GeM – सरकारी ई बाजार के साथ जुड़कर रोज के कमायें 10,000 रूपये, जानिए क्या है प्रक्रिया

सरकारी ई – मार्केटप्लेस, जेम (जी ई एम), बाजार, क्या है (Government e MarketPlace (GeM) Portal, Public Procurement, Registration in Hindi)

सरकार ने सरकारी विभागों के लिए एक प्लेटफॉर्म की शुरुआत की हैं, जिसके तहत सरकारी विभागों एवं आम लोगों को किसी चीज की आवश्यकता होती हैं तो वे इस पोर्टल के माध्यम से क्रमशः खरीद एवं बेच सकते हैं. यह पोर्टल सरकारी ई – मार्केटप्लेस पोर्टल हैं. अतः इस पोर्टल की मदद से आप सरकार के साथ बिज़नेस भी कर सकते हैं. सरकार से साथ बिज़नेस करके आप प्रतिदिन में 10,000 रूपये एवं प्रतिमाह में लाखों रूपये कमा सकते हैं. इस पोर्टल में आप किस तरह से रजिस्टर कर सकते हैं और कैसे इसका लाभ उठा सकते हैं जानने के लिए यहां हमारे इस लेख को पूरा पढियें.

government e marketplace

जी ई एम क्या है (What is GeM)

जी ई एम का पूरा नाम है गवर्नमेंट ई – मार्केटप्लेस. यह एक तरह का ई – कॉमर्स पोर्टल हैं जिसमें सरकार ने विभिन्न मंत्रालयों, विभागों एवं एजेंसियों को जोड़ा है. ये सभी विभाग अपनी उपयोग की वस्तुओं एवं सेवाओं को अब ई कॉमर्स पोर्टल के माध्यम से खरीदेंगे. यानी अब उनकी पूरी खरीदारी ऑनलाइन ही होगी. दरअसल यह पोर्टल इसलिए शुरू किया गया हैं, क्योकि अक्सर यह देखा जा रहा था कि सरकारी नौकरी में काम करने वाले लोग कार्यलय में किसी चीज को सस्ते दाम में खरीद कर सरकार तक इसका बिल ज्यादा पहुंचा देते थे. जिससे सरकार को काफी नुकसान होता था. इसलिए सरकार ने इस पर पाबन्दी लगाते हुए एक नया ई – कॉमर्स पोर्टल शुरू किया हैं.

ईमेल मार्केटिंग क्या हैं और इससे पैसे कैसे कमा सकते हैं, जानने के लिए यहाँ क्लिक करें.

जी ई एम में बिक्री के लिए पात्रता मापदंड (Eligibility Criteria)

कोई भी ऐसा विक्रेता जोकि उत्पादन करता है और सभी अच्छे उत्पाद बेचता है वह इस पोर्टल में रजिस्टर करके बिक्री करने के लिए पूर्ण रूप से पात्र हो सकता है. 

जी ई एम से खरीददारी एवं बिक्री किस प्रकार की जाती हैं (Buy and Sell)

जी ई एम से खरीददारी एवं बिक्री के लिए सरकार टेंडर निकालती हैं. लेकिन जरुरी नहीं हैं सरकार बड़ी – बड़ी चीजों जैसे फर्नीचर, घर आदि के लिए टेंडर निकालती है. बल्कि सरकार हर छोटी से छोटी चीजों के लिए भी टेंडर निकालती है, जैसे पेन, पेपर, टेबल, कुर्सी आदि इसी तरह की चीजें. आप अपने अनुसार सरकार द्वारा दिए जाने वाले टेंडर को लेकर अपना व्यवसाय कर सकते हैं. इसके लिए आपके पास दुकान हो ऐसा भी जरुरी नहीं है. आप किसी भी दुकान से सामान सस्ते दामों में खरीद कर सरकार को बेच सकते हैं. अतः कोई भी सरकारी विभाग या मंत्रालय से जुड़ा हुआ व्यक्ति अब ई – मार्केटप्लेस के उपयोग के बिना कोई चीज नहीं खरीद सकता है. इस पोर्टल पर सरकारी विभाग अपने लिए कम से कम 50 हजार रूपये तक की खरीददारी करने एवं सर्विस लेने के लिए सक्षम हो सकते हैं.

