य के लिए आप अखबार में विज्ञापन दे सकते हैं.

डेयरी व्यापार से जुड़ी अन्य बातें (Dairy farming facts)

  • सावधानी की जरूरत (precaution)

भैंसों को सही तरह का खाना ही दें. अगर आप उनको खराब खाने देते हैं तो उससे उनकी सेहत खराब हो सकती है. इसके अलावा समय-समय पर भैंसों की जांच जानवर के डॉक्टर से करवाते रहे. इतना ही नहीं भैंसों को कई तरह की वैक्सीनेशन भी दी जाती है, ताकि उनको कोई बीमारी ना हो सके.

  • व्यापार का बजट और ऋण लेने की सुविधा (Business start-up Costs And Loan Facility)

अगर आपको इस कारोबार को शुरू करने में पैसों की कोई तंगी आ रही है, तो आप बैंक से लोन ले सकते हैं. वहीं इस व्यापार को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा भी कई तरह सब्सिडी की सुविधा दी जा रही है. वहीं किसी भी बैंक से लोन लेने से पहले ये सुनिश्चित जरूर कर लें, कि आपको वो लोन कितनी ब्याज दर और कितने समय के अंदर वापस करना होगा.

अन्य नए व्यापार शुरू करने के बारे में पढ़े:

6 comments

  1. Prakash Kumar Murmu

    I want guide line to make cow sheed to start dairy form and best guide for start dairy farm

  2. me dary kholna chta hu mere pass 5 akd land h muje achi nasl ki cow chiye kha se le skta hu

  3. हैलो दोस्तो मुझे डेयरी फार्म पर काम करने के लिये आदमी की आवश्यकता है अगर कोई ईच्छुक हो तो मुझे 9672266154 पर what’s app करे

  4. Sir aap bhut purane hisab SE bta hai 10 liter ki bhais Lene ke liye ab Kam se Kam 60 thausend dena padega

  5. hum aap se baat karke kya aap hame Bata Sajna

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *