जीएसटी सुविधा केंद्र कैसे खोलें ?

जीएसटी सुविधा केंद्र कैसे खोलें (How to Open GST Suvidha Kendra Centre, franchise cost, profit in Hindi)

ये तो आप सभी जानते होंगे, कि 2 साल पहले देश भर में जीएसटी यानि गुड्स एवं सर्विस टैक्स लागू किया गया हैं, जोकि सभी टैक्स को एक में जोड़ कर बनाया गया हैं. लेकिन जब से जीएसटी को लाया गया हैं, तब ये इससे संबंधित कुछ समस्याओं को लेकर व्यापारियों, उद्योगपतियों, छोटे कारोबारियों सभी को काफी सारी मुश्किलें हो रही हैं. इन्हीं मुश्किलों को आसान बनाने और पैसे कमाने के लिए कुछ कंपनियों के माध्यम से जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के अवसर सामने आ रहे हैं. जिसे कोई भी व्यक्ति शुरू कर सकता हैं. जीएसटी सुविधा केंद्र से तात्पर्य क्या हैं एवं इसे कैसे खोलकर पैसे कमा सकते हैं यह सभी चीजें आप नीचे कुछ बिन्दुओं पर ध्यान देते हुए देखें.    

GST suvidha kendra

जीएसटी सुविधा केंद्र क्या हैं ? (What is GST Suvidha Kendra ?)

जीएसटी सुविधा केंद्र एक ऐसी जगह है, जहाँ पर लोगों को जीएसटी से संबंधित सेवाएं प्रदान की जाती हैं. इसमें जुड़ने वाले लोग व्यापारी, कारोबारी एवं उद्योगपति आदि होते हैं. इसे जीएसटी सुविधा प्रदान करने वाली कंपनियों के माध्यम से यानि उनसे फ्रैंचाइज़ी लेकर खोला जाता हैं. इसमें आप लोगों की जीएसटी से संबंधित समस्या का हल कर उनसे कुछ शुल्क लेकर कमाई करते हैं.   

जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए पात्रता (GST Suvidha Kendra Eligibility Criteria)

जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए यह जरुरी नहीं हैं, कि आपको जीएसटी पर पीएचडी होना आवश्यक हैं. इसके लिए केवल निम्न पात्रताओं पर खरा उतरना आवश्यक हैं –

  • जीएसटी सुविधा केंद्र ओपन करने के लिए भले ही यह कहा गया हैं, कि यह जरुरी नहीं कि आपको जीएसटी का पूरा ज्ञान हो, लेकिन इसका मतलब यह भी नहीं होता, कि आपको जीएसटी क्या होता हैं यह भी न पता हो. अतः आपका कम से कम ग्रेजुएट या 12 वीं पास होना आवश्यक है.

  • आपको अकाउंट का पूरा ज्ञान होना आवश्यक हैं, तभी आप लोगों को यह सुविधा दे सकेंगे.

जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए लगने वाले आवश्यक चीजें (Some Tools and Equipments Related to GST Suvidha Kendra)

  • जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए आपके पास कम से कम इतनी जगह होनी चहिये, कि आप उस स्थान पर एक ऑफिस खेल सकें. जहाँ पर लोग आपसे इस सुविधा को लेने के लिए आ सकें. इसके लिए आपके पास 100 – 150 वर्ग मीटर की जगह होना काफी हैं.

  • इसके अतिरिक्त आपके पास कुछ उपकरण होने चाहिए, जोकि आपको इस केंद्र में उपयोग करने के लिए चाहिए होंगे. उनमें कंप्यूटर, उसमें कनेक्ट किया हुआ इंटरनेट, प्रिंटर, स्कैनर एवं मोर्फो डिवाइस आदि चीजें आवश्यक हैं.

  • अब जब आप सभी सुविधायें लोगों को प्रदान करेंगे, तो आपको इसे अकेले मैनेज करना थोड़ा मुश्किल हो सकता हैं, अतः आप इसके लिए 1-2 लोगों को रख सकते हैं, जिनको कुछ ज्ञान जैसे डेटा की एंट्री कैसे होती हैं, एवं अकाउंटिंग का काम आदि के बारे में बेसिक चीजें पता होना चाहिए.  

जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के फायदे (GST Suvidha Kendra Benefits)

  • इसका सबसे बड़ा फायदा यह हैं, कि आप इसे अपने खुद के शहर में ओपन कर वहां के लोगों को यह सुविधा प्रदान कर सकते हैं. इसके लिए आपको कहीं बाहर जाने की आवश्यकता भी नहीं हैं.

  • इसमें आपको केवल कुछ उपकरणों को खरीदने के लिए खर्चा करना होगा, इसलिए इस व्यवसाय के माध्यम से आपको पैसे भी काफी अधिक खर्च करने की आवश्यकता नहीं है.

  • इसके अलावा इस सुविधा केंद्र से व्यापारियों को तो सहायता मिलेगी ही, साथ ही इससे आपको भी फायदा होगा, क्योकि आप उनसे इसके बदलें में कुछ शुल्क लेकर कमाई कर सकेंगे.    

जीएसटी सुविधा केंद्र पर दी जाने वाली सेवाएं (GST Suvidha Kendra Services)

  • जीएसटी सुविधा केंद्र में आप लोगों को सबसे पहले तो जीएसटी रिटर्न फाइलिंग करने की सुविधा प्रदान कर सकते हैं, जिसमें लोगों को काफी परेशानियों को फेस करना होता हैं.

  • इसके साथ ही आप लोगों को जीएसटी नम्बर के लिए रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा, एकाउंटिंग एंड बुक कीपिंग, आयकर ऑडिट, उद्योग आधार एवं सीए सर्टिफिकेशन आदि की भी सुविधा प्रदान कर सकते हैं.

  • जीएसटी के अलावा आप कुछ अन्य सुविधा जैसे दस्तावेजों को स्कैन करना, डिजिटल सिग्नेचर बनाना यहां तक कि बिजली बिल का भुगतान करना, पैन कार्ड बनवाना, डीटीएच एवं मोबाइल रिचार्ज करना आदि भी कर सकते हैं.

  • इसके अलावा यह भी ख़बरें आ रही हैं, कि आने वाले समय में इन सुविधा केन्द्रों में रेलवे टिकेट बुकिंग, फ्लाइट टिकेट बुकिंग, यूटिलिटी बिल भुगतान, जनरल इन्सुरांस जैसी कुछ सरकारी वित्तीय सेवाएं को भी शुरू किया जा सकता हैं.  

जीएसटी सुविधा केंद्र शुरू करने के लिए कुल निवेश (GST Suvidha Kendra Investments)

जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए आपको सबसे पहले जगह के लिए निवेश करना होगा, इसके बाद आपको इसमें जो उपकरण चाहिए, होंगे उसे खरीदने का खर्चा करना होगा. और साथ ही यदि आप अपने इस जीएसटी सुविधा केंद्र में कर्मचारियों को रखते हैं, उन्हें वेतन आदि के लिए पैसों का निवेश करना होगा. इसलिए आपको कुल मिलाकर 30 से 40 हजार रूपये तक का खर्चा हो सकता है.  

जीएसटी सुविधा केंद्र से कमाई कितनी और कैसे होगी ? (How to Make and Earn Money from GST Suvidha Kendra)

जीएसटी सुविधा केंद्र में आपको कम निवेश में अधिक कमाई करने का अवसर प्राप्त हो रहा हैं. इसमें आपको कुछ पैसों के निवेश के साथ प्रतिमाह 30,000 रूपये तक का लाभ प्राप्त हो सकता हैं. हालाँकि इसमें आपको पैसे 2 तरीके से मिल सकते हैं, जैसे कि जब आप इसे कंपनी के माध्यम से चलाते हैं, तो इसमें आपको कंपनी से कमीशन के तौर पर पैसे मिलते हैं. और इसके अलावा जब आप इसमें जीएसटी के अलावा कुछ अतिरिक्त सुविधाएँ देकर खुद से इसे चलाते हैं, तो उसके लिए आप अपने ग्राहकों से अतिरिक्त चार्ज ले सकते हैं. कंपनी द्वारा निम्न आधार पर आपको कमीशन प्राप्त हो सकता हैं.