बॉईल पेन बनाने के व्यवसाय में है हजारों कमाने का मौका, कैसे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें.

टेंडर से होने वाली इनकम (Tender Income)

अब बारी आती हैं आपको सरकार द्वारा जारी किये जाने वाले टेंडर किस प्रकार मिलंगे. तो हम आपको बता दें कि सरकार को जिस भी सामान या सर्विस की आवश्यकता होती हैं उसका टेंडर जारी होने के बाद कोई भी व्यक्ति जिसे सरकार के साथ बिज़नेस करना हैं, वह उस टेंडर के लिए बोली लगता हैं कि वह उस सामान या सर्विस को किस दाम में बेचेंगे. ऐसे ही कई लोग होंगे. फिर सरकार सभी बोलियों को देखते हुए जो सबसे कम दाम वाली बोली हैं, उस व्यक्ति को टेंडर दे देती हैं. और इस प्रकार उस व्यक्ति को टेंडर मिल जाता है. टेंडर मिलने के बाद वह व्यक्ति सरकार को निर्धारित राशि में सामान बेच कर पैसा कमा लेता है. इस तरह से सरकार को सामान बेच कर आप अपनी इनकम को डबल कर सकते हैं.    

टेंडर कैसे मिलेगा (How to Get Tender)

  • जी ई एम में सरकार द्वारा जारी किये जाने वाले टेंडर लेने के लिए सबसे पहले आप ऑनलाइन पोर्टल पर जाएँ.
  • यहां पहुँचने के बाद आप देखेंगे कि पोर्टल के होम में ही आपको भाषा का चयन करने का विकल्प मिल जायेगा, साथ ही जिस भी प्रोडक्ट एवं सर्विस को आप सरकार को बेचेंगे उसकी लिस्ट केटेगरीज में शो हो जायेगा. उसमें से आप अपने अनुसार प्रोडक्ट या सर्विस का चयन कर सरकार को बेच सकते हैं.
  • इस पोर्टल के माध्यम से आपको टेंडर लेने के लिए दहिनी ओर दिए हुए ‘बिड्स’ विकल्प पर क्लिक करके ‘ऑन गोइंग बिड्स’ में क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर वे सभी टेंडर शो हो जायेंगे जिन सामानों एवं सेवाओं की सरकार को जरूरत हैं.
  • आप इसे अपने अनुसार किसी भी प्रोडक्ट या सर्विस का चयन करें, और वहां दिए हुए विकल्प पर क्लिक करके आप टेंडर के लिए बोली लगा सकते हैं. यदि आपके द्वारा लगाई गई बोली की कीमत कम हैं तो सरकार आपको इसका टेंडर दे देगी.

गुड्स एवं सर्विस टैक्स में अपने व्यापार का रजिस्ट्रेशन करने के लिए यहाँ क्लिक करें.

जी ई एम में टेंडर के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें (How to Register for Tender)

अब जब आपको टेंडर लेने की बात आई है तो आपको बता दें कि टेंडर लेने के लिए लाभार्थियों को खुद को इस पोर्टल पर रजिस्टर करना होगा. रजिस्टर करने के लिए –

  • सबसे पहले ऑनलाइन वेबसाइट में जाएँ. यहाँ आपको एक बायर या सेलर में से किसी एक के रूप में खुद को रजिस्टर करना होगा.
  • इसके लिए आप साइनअप में जाकर क्लिक करें. वहां से अपने अनुसार विकल्प का चयन करें. और इसके बाद खुद को इसमें रजिस्टर कर दें.
  • रजिस्टर करने के लिए आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना होगा. फिर आपको नीचे कुछ जानकारी देनी होगी, जो भी वहां पूछी जाएगी.
  • सभी जानकारी दे देने के बाद नेक्स्ट बटन पर क्लिक कर दें. अब आपके रजिस्टर मोबाइल नंबर में यूजर नाम और पासवर्ड आयेगा. उसका उपयोग करके आप इसमें लॉग इन करें.
  • लॉग इन करने के बाद आप इसमें टेंडर प्राप्त करने के लिए बोली लगा सकते हैं.

यह वेबसाइट में सभी चीजें साफ – साफ दी हुई हैं. इस वेबसाइट में जाकर आपको जिस भी जानकारी की आवश्यकता हैं, वह सब कुछ आपको यहीं पर मिल जाएगी.  

जी ई एम में लगने वाले दस्तावेज (Documents)

जी ई एम में रजिस्ट्रेशन करने के लिए आवेदकों को निम्न दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ सकती हैं –

  • पैन कार्ड,
  • आधार कार्ड,
  • उद्योग आधार या एमसीए 21 पंजीकरण,
  • वैट या टिन नंबर,
  • बैंक खाता एवं केवाईसी दस्तावेज जैसे पहचान पत्र, आवासीय प्रमाण पत्र और कौंसिल चेक आदि.

कियोस्क बैंकिंग से आप अच्छी खासी रकम कमा सकते हैं, प्रक्रिया जानने के लिए यहाँ क्लिक करें.

जी ई एम की अब तक कि रिपोर्ट (Report)

यह सरकार द्वारा शुरू किया गया एक ऐसा पोर्टल हैं जहाँ अब तक कम से कम 30 हजार खरीददार के तौर पर रजिस्ट्रेशन कराएँ गये हैं. जबकि 1.60 लाख लोग इसमें विक्रेता एवं सर्विस प्रोवाइडर के रूप में पंजीकृत हैं. इस प्लेटफॉर्म को पहले पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया गया था. लेकिन अब यह पूरे देश में लागू हो चूका है.

तो इस तरह से आप सरकार को सामान बेचकर उनसे अच्छा पैसा कमा सकते हैं इससे देश में रोजगार के अवसरों में वृद्धि भी हुई हैं. और सबसे खास बात इससे सरकार को भी नुकसान का सामना नहीं करना पड़ता है.

एफएक्यू (FAQ’s)

Q : गवर्नमेंट ई मार्केटप्लेस क्या है ?

Ans : गवर्नमेंट ई मार्केटप्लेस एक ऐसा मार्केटप्लेस हैं जहाँ आम उपयोगकर्ता वस्तुओं और सेवाओं की बिक्री एवं खरीद करते हैं.

Q : जी ई एम पोर्टल क्या है ?

Ans : जी ई एम यानि सरकारी ई मार्केटप्लेस सरकार द्वारा चलाया जाने वाला ई – कॉमर्स पोर्टल है. जोकि विभिन्न सरकारी विभागों, संगठनों और सावर्जनिक उपक्रमों द्वारा आवश्यक उपभोक्ता वस्तुओं और सेवाओं की आसान ऑनलाइन खरीद को सुविधानजक बनाने और सक्षम करने में सहायक है.

Q : सरकारी विभाग जी ई एम पोर्टल से कितने की खरीदी कर सकते हैं ?

Ans : सरकारी विभाग जी ई एम पोर्टल से 50 हजार रूपये तक का सामान खरीद सकते हैं.

Q : जी ई एम पर सामान की बिक्री कौन कर सकता है ?

Ans : कोई भी ऐसा विक्रेता जोकि उत्पादन करता है, वह इस पोर्टल में रजिस्टर करके बिक्री कर सकता है.

Q : जी ई एम में रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

Ans : जी ई एम में रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको केवल इसके अधिकारिक पोर्टल में जाना है वहां से इसका फॉर्म भर कर जमा करना है, इससे आपको इसका आईडी एवं पासवर्ड प्राप्त हो जायेगा. 

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *