कृषि सेवा केंद्र खोलकर कमाई करें (Krushi Seva Kendra Business Idea in Hindi)

0

कृषि सेवा केंद्र कैसे खोलें, लाइसेंस, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, पैसे कमायें, कौन खोल सकता है, दस्तावेज, लागत, फीस, कमाई, स्टाफ, प्रॉफिट (Krushi Seva Kendra Business Idea in Hindi) (License, Online Registration, Earn Money, Eligible, Documents, Cost, Investment, Fees, Earning, Staff, Profit)  

हमारे देश में किसान को अन्नदाता कहते हैं। जिसकी भूमिका हमारे जीवन में बहुत अहम होती है, क्योंकि अगर किसान अन्न नहीं उगाएगा तो हमें पर्याप्त भोजन कैसे मिलेगा। इसलिए सरकार भी किसानों की हर संभव मदद करती है। जैसे फसलों को लेकर जानकारी देना, अन्य चीजें आदि। अब सरकार ने हर एक गांव में खेती से जुड़ी जरूरी चीजों के सामान को किसानों तक पहुंचाने के लिए कृषि सेवा केंद्र की शुरूआत की है। इसके चलते किसानों को अपनी खेती के लिए जरूरी सामान भी मिल जाता है और जो बेरोजगार युवा है उन्हें व्यवसाय शुरू करने का मौका।

krushi seva kendra business in hindi

Table of Contents

कृषि सेवा केंद्र कैसे खोलें (How to Open Krushi Seva Kendra)

अगर आप कृषि सेवा केंद्र खोलने पर विचार कर रहे हैं, तो आपका ये विचार बहुत अच्छा है, क्योंकि इसके जरिए आपको बिजनेस करने का मौका ही नहीं मिलेगा बल्कि किसानों की मदद करने का भी मौका मिलेगा। क्योंकि खेती की सीमा दिन पर दिन बढ़ रही है। ऐसे में कृषि सलाह केंद्र भी बढ़ाए जा रहे हैं। तो आइए हम आपको बताते हैं कि, कृषि सेवा केंद्र खोलने के लिए आपको किन-किन प्रक्रिया से गुजरना होगा।

कृषि सेवा केंद्र क्या होता है (Krushi Seva Kendra)

  • कृषि सेवा केंद्र वो होता है, जहां पर किसानों को खेती से जुड़ी जरूरी चीजें उपलब्ध कराई जाती है, जैसे- खाद, कीटनाशक दवाईयां और बीज आदि।
  • आपको कृषि सेवा केंद्र खोलने के लिए डिग्री की आवश्यकता जरूर पड़ेगी। क्योंकि जब आप शिक्षित होंगे तभी आप किसानों को इसकी जानकारी दे पाएंगे।
  • क्योंकि इस स्टोर में खेती से जुड़ी कीटनाशक दवाईयां किसान को देनी पड़ती है। ऐसे में अगर आपको पढ़ना नहीं आएगा तो आप उनकी मदद नहीं कर पाएंगे। साथ ही इसके लिए आपको कृषि सेवा केंद्र के लिए लाइसेंस की जरूरत होगी।

कृषि सेवा केंद्र मार्केट रिसर्च (Market Research)

इसके लिए आपको कृषि से जुड़ी सारी जानकारियां होनी अनिवार्य है, ताकि दुकान पर रखे बीज और अन्य चीजों के बारे में आपको सही जानकारी हो। अगर आप चाहे तो गांव में जाकर किसानों की समस्याओं को जानकर उसका हल निकालने में मदद कर सकते हैं, क्योंकि अगर आप इन जानकारियों को जान जाएंगे तभी आप अच्छे से कृषि केंद्र खोल सकते हैं। क्योंकि जब आप खुद जागरूक होगे तभी आप किसानों को इसके बारे में जागरूक कर पाएंगे। इसका काम करते-करते आप अनुभवी भी हो जाएंगे।

कृषि सेवा केंद्र कौन खोल सकता है (Who can Open Krushi Seva Kendra)

  • इसे वो लोग खोल सकते हैं, जिन्हें कृषि से जुड़ी सही जानकारी हो ताकि वो समय पर किसानों को इसकी जानकारी प्राप्त करा सके।
  • इसके लिए आपके पास बीएसी रसायन विषय होना जरूरी है ताकि आप उन्हें जरूरी रसायनों की जानकारी दे सके।
  • कृषि सेवा केंद्र खोलने का मौका उन लोगों को दिया जाएगा। जिनके पास खुली जगह मौजूद हो। ताकि सामान आसानी से रखा जा सके।

कृषि सेवा केंद्र कहां खोल सकते हैं (Where can i Open Krushi Seva Kendra)

  • इसके लिए आपको उस लोकेशन क चयन करना चाहिए। जहां किसानों का आना जाना सबसे ज्यादा होता है।
  • जिसके लिए आप गांव के बाहर की जगह का चयन कर सकते हैं, ताकि आसानी से किसानों को इन सभी जानकारियों के बारे में बता सके।
  • अगर आप किसानों को शहरों के मुकाबले कम कीमत पर सामान देंगे तो आपकी बिक्री भी बहुत अच्छी होगी, साथ ही किसानों को शहर जाकर इसकी जानकारी प्राप्त नहीं करनी पड़ेगी।
  • इसके अलावा आप अपनी दुकान अनाज मंडी में भी खोल सकते हैं। क्योंकि वहां भी किसानों का सबसे ज्यादा आना-जाना लगा रहता है।

कृषि सेवा केंद्र आवश्यकता (Krushi Seva Kendra Requirements)

इसके लिए आपको लाइसेंस, अच्छी जगह और सामान भरने के लिए कुछ धनराशि की आवश्यकता होगी। साथ ही कुछ दस्तावेज लगेगे जिसको आपको जमा करना होगा।

कृषि सेवा केंद्र के लिए दस्तावेज (Krushi Seva Kendra Documents)

  • आपको इसके लिए आधार कार्ड की जरूरत पड़ेगी क्योंकि आधार कार्ड हर जगह आवश्यक हो गया है।
  • पासपोर्ट साइज फोटो की भी आवश्यकता होगी। वो इसलिए क्योंकि बिना फोटो के आपका कार्ड तैयार नहीं किया जाएगा।
  • डिग्री, डिप्लोमा सर्टिफिकेट इसकी जरूरत भी आपको इसके लिए आवश्य पड़ेगी क्योंकि बिना शिक्षा के आपको केंद्र खोलने की इजाजत नहीं होगी।
  • दुकान का नक्शा आपको दुकान की फोटो खींचकर जमा करानी होगी। ताकि सरकार को ईस बात की जानकारी रहे की आपके पास कितनी जगह हैं।
  • जमीन के प्रमाणित पत्र भी आवश्यक हैं ताकि आप अवैध जमीन पर इसका केंद्र ना खोल सके।

कृषि सेवा केंद्र खोलने के लिए रजिस्ट्रेशन (Krushi Seva Kendra Registration)

कृषि सेवा केंद्र के लिए आप ऑनलाइन जाकर आवेदन कर सकते हैं। या फिर जिले के कृषि विभाग में जाकर, ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको जरूरी दस्तावेज लगाकर फॉर्म जमा करना होगा। जिसके बाद पूरी वेरिफिकेशन होगी। उसके बाद ही आपको आगे की प्रक्रिया में हिस्सा लेने का मौका मिलेगा।

कृषि सेवा केंद्र लाइसेंस (Krushi Seva Kendra License)

इसके लिए आपको ऑनलाइन या ऑफलाइन जरूरी दस्तावेज जमा कराने होगे। जैसे- आधार कार्ड, पहचान पत्र, 2 पासपोर्ट साइज फ़ोटो, ग्रेजुएशन की डिग्री एग्रीकल्चर आदि। साथ ही आपको मांगी गई धनराशि भी जमा करानी होगी। उसके बाद ही आपको दुकान का लाइसेंस मिलेगा। एक बार जब आप कृषि सेवा केंद्र खोलने के लिए आवेदन कर देते हैं, तो उसके बाद संबंधित विभाग द्वारा सारी वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपको लाइसेंस प्रदान कर दिया जाता है.

कृषि सेवा केंद्र लाइसेंस की आवश्यकता

सबसे पहले हमे इस बात की जानकारी होनी चाहिए की कृषि केंद्र खोलने के लिए हमे लाइसेंस की आवश्यकता जरूर पड़ेगी। ताकि हम किसानों के लिए जरूरी चीजों को बेच सके। साथ ही इस लाइसेंस से हम सीधा बड़े फर्म के मालिकों से संपर्क कर सकते हैं जो हमें कम एमआरपी पर सही सामान उपलब्ध करा सके। इसलिए लाइसेंस की आवश्यकता पड़ेगी।

कृषि सेवा केंद्र लागत एवं फीस (Krushi Seva Kendra Cost and Fees)

लाइसेंस के लिए फीस निर्धारित की गई है। जैसे आप लाइसेंस के लिए अप्लाई करेंगे, उसमें कई सारे ऑपशन दिखाई देंगे जिसके हिसाब से आपको फीस भरनी होगी।

  • बीज के लिए – 1000 रूपये
  • खाद के लिए – 1250 रूपये
  • कीटनाशक के लिए – 1500 रूपये

यदि इस बिज़नेस को करने में कुल लागत की बात करें तो इसमें आपको कम से कम 40 से 50 हजार रूपये तक का खर्च करना होगा. जिससे आपको बेहतरीन मुनाफा होगा.

कृषि सेवा केंद्र के लिए स्टाफ (Staff)

इस केंद्र के लिए आपको 4 से 5 लोगों के स्टाफ की जरूरत होगी। ताकि एक व्यक्ति कृषि के उचित परामर्श के लिए, एक कृषि संबंधित दवाइयों की जानकारी देने के लिए। 2 से 3 लोग सामान की पैकिंग के लिए चाहिए होगे। ताकि समय रहते किसानों को मदद मिल सके।

कृषि सेवा केंद्र से कमाई एवं मुनाफा (Krushi Seva Kendra Earning and Profit)

इस केंद्र से आप सभी प्रकार की चीजों को बेचकर 20 से 40 पर्सेंट का मुनाफा आसानी से कमा सकते हैं। वो इसलिए क्योंकि हर मौसम बाजारों में फसलों की समस्याएं और दवाइयों और खाद, बीज की मांग बढ़ती ही रहती है। ऐसे में आपको फायदा होना तो बनता है। ऐसे में जब आपकी कमाई अधिक होगी तो आप अपने उत्पादन को बढ़ा सकते हैं।

कृषि सेवा केंद्र मार्केटिंग (Krushi Seva Kendra Marketing)

अगर आप केंद्र सेवा खोलने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको इसके लिए स्ट्रांग मार्केटिंग की जरूरत पड़ेगी। जिसके लिए आप शुरूआत में दवाइयों पर डिस्काउंट, आकर्षक गिफ्ट और सलाह को मुफ्त करना होगा। तभी किसानों की ज्यादा संख्या आपके केंद्र में आएगी। इससे आपकी बिक्री भी बढ़ेगी और दुकान का प्रचार भी अच्छा होगा। इसके अलावा आप ऑनलाइन प्रचार भी कर सकते हैं। जिसमें आप दुकान से जुड़ी सारी जरूरी जानकारी भर सकते हैं।

कृषि सेवा केंद्र खोलने में जोखिम (Krushi Seva Kendra Business Risk)

इस काम में सबसे ज्यादा रिस्क होता है दवाइयों के साथ। क्योंकि ये समय आने पर एक्सपायर हो जाती है। जिसके कारण आपको काफी नुकसान सहना पड़ता है। साथ ही मौसम के बदलाव के कारण बिक्री में भी काफी दिक्कते होती है। कई बार ऐसा भी होता है कि, आपका सामान खराब निकल जाता है जिसके कारण भी आपको नुकसान का भार झेलना पड़ता है।

FAQ

Q : कृषि सेवा केंद्र का व्यापार शुरू करने के लिए कितनी लागत लगती है?  

Ans : इसके लिए आपको 40 से 50 हजार रूपये की लागत लगती है।

Q : कृषि सेवा केंद्र को खोलने के लिए कितना मिलेगा मुनाफा?

Ans : इसके लिए 20 से 40 प्रतिशत मुनाफा मिल सकता है।

Q : कृषि सेवा केंद्र को कहां खोल सकते हैं?

Ans : आप इसे गांव, अनाज मंडी और होलसेल मार्केट में खोल सकते हैं।

Q : कृषि सेवा केंद्र का काम व्यापार के लिए सही है या नहीं?

Ans : जी हां, ये काम एकदम अच्छा और मुनाफे भरा है।

Q : कृषि सेवा केंद्र के लिए आप कैसे कर सकते हैं लाइसेंस के लिए अप्लाई?

Ans : इसके लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से अप्लाई कर सकते हैं।

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here