  • यदि लोग आपके पास जीएसटी चालान बनवाने के लिए आते हैं तो कंपनी यह सुविधा देकर उनसे 300 रूपये तक का चार्ज करती हैं. जिसके बदलें में आपको कुछ 30 – 40 % तक का कमीशन मिल सकता हैं.

  • इसी तरह से नये जीएसटी संख्या के लिए रजिस्ट्रेशन कराने के लिए यदि लोग आपके जीएसटी सुविधा केंद्र में आते हैं, तो कंपनी उसके लिए उनसे 750 रूपये तक पैसे प्राप्त कर सकते हैं. और इसमें भी आपको 30 से 40% तक का कमीशन मिल सकता हैं.

  • इसके अलावा डिजिटल सिग्नेचर करवाने पर आप ग्राहकों से 650 रुपये तक चार्ज वसूल सकते हैं. और इसके लिए 20 से 30 प्रतिशत तक का कमीशन आपको मिलेगा.  

जीएसटी सुविधा केंद्र की फ्रैंचाइज़ी कौन सी कंपनियाँ देती हैं ? (Which Company Provides GST Suvidha Kendra ?)

जीएसटीसुविधा केंद्र खोलने के लिए आपको जीएसटी सुविधा प्रोवाइडर की अनुमति लेना होगा. ये कुछ कंपनियां हो सकती हैं, जोकि जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए फ्रैंचाइज़ी प्रदान करती हैं और फिर उसके बाद आपकी कमाई होती हैं. जीएसटी सुविधा प्रोवाइडर जीएसटी नेटवर्क के साथ जुड़ें हुए होते हैं. अब बात आती हैं ये कौन सी कंपनियां हैं. तो आपको बता दें कि सीएससी, वक्रांजी, वीके वेंचर एवं वैनविक टैक सलूशन जैसी कुछ कंपनियां हैं जोकि यह सुविधा प्रदान करती हैं. इसके अलावा कुछ कंपनी ऐसी हैं जोकि पार्टनरशिप में कार्य करती हैं ये कंपनियां मास्टर जीएसटी, बोट्री सॉफ्टवेयर, मास्टर इंडिया और वेप डिजिटल सर्विसेज आदि हैं. ये सभी भी जीएसटी सुविधा केंद्र के लिए फ्रैंचाइज़ी प्रदान करती हैं.

जीएसटी सुविधा केंद्र के लिए अप्लाई कैसे और कहाँ करें (Where and How to to Apply for GST Suvidha Kendra)

जीएसटी सुविधा केंद्र के लिए यदि आप अप्लाई कर पैसे कमाने का अवसर प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप जीएसटी सुविधा केंद्र की फ्रैंचाइज़ी देने वाली किसी भी कंपनी की वेबसाइट में जाकर जीएसटी सुविधा केंद्र ओपन करने के लिए अप्लाई कर सकते हैं. वेबसाइट में विजिट करने के बाद आप जीएसटी सुविधा केंद्र के लिए निम्न तरीके से आवेदन कर सकते हैं –

  • सर्वप्रथम तो आप वेबसाइट में जायें और वहां होम पेज पर ही आपको कुछ विकल्प दिखाई देंगे, जहाँ से आपको कांटेक्ट बटन पर क्लिक करना हैं.

  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक फॉर्म का फॉर्मेट खुलेगा आपको इसे भरना हैं और साथ ही इसमें आपको अपनी कुछ जानकारी के साथ उस एरिया का भी विवरण देना होगा जहाँ पर आप यह केंद्र खोलना चाहते हैं.

  • इसके बाद अंत में आप अपने फॉर्म को सबमिट कर दें. फिर कंपनी के जो एक्सपर्ट होंगे वे आपसे सीधे संपर्क करेंगे. और आपको अप्रूवल देंगे. अप्रूवल देने के बाद वे आपसे लगभग 20 हजार रूपये तक का डिमांड ड्राफ्ट ले सकते हैं, और उसके बदलें में वे आपको इसके लिए कुछ उपकरण एवं प्रशिक्षण प्रदान करेंगे. इस तरह से आपको जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए फ्रैंचाइज़ी प्राप्त हो जाएगी.  

नोट :- जब आप किसी कंपनी की वेबसाइट में जाकर जीएसटी सुविधा केंद्र के लिए अप्लाई करेंगे, तो आपको पहले यह जाँच लेना होगा कि वह कंपनी कोई फ्रॉड कंपनी तो नहीं है. क्योकि कुछ कंपनी आपसे डीडी लेकर भाग भी सकती हैं. इसलिए आप इस पर विशेष ध्यान दें.

यदि आपने कम निवेश के साथ अधिक पैसे कमाने का मन बना लिया है तो आपके लिए यह बिज़नस कभी अधिक फायदेमंद होगा. अतः यदि आप भी इस बिज़नस को करने के लिए योग्य हैं तो इसमें अप्लाई जरुरी करें.

एफएक्यू’स (FAQ’s)

Q : जीएसटी सुविधा केंद्र की आवश्यकता क्यों है ?

Ans : छोटे व्यापारियों, उद्यमों एवं फर्म के लिए जोकि कर दाता होते हैं, उन्हें जीएसटी आने के बाद उसे समझने एवं उसमें रिटर्न भरने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं. और कुछ लोगों को तो यह अभी तक समझ में ही नहीं आया हैं, इसलिए लोगों की इससे संबंधित समस्या के समाधान के लिए कुछ जीएसटी सुविधा केंद्र जैसे प्लेटफॉर्म की आवश्यकता पड़ी. जहाँ से लोगों की परेशानी कम हो सके. 

Q : जीएसटी सुविधा केंद्र कैसे काम करता हैं ?

Ans : जब आपका जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए रजिस्ट्रेशन का काम हो जायेगा, उसके बाद कम्पनी द्वारा इसे चलाने के लिए मार्केटिंग के लिए आपकी मदद की जाएगी. इसके बाद आपको जीएसटी में पंजीकरण करने वाले लोगों को ढूँढना होगा. जब आप अपने ग्राहकों को सेवा प्रदान करेंगे या उसके बारे में जानकारी देंगे, तो यह आवश्यक नहीं है कि आपको जीएसटी या टैक्स के बारे में सब कुछ पता होना चाहिए. बस आपको इसके लिए बेसिक ज्ञान होना आवश्यक हैं. इसके साथ ही कंपनी ग्राहकों को सेवा प्रदान करने के बाद उनसे कुछ शुल्क प्राप्त करती और इसका कमीशन आपको प्राप्त होता हैं.  

Q : जीएसटी सुविधा केंद्र भारत में सबसे बड़ा कमाई का अवसर क्यों है ?

Ans : जीएसटी सुविधा केंद्र खोलकर ग्राहकों को कई सारी सेवाएं प्रदान की जाएगी. इससे ज्यादा से ज्यादा लोग आपके पास आएंगे. और आप उनसे कुछ प्रतिमाह की निश्चित राशि लेकर कमाई कर सकते हैं. इसके लिए जितने ज्यादा क्लाइंट आपसे जुड़ेंगे और आप उन्हें विभिन्न सेवाएं प्रदान करेंगे, तब तक आपकी उतनी ही अधिक कमाई होगी. इसलिए यह भारत में सबसे बड़ा कमाई का अवसर हो सकता हैं. 

Q : जीएसटी सुविधा केंद्र के माध्यम से कितनी कमाई की जा सकती हैं ?

Ans : जीएसटी सुविधा केंद्र की फ्रैंचाइज़ी लेने के बाद इसे शुरू करने पर आपकी लगभग 30 हजार रूपये तक की कमाई हो सकती है.

Q : जीएसपी (जीएसटी सुविधा प्रदाता) क्या है ?

Ans : जीएसटी सुविधा प्रदाता (प्रोवाइडर) यानि जीएसपी वह कंपनियां होती हैं, जोकि लोगों को जीएसटी सुविधा केंद्र शुरू करने के लिए फ्रैंचाइज़ी प्रदान करती हैं.

Q : क्या जीएसटी सुविधा केंद्र प्रॉफिटेबल है ?

Ans : जी हां बिलकुल, क्योकि इसमें बहुत ही लघु निवेश के साथ प्रतिमाह कभी अधिक कमाई हो सकती हैं जोकि एक मुनाफे का सौदा हो सकता हैं.

अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!