हार्डवेयर की दुकान (शॉप) शुरू कैसे करें 2021| How to Start Hardware Shop business plan In Hindi

हार्डवेयर की दुकान (Shop) शुरू कैसे करें, क्या है, महत्वपूर्ण जानकारी, हार्डवेयर के व्यापार से पैसे कैसे कमाए, सामान, प्रोडक्ट लिस्ट, निवेश, लाभ, जोखिम (How to Start Hardware Store or Shop Business Plan in Hindi) (Kaise Khole, Material, Item, List, Investment, Profit, Risk, License)

हार्डवेयर की दुकान भी अन्य तरह की दुकानों जैसी होती है और इस प्रकार की दुकान के जरिए हार्डवेयर की चीजें ग्राहकों को बेची जाती हैं. किसी भी प्रकार की दुकान खोलने से पहले आपको उस दुकान के जरिए बेचे जाने वाले सामान के बारे में सही से जानकारी होना जरूरी हैं. इसी तरह से अगर आप हार्डवेयर की दुकान खोलते हैं, तो आपको इस दुकान के जरिए बेचे जाने वाले हर सामान के बारे में अच्छे से पता होना चाहिए. जैसे कि हार्डवेयर की दुकान के जरिए कौन से सामान बेचे जाते हैं और इन सामानों का इस्तेमाल किन चीजों के लिए होता है.

Hardware Shop business plan

Table of Contents

हार्डवेयर की दुकान कैसे खोलें (Hardware Shop Business)

इस बिज़नेस को शुर करने के लिए आपको निम्न सभी चीजों की आवश्यकता होगी. जिनकी हम आपको स्टेप बाय स्टेप देने जा रहे हैं.

हार्डवेयर के अंतर्गत आने वाले सामान (Material, Products List)

हार्डवेयर के अंतर्गत कई तरह के सामान आते हैं और इन सामानों का इस्तेमाल विभिन्न कार्यों के लिए किया जाता है. चेन, रस्सी, स्टेपल, तार, पेच, पाइप, अलग-अलग प्रकार के हथोड़े, कील, प्‍लास, टेप और इत्यादि हार्डवेयर के सामान होते हैं, जिनका इस्तेमाल, कारपेंटर, मैकेनिक, घर बनाने वाले मिस्त्री द्वारा अधिक किया जाता है. आप जब अपने हार्डवेयर की दुकान खोलें , तो केवल उन्हीं हार्यवेयर के सामानों को शुरू में खरीद कर बेचें, जिनकी मांग अधिक रहती है और साथ में ही जिन पर आपको अधिक मुनाफा भी मिल सके. वहीं जब एक बार आपकी दुकान अच्छे से चलने लगे तो आप अन्य हार्डवेयर के सामानों को भी खरीद कर बेच सकते हैं.

कौन खोल सकता है हार्डवेयर स्टोर (Who is Eligible)

अगर आपको हार्डवेयर के सामानों के बारे में जानकारी है और आपकी रूचि इन सामानों को बेचने में है, तो ही आप इस स्टोर को खोले. क्योंकि इन सामानों की जानकारी ना होने पर इन सामानों को खरीदने में और बेचने में आपको काफी दिक्कत होगी. 

कौशल और अनुभव (Skills and Experiences)

हार्डवेयर की दुकान खोलने के लिए किसी भी प्रकार की डिग्री की जरूरत नहीं है. आपको बस ये पता होना चाहिए की हार्डवेयर के सामानों को किस तरह से रखा जाता है और इन सामानों का इस्तेमाल किन कार्यों के लिए किया जाता है. वहीं अगर आपके पास इन सामानों से जुड़ा किसी भी प्रकार का अनुभव नहीं है तो आप किसी हार्डवेयर की दुकान में कार्य करके ये अनुभव हासिल कर सकते हैं.

व्यापार की वृद्धि (Growth Potential)

एक बार जब आपकी दुकान अच्छे से स्थापित हो जाए तो आप अपनी दुकान की फ्रेंचाइजी देना भी शुरू कर सकते हैं. फ्रेंचाइजी देने से ना केवल आपके स्टोर की ब्रांड वैल्यू बढ़ेगी, बल्कि साथ में ही आप अपने स्टोर की फ्रेंचाइजी देकर भी पैसे कमा सकेंगे.

हार्डवेयर की दुकान खोलने प्रक्रिया (Process to Start Hardware Shop)

हार्डवेयर की दुकान खोलने के लिए आपको किसी दुकान को किराए पर लेना होगा और उस दुकान में हार्डवेयर के सामानों को रखने के लिए जगह भी बनवानी होगी. जगह बनाने के बाद आपको कई प्रकार के हार्डवेयर के सामानों को किसी थोक व्यापारी से खरीदाना होगा. 

स्थान का चयन (Place)

  • किसी भी प्रकार का स्टोर खोलने में स्थान एक महत्वपूर्ण भूमिका रखता है, क्योंकि अगर आप किसी ऐसी जगह पर अपनी हार्डवेयर की दुकान खोल लेते हैं, जहां पर अधिक आबादी नहीं है और ना ही हार्डवेयर का सामान ज्यादा लोगों द्वारा खरीदा जाता है, तो आपको केवल नुकसान ही होगा.
  • आपको हार्डवेयर का स्टोर ऐसे स्थान पर खोलना होगा जो कि भीड़ भाड़ वाली जगह पर हो. इसके अलावा अगर आपकी दुकान किसी बड़े रोड या फिर किसी प्रसिद्ध मार्केट के पास होगा, तो ज्यादा बेहतर होगा. क्योंकि ऐसा होने से ज्यादा से ज्यादा लोग आपकी दुकान से सामान खरीद पाएंगे.

कितनी बड़ी होनी चाहिए दुकान (Area)

हार्डवेयर की दुकान में कई तरह के सामान रखे जाते हैं, जिसमें से कुछ सामान थोड़ी जगह घेरते हैं, तो कुछ सामानों को रखने के लिए अधिक जगह की जरूरत पड़ती है. इसलिए आप जिस दुकान का चयन अपने हार्डवेयर स्टोर को खोलने के लिए करें वो दुकान बड़ी होनी चाहिए, ताकि आपको पाइप और सीढ़ी, जैसे हार्डवेयर सामानों को रखने में कोई दिक्कत ना हो.

स्टोर का निर्माण (Construction)

दुकान का चयन कर लेने के बाद, आपको उस दुकान में कई चीजों का निर्माण भी करवाना होगा. जैसे कि दुकान के अंदर आपको हार्डवेयर के सामान को रखने के लिए कैबन बनाने होंगे, साथ में ही आपको, हार्डवेयर के सामानों को रखने के लिए एक स्टोर की जरूरत भी पड़ेगी, वहीं पाइप जैसे सामनों को रखने के लिए आपको खुली जगह चाहिए होगी.

स्टोर के नाम का चयन

  • आपको अपनी हार्डवेयर की दुकान का एक नाम भी रखना होगा और उसी नाम से आपकी दुकान को जाना जाएगा. इसलिए सोच समझ कर ही अपनी हार्डवेयर की दुकान का नाम आप रखें.
  • आप अपनी दुकान के जरिए हार्डवेयर का सामान बेच रहे हैं तो आपको अपने इस स्टोर का नाम कुछ ऐसा रखना होगा, जिसको पढ़ते ही समझ आ जाए की आपके द्वारा इस स्टोर में हार्डवेयर का सामना बेचा जाता है.
  • एक बार जब आप अपने स्टोर का नाम तय कर लें, तो आपको अपनी दुकान के नाम का एक बोर्ड भी बनवाना होगा और इस बोर्ड को अपनी दुकान के ऊपर लगाना होगा. इस बोर्ड पर आपकी दुकान के नाम के अलावा आपकी दुकान का पता और फोन नंबर जैसी इत्यादि चीजें भी लिखवानी होंगी.

कहां से हार्डवेयर का सामान खरीदें (Buying Hardware Products)

हार्डवेयर की दुकान को शुरू करते वक्त आपको कई प्रकार के हार्डवेयर सामानों को खरीदना होगा और आप ये सामान इनको बनाने वाले किसी व्यापारी से सीधे तौर पर खरीद सकते है या फिर इनको बेचने वाले किसी थोक विक्रेता से इन्हें खरीद सकते हैं. कोशिश करें कि आप ये सामान किसी एक थोक विक्रेता से खरीदने से पहले चार पांच विक्रेता से भी मिल लें और जिस थोक विक्रेता द्वारा ये सामान कम दामों में आपको बेचा जाए, आप उससे इन सामानों को खरीद लें. साथ ही आप केवल एक ही थोक व्यापारी पर निर्भर ना रहें और अन्य थोक विक्रेताओं से भी समय समय पर सामान खरीदते रहें.

आपको इस लिंक पर जाकर dir.indiamart.com/हार्डवेयर बेचने वाले कई विक्रेताओं से संपर्क कर सकेंगे और उन से सामान भी ले सकेंगे.

हार्डवेयर की दुकान खोलने के लिए बिजनेस प्लान तैयार करें (Business Plan for Hardware Shop)

हार्डवेयर दुकान शुरू करने से पहले आपको इस स्टोर को खोलने से जुड़ा हुआ एक बिजनेस प्लान भी तैयार करना होगा और उस बिजनेस प्लान में आपको हार्डवेयर दुकान को खोलने में आनेवाला खर्चा, कहां से हार्डवेयर का सामान खरीदा जाए, आपका लक्षित बाजार या ग्राहक कौन हैं और इत्यादि जैसी चीजों की जानकारी लिखनी होगी. इसके अलावा आप अपने शहर की किसी हाईवेयर की दुकान में जाकर भी देख सकते हैं कि किस तरह से उस दुकान को बनाया गया है और क्या क्या सामान उस दुकान के जरिए बेचे जा रहे हैं.

आवश्यक परमिट और लाइसेंस प्राप्त करें (State & Local Business Licensing Requirements)

आप जिस राज्य में अपनी हार्डवेयर की दुकान खोल रहे हैं आपको उस राज्य की स्थानीय नगर पालिका से अपनी दुकान को शुरू करने से पहले लाइसेंस  प्राप्त करना होगा और साथ में ही अपनी दुकान को भारतीय दुकान और स्थापना अधिनियम के तहत पंजीकृत भी करवाना होगा. वहीं अगर आपको लाइसेंस लेने की प्रक्रिया के बारे में जानकारी नहीं है तो आप किसी वकील से मदद ले सकते हैं.

आयकर के लिए रजिस्टर करवाएं (Register For Taxes) –

अपनी दुकान को शुरू करने से पहले आपको आयकर भरने से जुड़े हुए सभी प्रकार के पंजीकरण भी करवाने होंगे. वहीं अगर आपको आयकर किस तरह से भरा जाता है और इससे जुड़े हुए पंजीकरण कैसे करवाए जाते है. इसके बारे में जानकारी नहीं है तो आप किसी चार्टर्ड एकाउंटेंट की सहायता ले सकते हैं. याद रहे कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाना हर दुकानदार के लिए अनिवार्य है और आप इसे जरूर करवा लें और अपना जीएसटी नंबर ले लें.

व्यापार बीमा प्राप्त करना (Business Insurance)

अपनी हार्डवेयर की दुकान को शुरू करने से पहले, आप इस दुकान का इन्शुरेंस  भी जरूर करवा लें, ताकि अगर किसी कारण से आपकी दुकान का कोई नुकसान हो जाए, तो आप बीमा की राशि की मदद से अपने नुकसान को कम कर सकें.

बाजार में कई ऐसी बीमा कंपनियां हैं जो कि व्यापार बीमा करती हैं, इसलिए आप अपनी दुकान का बीमा करवाने से पहले, व्यापार बीमा करवाने वाली चार पांच कंपनियों द्वारा कितना बीमा क्लेम दिया जा रहे, इसकी तुलना कर लें. और जो कंपनी अधिक बीमा क्लेम दे रही हो उससे अपनी दुकान का बीमा करवा लें.

लोगों का चयन (Selection Process)

हार्डवेयर की दुकान में बेचे जाने वाला सामान काफी भारी होता है और इन सामानों को संभालना भी काफी मुश्किल होता है. इसलिए आप केवल उन्हीं  लोगों को नौकरी पर रखें, जो कि हार्डवेयर के सामानों को अच्छे से संभाल सकें.  और उन्हें रस्सी के आकार, रस्सी कितने प्रकार की होती है, ये कितने साइज में आती है, किस तरह की रस्सी का इस्तेमाल किस कार्य के लिए किया जाता है, पाइप को किस तरह से काटा जाता है और इत्यादि जैसी चीजों की जानकारी हो.

बजट और अन्य खर्चे (Cost)

  • हार्डवेयर की सामान्य दुकान खोलने में आपको कम से कम दो लाख रुपए का खर्चा आ सकता है. वहीं अगर आप काफी बड़ी दुकान खोलते हैं तो ये खर्चा चार लाख रुपए तक आ सकता है.
  • साथ ही में जब आपकी हार्डवेयर की दुकान शुरू हो जाएगी तो आपको कई तरह के अन्य खर्चे भी समय समय पर उठाने पड़ेंगे, जैसे कि दुकान का किराया, दुकान की बिजली का खर्चा, कर्मचारियों की आय और इत्यादि. इसलिए आप इन खर्चों को भी अपने बजट में जोड़ लें. ताकि जब आप दुकान शुरू करें तो आपके द्वारा निर्धारित किया गया बजट कम ना पड़े.

हार्डवेयर दूकान में मुनाफा (Profit in Hardware Store)

हर उत्पाद की बिक्री पर अलग अलग प्रॉफिट मार्जिन कंपनियों द्वारा दिया जाता है और ये प्रॉफिट मार्जिन किन्हीं उत्पादों पर ज्यादा होता है और किन्ही उत्पादों पर कम दिया जाता है और इन उत्पादों पर मिलने वाला ये प्रॉफिट ही आपकी इनकम होगी.

कैसे कमाएं अधिक मुनाफा (How store make money)

  1. लोगों से करें संपर्क–  हार्डवेयर की दुकान पर कई प्रकार के टूल, बेचे जाते हैं और इन टूल का सबसे अधिक इस्तेमाल कारपेंटर, पेंटरों और मिस्त्री द्वारा किया जाते हैं, इसलिए अगर आप अपने सामान की अधिक बिक्री करना चाहते हैं, तो आप अपने एरिया के कारपेंटर और जो लोगों घर बनाने का कार्य करते हैं, उनसे संपर्क में रहें,. ताकि अगर उनको कभी भी इस प्रकार के सामान की जरूरत पड़े तो वो आप से ही इन्हें खरीदें, वहीं आप इन्हें ये सामान बेच कर पैसे कमा पाएं.
  2. वेबसाइट के जरिए – आजकल अधिकतर लोगों द्वारा वेबसाइट के जरिए ही शॉपिंग की जाती है और ऐसे में अगर आप भी वेबसाइट के साथ अपने व्यापार को जोड़ लेंगे, तो आप अधिक से अधिक ग्राहकों तक अपना सामान पंहुचा सकेंगे. वहीं आप अपने दुकान के जरिए बेचे जाने वाले हार्डवेयर के सामानों को अपनी खुद की वेबसाइट शुरू करके भी बेच सकते हैं या फिर किसी अन्य शॉपिंग वेबसाइट के जरिए भी अपने हार्डवेयर के सामान को बेच सकते हैं.
  3. विज्ञापन के जरिए- ग्राहकों तक अपनी दुकान के बारे में जानकारी पहुंचाने के लिए, आप लोकल अखबार में अपने दुकान का विज्ञापन दे सकते हैं या फिर अपनी दुकान का बोर्ड सड़कों के किनारे भी लगा सकते हैं.

हार्डवेयर की दुकान को खोलने से जुड़ी अन्य महत्वपूर्ण जानकारी

  • अपने व्यापार के वित्तीय खर्चे का हिसाब रखना भी काफी जरूरी होता है, इसलिए आप अपनी महीने की कमाई, खर्चे और आयकर का रिकॉर्ड जरूर बनाकर रखें. ताकि आपको पता चल सके की आपके व्यापार में आपको कितना मुनाफा हो रहा है.
  • आप दुकान में बेचे जाने वाले सब सामानों की सूची कंप्यूटर में भी भर के रख लें. कंप्यूटर में सामानों की सूची होने से आपको आसानी से पता चल सकेगा कि किस सामान का कितना स्टॉक आपकी दुकान में बचा हुआ है, कौन सा सामान खत्म होने वाला है और किस सामान की बिक्री ज्यादा हुई है.
  • अपने हार्डवेयर स्टोर के जरिए आप जो सामान बेचना चाहते हैं उसका चयन सोच समझ कर करें और केवल उन्हीं हार्डवेयर सामानों को बेचे जिनमें आपको अधिक मुनाफा मिले और जो जल्दी से बिक भी जाएं.
  • हार्डवेयर के कई ऐसे सामान होते हैं जिनपर एमआरपी नहीं लिखती होती है और इसलिए आप इन सामानों को थोड़े से उच्च दामों में भी बेच सकते हैं.
  • जिस क्षेत्र में आप ये स्टोर खोलने वाले हैं, उस क्षेत्र में पहले से कितने हार्डवेयर के स्टोर मौजूद है आप ये पता कर लें. साथ ही इन स्टोर द्वारा कौन सा सामान कितने में बेचा जा रहा है ये भी पता कर लें और हो सके तो आप अपने हार्डवेयर का सामान, इन दुकानों पर बिकने वाले सामानों के मूल्य से कम में बेचे. ताकि ज्यादा से ज्यादा ग्राहक आप से जुड़ सकें.

हार्डवेयर की दुकान के जरिए आप कई तरह का सामान बेच सकते हैं और हार्डवेयर के सामानों की मांग भी काफी रहती है. इसलिए इस व्यापार में नुकसान होने की संभावना भी कम बनी रहती है और आप इस व्यापार को बिना किसी डर के शुरू कर सकते हैं.

अन्य पढ़े:

Latest articles

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here