Agriculture Business Ideas – सरकार दे रही है 80% की सब्सिडी, बिज़नेस करने का बेहतरीन मौका प्राप्त करना चाहते हैं तो ऐसे करें आवेदन

कृषि संबंधित मशीनें आज किसानों की पहली जरुरत है. किन्तु किसानों की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण वे इन मशीनों को खरीदने में असमर्थ रहते हैं. इस चीज को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने किसानों के लिए एक योजना का शुभारंभ किया हैं जिसमें किसान कृषि के लिए किराए पर मशीनें ले सकते हैं. इसके लिए उन्हें बहुत ज्यादा खर्च करने की भी आवश्यकता नहीं है. इस योजना से किसानों को तो लाभ हो ही रहा हैं लेकिन आपको बता दें कि इसमें आम जनता के लिए पैसे कमाने का बेहतरीन अवसर भी निहित है. जी हां आम जनता इस योजना के तहत कस्टम हायरिंग केंद्र जिसे फार्म मशीनरी बैंक भी कह सकते हैं, उसे खोलने के लिए सरकार द्वारा पैसे दिए जायेंगे. इस योजना के लिए आम जनता कैसे पैसे कम सकती हैं इसकी जानकारी आपको इस लेख में मिल जाएगी.

farm machinery bank yojana in hindi

फार्म मशीनरी बैंक योजना क्या है  

आधुनिक खेती के विकास के लिए केंद्र सरकार ने फार्म मशीनरी बैंक योजना की शुरुआत की है, जिसमें किसानों को बिना किसी परेशानी के आधुनिक उपकरण किराये पर मुहैया हो रहे हैं और इसके लिए उन्हें ज्यादा पैसा भी खर्च नहीं करना पड़ रहा है. साथ ही इस योजना कि खास बात यह है कि इससे आम जनता को फार्म मशीनरी बैंक खोलने के लिए पैसे भी दिए जा रहे हैं.

कृषि से संबंधित व्यवसाय के आइडियाज किसानों के लिए है बहुत काम के, शुरू करके कर सकते हैं अच्छी कमाई.

फार्म मशीनरी बैंक योजना का उद्देश्य

केंद्र सरकार की इस योजना का सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण उद्देश्य तो यही है कि इसे आधुनिक खेती को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया गया है, जिससे किसानों द्वारा कृषि करने के तरीके में काफी हद तक सुधार हो सके. साथ ही किन्तु इससे रोजगार के अवसर भी पैदा किये जा सकें.

फार्म मशीनरी बैंक योजना में आम जनता को फायदा  

इस योजना में आम जनता खुद का बिज़नेस शुरू कर सकती हैं. जी हां इस योजना में कस्टम हायरिंग केंद्र खोलने के लिए सरकार द्वारा मदद की जा रही है. जहां से किसान किरायें पर मशीनरी खरीद सकेंगे और इसके बदले में उन्हें पैसे देंगे. इसी से आम जनता को फायदा मिलेगा.

खेती के अलावा किसान ये साइड बिज़नेस करके कर सकते हैं बेहतरीन कमाई. जाने क्या अहि वे बिज़नेस.  

फार्म मशीनरी बैंक योजना की खास बात

  • कस्टम हायरिंग केंद्र :- इस योजना के तहत पूरे देश में कई कस्टम हायरिंग केंद्र खोले जा रहे हैं. हालही में इनकी संख्या 42 हजार तय की गई है जोकि आगे जाकर बढ़ सकती है.
  • कृषि यंत्र सब्सिडी :- इस योजना में आम जनता को पैसे कमाने का अवसर प्राप्त हो रहा है, इसके लिए सरकार उनकी काफी मदद भी कर रही है. सरकार लाभार्थियों को इस बिज़नेस को करने के लिए करीब 80 % तक का अनुदान दे रही है. सरकार फार्म मशीनरी बैंक खोलने के लिए कम से कम 10 लाख रूपये से 1 करोड़ रूपये तक प्रदान कर रही है. अतः इसके अलावा 20 % जो भी खर्च आयेगा केवल उसका भुगतान लाभार्थी को स्वयं करना होगा.
  • कृषि यंत्र की कीमत :- इस योजना के तहत जिन कृषि यंत्रों को फार्म मशीनरी बैंक में रखा जायेगा, उसमें अधिकतम 10 लाख रूपये तक की कीमत वाले उपकरण शामिल हैं.
  • सरकार के अनुदान की अवधि :- जब लाभार्थी एक बार इस योजना के तहत सब्सिडी की राशि प्राप्त कर लेते है, तो उसके बाद उसे अगले 3 साल तक कोई अनुदान नहीं मिलता है. 3 साल बाद दोबारा इसके लिए आवेदन कर सकते हैं. 1 साल के अंदर 3 अलग – अलग कृषि यंत्र के लिए सरकार सब्सिडी देती है.
  • अनुदान राशि का वितरण :- सरकार अनुदान की राशि लाभार्थी के बैंक खाते में तब जमा करेगी जब लाभार्थी अपना 20 प्रतिशत योगदान दे दे.
  • विशेष लाभ :– फार्म मशीनरी बैंक योजना में महिलाओं, अनुसूचित जाति, जनजाति एवं बीपीएल श्रेणी के लाभार्थियों को विशेष प्राथमिकता मिल रही है.

फार्म मशीनरी बैंक योजना में कृषि यंत्र

इस मशीनरी बैंक योजना में निम्न कृषि यंत्र के लिए सरकार सब्सिडी प्रदान कर रही है जिसे किसान किराये पर खरीद सकते हैं.

  • किसान सीड फ़र्टिलाइज़र ड्रिल,
  • प्लाऊ,
  • थ्रेसर,
  • टिलर रोटावेयर आदि.

मशरूम कीड़ा जड़ी नाम के एक विशेष तरह के मशरूम की खेती करने वाले इस किसान की सफलता की कहानी पढ़ें.

फार्म मशीनरी बैंक योजना का लाभ प्राप्त करने वाले लाभार्थी

  • भारत का निवासी :- इस योजना में शामिल होकर भारत का कोई भी निवासी फार्म मशीनरी बैंक खोल कर पैसा कमाने के लिए पात्र होता है.
  • आयु सीमा :- इस योजना में आवेदन करने वाले लाभार्थी कि उम्र कम से कम 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए.
  • जाति सीमा :- लाभार्थी की जाति चाहे कोई भी हो इस योजना में आवेदन कर सकते हैं. हालाँकि इसमें निम्न जाति के लोगों को विशेष प्राथमिकता दी जा रही है.

फार्म मशीनरी बैंक योजना में लगने वाले आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बीपीएल कार्ड
  • बैंक खाते की पासबुक
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मूल निवासी
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • कृषि यंत्र की खरीद का बिल आदि.

किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत मिलने वाले लोन से शुरू कर सकते हैं ये बिज़नेस.

फार्म मशीनरी बैंक योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदन प्रक्रिया

ऑनलाइन प्रक्रिया

  • इस योजना में शामिल होकर अपना बिज़नेस शुरू करने के लिए लाभार्थी को सबसे पहले इस अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • यहाँ रजिस्ट्रेशन वाले ब्लॉक में जाकर आपको 4 विकल्प में से एक का चयन करना होगा.
  • फिर एक बॉक्स खुलेगा जहां आपसे आपके राज्य का नाम चयन करने के लिए बोला जायेगा. उसे सेलेक्ट कर दें.
  • फिर आपकी स्क्रीन पर एक आवेदन फॉर्म खुलेगा जहां आपको सभी जानकारी भरनी होगी. और सभी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा.
  • अन्य में सबमिट बटन पर क्लिक करके अपना रजिस्ट्रेशन पूरा कर लेना होगा. इसके बाद शो होने वाले रिफरेन्स नंबर को आप सुरक्षित करके रख लें.

ऑफलाइन आवेदन :-

इस योजना में शामिल होकर अपना बिज़नेस करने के लिए लाभार्थी ऑफलाइन आवेदन भी कर सकता है. जिसके लिए उसे अपने पास के लोक सेवा केंद्र या फिर कियोस्क केंद्र में जाना होगा. और वहां से आवेदन फॉर्म भरकर आप इस योजना में खुद को रजिस्टर कर सकते हैं और लाभ प्राप्त कर सकते हैं.

खेती किसानी छोड़कर गांव के युवा गांव में रहकर ही शुरू करना चाहते हैं बिज़नेस तो शुरू करने के लिए यहाँ क्लिक करें.

फार्म मशीनरी बैंक योजना में स्टेटस की जाँच

इस योजना के लाभार्थी आवेदन करने के बाद अपने स्थिति की जाँच करने के लिए इसकी अधिकारिक वेबसाइट में ही जाना होगा. इसके बाद वहां से आपको ट्रैक स्टेटस में जाकर सभी जानकारी प्राप्त हो जाएगी.

इस तरह से इस योजना का लाभ किसानों को तो मिल रहा है, साथ ही यदि कोई व्यक्ति को नौकरी नहीं मिल रही है तो वह भी इस तरह का बिज़नेस करके अच्छा खासा पैसा कमा सकता है. इसमें सरकार भी आपको मदद कर रही है.

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *