घर के मसालों का व्यापार कैसे करें | How to Start Homemade Spice Business Plan in hindi

घर के मसालों का व्यापार कैसे करें, बनाने की विधि, तरीका, कैसे बनाएं (How to Start Spice Making Business, Homemade, Project Report, Machine, Process, Cost, Traning, Course, Plant, Formula in Hindi)

मसाला रोज काम आने वाली वस्तु है. किसी भी लजीज खाने के लिए सही मसाले का सही मात्रा में होना अतिआवश्यक है. देश के सभी घर में तरह तरह के मसाले पाए जाते हैं. चूँकि मसाला तैयार करना एक तरह की प्रक्रिया है, अतः इसे हर घर में तैयार नहीं किया जा सकता है. इस वजह से कई लोग मसाला व्यापार की सहायता से अच्छा खासा लाभ कमाते हैं. आप भी होम मेड मसाले का व्यापार करके बाज़ार में बेच कर अच्छा लाभ कमा सकते हैं. यहाँ पर इस व्यापार से सम्बंधित सभी विशेष जानकारियां दी जा रही है. इसी तरह आप घर में रह कर घर में ज्वेलरी बनाने का व्यापार भी शुरू कर सकते है.

घर के मसाले बनाने के लिए रॉ मटेरियल (Raw Material)

इस व्यापार के लिये रॉ मटेरियल के रूप में केवल वही कच्चे मसाले लगते हैं, जिसकी सहायता से आप व्यापार करना चाहते हैं. आम तौर पर इस व्यापार के लिए आवश्यक रॉ मटेरियल हल्दी, काली मिर्च, सूखी मिर्ची, जीरा, धनिया आदि है.

मसाले बनाने के लिए क़ीमत (Masala Price):

ऊपर दिए गये मसाले की कीमतों का ब्योरा निम्नलिखित है.

  • सूखी हल्दी : 145 रूपए प्रति किलोग्राम
  • काली मिर्च : 500 रूपए प्रति किलोग्राम
  • सूखी मीर्च : 130 रूपए प्रति किलोग्राम
  • जीरा : 200 रूपए प्रति किलोग्राम
  • धनिया : 150 रूपए प्रति किलोग्राम
homemade spices

घर के मसाले बनाने के लिए मशीनरी (Homemade Spices Making Machinery) 

इस उद्योग के लिए कुछ विशेष मशीनो की आवश्यकता होती है; जिसकी सहायता से अपने मसाले की क्वालिटी मेंटेन की जा सकती है. यहाँ पर इस मशीन का वर्णन किया जा रहा है.

  • क्लीनर: इस मशीन की सहायता से मसाले के रॉ मटेरियल से कंकड़ पत्थर साफ़ किये जाते हैं.
  • ड्रायर: ड्रायर का प्रयोग करके मसाले को सुखाया जाता है.
  • ग्राइंडिंग: इस मशीन की सहायता से कम मेहनत से मसाला पीसा जाता है.
  • पॉवर ग्रेडर: यह मशीन बारीक पाउडर को नीचे और मसाले के मोटे पाउडर को ऊपर करने का कार्य करता है.
  • बैग सीलिंग मशीन; इस मशीन की सहायता से मसाले की पैकिंग की जाती है.

घर के मसाले बनाने के लिए मशीनरी की क़ीमत (Spices Making Machinery) :

इस पूरे मशीन की सेट अप के लिए लगभग 4 लाख रूपए तक की लागत आती है.

कहाँ से खरीदें : आप होलसेल पर या ऑनलाइन माध्यम से मसाले और मशीन नीचे दिए गये लिंक पर जाकर ख़रीद सकते हैं.

  • https://www.indiamart.com/

घर के मसाले बनाने की प्रक्रिया (Homemade Spice Making Process)

अक्सर घरों में वैसे मसालों का प्रयोग होता है, जो मशीन मे पीसे गये होते हैं. हालाँकि यदि मशीन से बनाए गये मसाले की जगह पर यदि हाथ से तैयार मसाले का विकल्प प्राप्त हो तो लोग हाथ वाले मसाले की लेना पसंद करते हैं. इससे सबसे बड़ा फायदा ये होता है कि हाथ से तैयार किए गये मसाले से सब्जी काफ़ी अधिक स्वादिष्ट होती है. और साथ ही हाथ से तैयार किये गए मसाले अपेक्षाकृत अधिक पौष्टिक होते हैं.

  • सबसे पहले आपको उन सभी मसालों को होलसेल में खरीदना होता है, जिसका प्रयोग आप अपने व्यापार में करना चाहते हैं.
  • इन मसालों को अच्छी तरह से साफ़ करके धुप में सूखाने की आवश्यकता होती है.
  • इसके बाद ओखल की सहायता से कूट कर बारीक किया जाता है.

घर के मसाले के व्यापार के लिए लागत (Cost)

हाथ से बनाए गये मसाले का व्यापार करने के लिए बहुत अधिक पूँजी की आवश्यकता नहीं होती है. सबसे अच्छी बात ये है कि आपको मशीन के लिए पैसे खर्च नहीं करने पड़ते हैं. मशीन न खरीदने की वजह से आपका एक अच्छा ख़ासा पैसा बच जाता है. आपको व्यापार के आरम्भ करने के लिए रॉ मटेरियल पर खर्च करने की आवश्यकता होती है. इसके अलावा आपको इसके पैकेजिंग और पंजीकरण पर खर्च करना होता है. इस तरह से इस व्यापार का लागत पूर्णतया आप पर निर्भर करता है कि आप कितने रूपए से व्यापार आरम्भ करना चाहते हैं. आमतौर पर यह व्यापार 20,000 से 30,000 रूपए के अन्दर शुरू किया जा सकता है.

घर के मसाले के व्यापार में लाभ (Profit)

घर के मसाले को आप प्रति पैकेट 40 से 50 रूपये में बेच सकते हैं. जिससे आपको प्रति पैकेट 20 से 30 रूपये तक की कमाई होगी. यदि यह आप थोक में बेचेंगे तो आपको इससे कम से कम 50 हजार से 70 हजार रूपये तक प्रतिमाह कमा सकते हैं. हालाँकि आपको इस बिज़नेस में कितना लाभ होगा यह आपके मसाले कि क्वालिटी पर ही निर्भर करेगा. यदि लोगों को ये पसंद आता है तो आप खुद की ब्रांड के साथ इस बिज़नेस को करके लाखों का मुनाफा कम सकते हैं.

घर के मसाले के व्यापार के लिए स्थान (Required Place)

चूँकि यह व्यापार घर से किया जा सकता है. अतः आपके पास उचित स्थान होना आवश्यक है. आपको अपने मसाले सुखाने के लिए, पीसने के लिए और पैकेजिंग के लिए स्थान चाहिए. मसाला पीस कर पैकेट बनाने के लिए कम से कम 120 से 150 वर्ग मीटर स्थान की आवश्यकता होती है.

घर के मसाले की पैकेजिंग (Packaging)

मसाले के पैकेजिंग पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है. आप चाहे तो अपने मसाले के लिए पैकेट अथवा डिब्बे का प्रयोग कर सकते हैं. आप इन पैकेट पर अपने ब्रांड का स्टीकर लगाएं तो काफ़ी कारगर होगा. इससे आपके प्रोडक्ट की एक विशेष पहचान बनेगी. आप पैकेजिंग के लिए प्रयोग में लाने वाले प्लास्टिक पैकेट बाज़ार से प्राप्त कर सकते हैं.   

घर के मसाले के व्यापार की मार्केटिंग (Marketing)

इस व्यापार की मार्केटिंग कई स्तर पर की जा सकती है. आप चाहें तो एक होलसेलर अथवा एक खुदरा विक्रेता के तौर पर व्यापार कर सकते हैं. आप मसाला बाज़ार के दुकानों से बात करके अपना प्रोडक्ट बेहद आसानी से होलसेल की क़ीमत पर बेच सकते हैं. यदि आप अपने मसाले के छोटे छोटे पैकेट बनाते हैं, तो आप बेहद आसानी से शहर के विभिन्न किराना स्टोर में भी इसका व्यापार कर सकते हैं. आप औसत कंपनियों से आर्डर लेकर भी यह व्यापार बड़े आसानी से कर सकते हैं.   

घर के मसाले के व्यापार का पंजीकरण (Registration)

यह व्यापार एक खाद्य व्यापार है, अतः इसके लिए आवश्यक पंजीकरण कराना अनिवार्य है. आपको सबसे पहले अपना फर्म उद्योग आधार अथवा एमएसएमई के अंतर्गत कराना होता है. इसके बाद आपको सरकार के खाद्य विभाग से fssai लाइसेंस प्राप्त करने की आवश्यकता होती है. इस लाइसेंस से आपके मसाले पर शुद्धता सम्बंधित सवाल नहीं उठेंगे. यदि आप व्यापार बड़े पैमाने पर करना चाहते हैं, तो आपको अपने फर्म का पंजीकरण प्रोप्रिएटरशिप अथवा पार्टनरशिप के अंतर्गत भी कराना पड़ता है. साथ ही अपने ट्रेडमार्क पर आईएसआई लाइसेंस प्राप्त करने की आवश्यकता होती है. आपको आपके फर्म के नाम पर किसी बैंक में एक करंट अकाउंट बनाने की आवश्यकता होती है.

घर के मसाले के व्यापार में रिस्क (Risk)

घर कर मसाले के व्यापार में थोड़ा रिस्क हो सकता है क्योंकि मसाले एक समय के बाद ख़राब भी हो जाते हैं, यदि ये जल्द से जल्द बिक जाते हैं तो बेहतर हैं नहीं तो आपको इससे जोखिम उठाना पड़ सकता है. इसलिए मसाले का स्टॉक तैयार करते समय इस बात का ध्यान रखना बेहतर है.

इस तरह से आप एक लम्बे समय तक का व्यापार अपने घर पर ही आरम्भ कर सकते हैं और बेहतर लाभ कमा सकते हैं.

FAQ

Q : घर पर मसाले कैसे बनाएं ?

Ans : घर मसाले बनाने के लिए आपको खड़े मसाले को कूट कर बना सकते हैं. इसके लिए मशीनें भी आती है.

Q : घर पर मसाले बनाने के व्यवसाय में मशीन की कीमत क्या है ?

Ans : 4 लाख रूपये.

Q : घर के मसाले बनाने में कितनी लागत लगेगी ?

Ans : कम से कम 20 से 30 हजार रूपये.

Q : घर के मसाले बनाने के व्यवसाय में कितना मुनाफा होता है ?

Ans : लगभग 50 हजार रूपये तक.

Q : घर के मसाले बनाने के व्यवसाय में कौन – कौन सी मशीनों की आवश्यकता होगी ?

Ans : क्लीनर, ड्रायर, ग्राइंडिंग, पॉवर ग्रेडर, बैग सीलिंग मशीन आदि.

Q : घर के मसाले बनाने के व्यवसाय मशीनें कहाँ से खरीदें ?

Ans : इंडियामार्ट नामक ऑनलाइन वेबसाइट से खरीद सकते हैं.

अन्य पढ़ें –

9 comments

  1. कमलेश सारवान

    अच्छे किस्म की सस्ती मशीन मसाला उद्योग लगाने के लिए कहां से प्राप्त होगी

  2. मुझे मिची धनिया हल्दी की पिलाई मशीन लेना उसकी जानकारी चाहिये

    • फूल ऑटो मसाला मसीन लेना है कितने की पड़ेगी जगह कितनी लगेगी रो मटेरियल कहाँ मिलेगा कुटेसन चाहिय

  3. BHAI ME TO SABI KO EK HI RAAY DUNGA JIN KE PASS PAISE KI KAMI HAI VO PAHLE GHAR SE SRU KARE OR HAATH SE HI MSALE PISKE BECHE

  4. फूल ऑटो मसाला मसीन लेना है कितने की पड़ेगी जगह कितनी लगेगी रो मटेरियल कहाँ मिलेगा कुटेसन चाहिय

  5. Hame mSala udyog lgana hai ,iske liye masino ki jankari deve,please

  6. Thanks for idea.! Can you tell me , machine which grind all spice like Red Chillies , Turmeric ,Corriander ,etc.also where it is available? And price approximately.

  7. masala brand process and cost

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *