कुटीर उद्योग व्यवसाय [बिज़नेस] | Kutir Udyog Ideas in Hindi

कुटीर उद्योग व्यवसाय, क्या है, मशीन, कीमत, विशेषताएं, लिस्ट, उदहारण (Kutir Udyog Kya Hai, Business, List, Registration, Loan, Ideas in Hindi)

दोस्तों आपने जो भी व्यवसाय के बारे में सुना हैं चाहे वह बड़े रूप में हो या छोटे रूप में उसे आप लघु उद्योग एवं बड़े उद्योग के नाम से ही जानते थे. किन्तु आपको पता हैं कुछ उद्योग ऐसे होते हैं जिनमें आपको बहुत कम निवेश करना होता हैं और जिसे आप अपने घर पर या रेंट की दूकान लेकर खुद अपने से अपने परिवार के साथ मिलकर शुरू कर सकते हैं ऐसे उद्योगों को कुटीर उद्योग कहा जाता है. कुटीर का मतलब होता है घर और उद्योग मतलब व्यवसाय, इसलिए घर से किये जाने वाले व्यवसाय को कुटीर उद्योग कहते हैं. इन व्यवसाय में लागत तो कम लगती हैं लेकिन कमाई घर बैठे 10 हजार से 1 लाख रूपये तक की दे सकते हैं. इसके लिए जरुरी है बेहतर कुटीर उद्योग का चुनाव कर उसे अच्छी तरह से समझ कर शुरू किया जाये. इस लेख में हम कुछ मुनाफा देने वाले कुटीर उद्योग की बात करने जा रहे हैं.

kutir udyog

कुटीर उद्योग आइडियाज (Kutir Udyog Ideas)

कुटीर उद्योग के कुछ ऐसे आइडियाज इस प्रकार हैं जो आपको मुनाफा दे सकते हैं –

मिट्टी के बर्तन बनाने का उद्योग

जब से प्लास्टिक के उत्पादों पर प्रतिबंध लगा हैं तब से मिट्टी के बर्तन बनाने का व्यवसाय काफी अधिक जोर पकड़ रहा है. मिट्टी से विभिन्न तरह के आइटम बन सकते हैं जैसे कि मिट्टी के कुल्हड़, घड़े, रोटी बेलने का पटा, अन्य सामग्री रखने वाले विभिन्न आकार के पात्र एवं गमले आदि बनाकर इसका व्यवसाय कर सकते हैं. जब आप इससे शुरुआत कर लेंगे तो इसके बाद आप मिट्टी की मूर्तियाँ बनाने का काम भी शुरू कर सकते हैं. ये भी चीजें आप अपने घर पर बना सकते हैं इसलिए इसे कुटीर उद्योग कहा जा रहा है. इसमें आपको ज्यादा निवेश नहीं करना है. और मुनाफा आपको अच्छा खासा मिल जायेगा.

चपाती या रोटी बनाने का व्यवसाय शुरू करके करें अच्छी खासी कमाई.

साड़ी या कपड़े की डिज़ाइनिंग का उद्योग

साड़ी या कपड़ों पर भी आजकल अपनी कला का प्रदर्शन करने के लिए लोग विभिन्न तरह की डिज़ाइन बनाते हैं. बहुत लोगों को लगता हैं कि यह बहुत बड़ा व्यवसाय हैं लेकिन ऐसा नहीं है आप प्लेन साड़ी बाजार से खरीद कर उसे अपने अनुसार डिज़ाइन करके अच्छे दाम में बाजार में बेच सकते हैं. इसी तरह से विभिन्न कपड़ों पर भी जैसे कुर्ती, बैग, टॉप आदि में तरह – तरह की डिज़ाइन की जाती है. आप जोकि साड़ी या कपड़े को डिज़ाइन करेंगे वह शुरुआत में तो आपके मोहल्ले, रिश्तेदार, दोस्त ही खरीद लेंगे ये आपके रेगुलर कस्टमर हो सकते हैं. लेकिन आपको कुछ अन्य ग्राहक भी बनाने होंगे इसके लिए आपको इसे बाजार में बेचना ज्यादा बेहतर एवं लाभकारी है.   

दूध देने वाले पशुओं का पालन

कुटीर उद्योग में दूध देने वाले पशुओं के पालन का व्यवसाय भी शामिल है, इसे भी आप अपने घर से शुरू कर सकते हैं. दूध देने वाले पशुओं में अधिकतर गाय, भैंस, बकरी, भेड़ आदि शामिल होते हैं. आप इनमें से किसी का भी पालन का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं. इसके लिए आपको अच्छी नस्ल वाले इन पशुओं को खरीदना होगा. और उनकी देखभाल करनी होगी. जिससे वे आपको दूध देंगे जिससे आप मुनाफा कमा सकते हैं. आप चाहे तो इसमें अपने परिवार वालों की मदद ले सकते हैं, नहीं आप 2 व्यक्ति को काम पर रख कर पशुओं की देखभाल करवा सकते हैं. आज के समय में शुद्ध दूध मिलना संभव ही नहीं है, यदि आप शुद्ध दूध बेचने का व्यवसाय करते हैं तो आपको इससे अच्छा लाभ हो सकता है.  

डेयरी फार्मिंग बिज़नेस दे सकता हैं आपको प्रतिमाह अच्छी कमाई करने का मौका.

हॉस्टल स्टूडेंट्स सर्विस बिज़नेस

जो भी स्टूडेंट अपने घर से दूर हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करते हैं, उन्हें हॉस्टल में रहते हुए अपनी पढ़ाई तो करनी ही होती हैं साथ ही उन्हें अन्य चीजें जैसे खाना बनाना, कपड़े व बर्तन धोना आदि काम करना पड़ता है. इससे उनकी पढ़ाई पर काफी असर पड़ता हैं क्योकि वे उसके लिए उनके पास समय ही नहीं बचता है. यदि आप हॉस्टल में रहने वाले स्टूडेंट्स के लिए सर्विस देने का व्यवसाय शुरू करते हैं तो इससे आपको अच्छा लाभ मिलेगा. इसमें आपको बच्चों के लिए टिफिन सर्विस, कपड़ा धोने का काम एवं रूम की सफाई का काम करना होगा और इसके बदले में हॉस्टल में रहने वाले स्टूडेंट्स आपको पैसे देंगे जिससे आपको अच्छी कमाई होगी. इसके लिए आपको निवेश भी बहुत ही कम करना है.

त्योहारों का कुटीर उद्योग

हमारा देश त्योहारों का देश हैं जहाँ इतने सारे त्यौहार मनाएं जाते हैं कि जिनकी गिनती ही नहीं है. हर त्यौहार में विभिन्न तरह की चीजों की आवश्यकता होती है जिससे लोगों का इसमें खर्चा भी बहुत होता है. लेकिन त्यौहार में आप लाभ उठा सकते हैं. इसके लिए आपको त्यौहार के अनुसार जिन चीजों की आवश्यकता होती हैं उसका कुटीर उद्योग शुरू कर सकते हैं. जैसे कि दीवाली के व्यवसाय रंगोली एवं दिए बनाना, होली में रंग एवं गुलाल बनाने का व्यवसाय, रक्षाबंधन में राखी बनाने का व्यवसाय, पतंग के त्यौहार में पतंग बनाने का इसी तरह और भी कई सारे अन्य त्यौहार भी होते हैं जिसमें कुछ चीजों की आवश्यकता होती हैं. आप ये सभी चीजें अपने घर पर अपने हाथों से बनाकर तैयार करके बाजार में बेच सकते हैं. इसमें आपको निवेश कम एवं मुनाफा बहुत अधिक होगा.

जूट के बैग बनाने का व्यवसाय दे रहा है काफी लाभ, बनाना है बहुत ही आसान.

इस तरह से ये सभी व्यवसाय को आप कुटीर रूप में यानि घर से शुरू करके अपने लिए खुद रोजगार पैदा कर सकते हैं, और अपनी आजीविका का साधन बना सकते हैं.    

FAQ’s

Q : कुटीर उद्योग क्या है ?

Ans : घर से स्वयं शुरू किये जाने वाले व्यवसाय कुटीर उद्योग है.

Q : कुटीर उद्योग कौन – कौन से होते हैं ?

Ans : घर में शुरू किये जाने वाले कोई भी व्यवसाय जैसे मिट्टी के बर्तन बनाना, कपड़े डिज़ाइन करना, पापड़ – आचार का व्यवसाय करना आदि.

Q : कुटीर उद्योग के लिए लोन कैसे मिल सकता है ?

Ans : प्रधानमंत्री मुद्रा लोन या किसना क्रेडिट कार्ड योजना के तहत विभिन्न ब्याज दरों पर लोन मिल सकता है.

Q : क्या कुटीर उद्योग के लिए रजिस्ट्रेशन करना जरुरी है ?

Ans : नहीं, लेकिन यदि रजिस्ट्रेशन कराते हैं तो इससे आपको बड़ी लोन राशि प्राप्त हो सकती है.

Q : कुटीर उद्योग के लिए रजिस्ट्रेशन कहां करायें ?

Ans : एसएसएआई में रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं.

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *