Sunday , November 18 2018

कियोस्क बैंकिंग  क्या होती है और कैसे शुरू करें

कियोस्क बैंकिंग  क्या होती है और ये बैंकिंग कैसे शुरू करें  (How To Start Kiosk Banking, Business commission, registration process In Hindi)

अभी तक हमने आपको ग्राहक सेवा केंद्र से सम्बंधित बहुत तरह के व्यापर के बारे में बताया है, जैसे कि बैंक मित्र कैसे बने या फिर किसी पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी कैसे प्राप्त करें. इसी तरह के एक और व्यापार के बारे में आज आपको बताने जा रहे है, जो कि आप अपने गाँव या शहर पर खोल कर सेवा प्रदान कर सकते हैं.

कियोस्क बैंकिंग क्या है  (What Is Kiosk Banking)

कियोस्क एक छोटा सा इंटरनेट सक्षम बूथ हैं जिसके जरिए ग्राहक, बैंक से जुड़े कई सारे कार्य कर सकते हैं. हमारे देश के बैंकों द्वारा कई इलाकों में कियोस्क खोले जा रहे हैं. ताकि लोग बिना बैंक की शाखा जाए, आसानी से अपने बैंक का काम इनके माध्यम से कर सकें.

कियोस्क मशीन एटीएम मशीन की तरह ही होती है, लेकिन जहां एटीएम मशीन से केवल पैसे ही निकाले जा सकते हैं, वहीं कियोस्क मशीन से पैसे निकालने के अलावा उसके माध्यम से पैसे जमा भी करवाए जा सकते हैं और पैसे दूसरे किसी अकाउंट में भी भेजे जा सकते हैं.

Kiosk Banking Business

कियोस्क बैंकिंग के माध्यम से कैसे काम किया जाता है (How Kiosk Banking Works)

  • जिन लोगों द्वारा भी कियोस्क खोले जाएंगे, उन्हें लोगों से नो फ्रिल्स सेविंग्स बैंक अकाउंट्स (बिना कोई रुपए जमा करवाए) खुलवाना होगा. ऐसा करने के लिए उन्हें लोगों की फोटो और उनके फिंगर प्रिंट लेने होंगे और इन सभी जानकारी को संबंधित बैंक के पास भेजना होगा. वहीं जब बैंक द्वारा ये खाता खोल दिया जाएगा, तो खाता खुलवाने वाला व्यक्ति कियोस्क शाखा के जरिए अपने पैसे जमा कर सकेंगा, निकलवा सकेंगा और बैंक से जुड़े अन्य प्रकार के कार्य कर सकेंगा.
  • कियोस्क बैंकिंग के तहत खाते में अधिकतम 50,000 रुपये ही जमा करवाए जा सकते हैं और 10,000 रुपये तक का ही दैनिक लेनदेन किया जा सकता है. इसलिए अगर किसी ग्राहक को 50,000 रुपये से अधिक पैसे जमा करवाने होंगे, तो उसे बैंक की शाखा जाना होगा और इसी तरह से अगर उन्हें 10 हजार से ज्यादा पैसे निकलवाने होंगे, तब भी उनको बैंक की शाखा का रुख करना होगा.

कौन खोल सकता है कियोस्क बैंकिंग (Eligibility Criteria for Kiosk Banking Business)

  • जिन लोगों द्वारा ग्राहक सेवा केंद्र खोले गए हैं वो लोग आसानी से कियोस्क बैंकिंग की सेवा अपने केंद्र से शुरू कर सकते हैं. दरअसल कई बैंक भारत सरकार द्वारा शुरू की गई ग्राहक सेवा केंद्र योजना के साथ जुड़ गए हैं और इन केंद्र में कियोस्क की सेवाएं दे रहे हैं. वहीं जो लोग बैंक मित्र नहीं हैं उन्हें निराश होने की जरूरत नहीं हैं क्योंकि कोई भी व्यक्ति कियोस्क बैंकिंग लेने के लिए आवेदन कर सकता है.
  • हालांकि कियोस्क बैंकिंग खोलने के लिए केवल वो ही व्यक्ति अप्लाई कर सकते हैं जिनकी आयु कम से कम 18 वर्ष की है और जिन्होंने न्यूनतम 12 वीं कक्षा तक की पढ़ाई कर रखी है. इसके अलावा उस व्यक्ति के पास 100 से 200 वर्ग फीट की जगह भी होनी चाहिए और साथ में ही कंप्यूटक, प्रिंटर और नेट की सुविधा भी होनी चाहिए.

किन जगहों पर शुरू की जा सकती है कियोस्क बैंकिंग (Location required)

इस प्रकार की बैंकिंग को शुरू करने का मकसद उन जगहों तक बैंकों की सुविधा पहुंचाना है, जहां पर बैंकों की शाखाएं नहीं खोली जा सकती हैं और जिन जगहों पर बैंकों की शाखाएं बेहद ही कम हैं. इसलिए अगर आपके शहर, गांव या जिले में बैंक की सुविधा नहीं है, तो आप कियोस्क बैंकिंग खोलने के लिए अप्लाई कर सकते हैं और अपने इलाके में इसे खोलकर पैसे कमा सकते हैं.

कियोस्क बैंकिंग के फायदे (Benefits of Kiosk Banking)

  • लोगों को मिल सकेगी बैंक की सुविधा- हमारे देश में कई ऐसे गांव और इलाके हैं, जहां पर बैंक नहीं हैं और वहां के लोग बैंक की सुविधा से वंचित हैं. इन्हीं लोगों को बैंक से जोड़ने के लिए कियोस्क बैंकिंग को शुरू किया गया है.
  • लंबी लाइनों से मिलेगी निजात- जिन इलाकों में केवल एक ही बैंक की शाखाएं होती हैं, उन शाखओं में अक्सर काफी भीड़ रहती है जिसके कारण लोगों को कई घंटों तक लाइनों में खड़ा रहने पड़ता है. वहीं जगह जगह पर एटीएम की तरह कियोस्क खोलने से बैंक में लगने वाली लंबी लाइनों से बचा जा सकेगा.
  • कमा सकें अधिक पैसे- जिन लोगों के पास कोई दुकान हैं और वो अपनी आय में और वृद्धि करना चाहते हैं, वो कियोस्क बैंकिंग से जुड़कर, लोगों के अकाउंट खुलवा कर पैसे कमा सकते हैं.
  • ग्राहकों की संख्या बढ़ेगी- ये सुविधा देश के हर कोने तक पहुंचाने से अधिक से अधिक लोग बैंकों से जुड़ सकेंगे और ऐसा होने से बैंकों के ग्राहकों की संख्या बढ़ सकेगी और बैंक भी मुनाफा कमा सकेंगे.

लक्षित दर्शक (Target Audience)

कियोस्क बैंकिंग को शुरू करने का मकसद गांव में रहने वाले लोगों को बैंकिंग से जोड़ना है, ताकि ये लोग कई तरह की बैंकिंग की सेवाओँ का लाभ उठा सकें और आसानी से इनके जरिए बैंक से जुड़े कई काम कर सकें.

कियोस्क बैंकिंग के तहत दी जानेवाली सेवा (Services Provided At Kiosk Centre)

कियोस्क बैंकिंग का सेंटर खोलकर कई तरह की बैंकिंग की सेवाएं लोगों को मुहैया करवाई जाती है और इस वक्त हमारे देश के अधिकतर बैंकों द्वारा  कियोस्क बैंकिंग की सुविधा अपने ग्राहकों को दी जा रही है और ये सुविधाएँ इस प्रकार हैं

  • कियोस्क के जरिए कोई भी व्यक्ति अपने खाते में पैसे जमा करवा सकता है, परंतु यहाँ ग्राहक केवल पचास हजार रूपय तक की ही राशि जमा कारवा सकता है.
  • जिस तरह से कियोस्क बैंकिंग की मदद से पैसे जमा करवाए जा सकते हैं उसी तरह से इसके माध्यम से पैसे अपने खाते से निकाले भी जा सकते हैं. परंतु इसकी सीमा केवल दस हजार रूपय है.
  • अगर आपको किसी अन्य खाता धारक को धन हस्तांतरण करना है तो आप इनके माध्यम से वो भी कर सकते हैं.
  • कियोस्क बैंकिंग के तहत आपकी पासबुक अपडेट की सुविधा भी उपलब्ध है और कोई भी व्यक्ति इसके जरिए बैंक में खाता भी खुलवा सकता है.

बैंक द्वारा दी जाएगी मशीन –

जिस बैंक का कियोस्क आप शुरू करेंगे, उस बैंक द्वारा आपको एक मशीन भी दी जाएगी और इस मशीन के जरिए ही आपको लोगों की उंगलियों के प्रिंट लेने होंगे और अकाउंट खुलवाते समय उनकी फोटो खींचनी होगी. इसके अलावा आपको विभिन्न सॉफ्टवेयर संचालित करने के लिए वेब सॉफ्टवेयर भी बैंक द्वारा दिया जाएगा.

कैसे होगी कमाई (Earning or commission) –

ये बैंकिंग शुरू करने वाले व्यक्ति की कमाई कमीशन के जरिए होगी और हर बैंक द्वारा अलग अलग कमीशन दी जाएगी. जैसे कि अगर आप एसबीआई बैंक का कियोस्क खोलते हैं तो ये बैंक आपको प्रत्येक बचत खाते को खोलने  में 10 रुपये की कमीशन देगा. इसी तरह प्रत्येक लेनदेन राशि यानी ट्रांजेक्शन पर 0.5% प्रतिशत की दर से कमीशन मिलेगी. आप किसी भी बैंक का कियोस्क खोलने से पहले ये जरूर देख लें, कि उस बैंक द्वारा कितनी कमीशन दी जाती है.

महत्वपूर्ण दस्तावेज (Important Documents)

इस बैंकिंग को लेने के लिए अप्लाई करते समय आपसे कई तरह के दस्तावेज मांगे जाएंगे, इसलिए आप नीचे बताए गए दस्तावेजों को तैयार रखें.

संख्यादस्तावेज के नाम
1दो पासपोर्ट आकार की फोटो
2पैन कार्ड होना अनिवार्य है
3आईडी प्रूफ जैसे मतदाता आईडी , ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट और इत्यादि
4दुकान का पता का प्रमाण, जहां पर आप कियोस्क बैंकिंग खोलना चाहते हैं
5निवासी पता प्रमाण जैसे बिजली का बिल, राशन कार्ड और आदि

कैसे खोलें कियोस्क बैंकिंग (How To Apply)

जिस बैंक द्वारा ये सुविधा दी जाती है, उस बैंक की शाखा में जाकर वहां से फॉर्म लेकर उसे भर कर आप इस बैंकिंग को लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं, या फिर आप कई ऐसी वेबसाइट जो कि ये बैंकिंग देने का कार्य करती हैं उनसे संपर्क करके इसे ले सकते हैं. हालांकि आप फर्जी वेबसाइट से सावधान रहें और केवल सही वेबसाइट के साथ जुड़े. वहीं इस प्रकार की बैंकिंग जिन वेबसाइट द्वारा दी जाती हैं उन वेबसाइट के लिंक इस प्रकार हैं –

समर इन्फो टेक  (samar info tech)- समर इन्फो टेक नामक वेबसाइट द्वारा बैंक ऑफ़ बरोदा, बैंक ऑफ इंडिया और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की कियोस्क बैंकिंग दी जाती है. आप समर इन्फो टेक की वेबसाइट http://www.samarinfotech.com पर जाकर इन बैंक के कियोस्क खोलने के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

पे पॉइंट  इंडिया (Pay point india) – पे पॉइंट इंडिया नामक वेबसाइट भी कियोस्क बैंकिंग देने का कार्य करती है. इस http://paypointindia.com/Banking.aspx लिंक पर जाकर आप स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की कियोस्क बैंकिंग लेने के  लिए अप्लाई कर सकते हैं.

माई ऑक्सीजन (My Oxygen) – माई ऑक्सीजन कंपनी काफी प्रसिद्ध कंपनी है और कंपनी द्वारा भी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की कियोस्क बैंकिंग दी जाती है.  आपको इस कंपनी के तहत ये बैंकिंग लेने के लिए इस लिंक http://www.myoxigen.com/financial-services/sbi-kiosk.php पर जाना होगा और आवेदन करना होगा.

निष्कर्ष

कियोस्क बैंकिंग की सुविधा के चलते कई लोग बैंक की सेवाओं का लाभ उठा सकेंगे और साथ में ही जो लोग रोजगार की तलाश में हैं वो इन्हें खोलकर अच्छी खासी कमाई कर सकेंगे.

अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *