गैस एजेंसी खोलने का तरीका (डीलरशिप) | Gas Agency Dealership Business in Hindi

गैस एजेंसी खोलने का तरीका, डीलरशिप, खर्च, कमाई, बुकिंग, नियम, विज्ञापन (Gas Agency Dealership, Cost, Profit, Investment in Hindi)

भारत में बहुत सारे ऐसे व्यक्ति हैं जो जॉब तो करते हैं परंतु अपनी जॉब से नाखुश रहते हैं. लेकिन ऐसे भी बहुत सारे लोग हैं जो खुद का व्यापार प्रारंभ करने में दिलचस्पी रखते हैं. वे एक ऐसे नए आइडिया की खोज में रहते हैं जिससे वह एक अपना खुद का व्यापार प्रारंभ कर सकें. एक ऐसा ही जबरदस्त व्यापार आईडिया आज हम आपके लिए लेकर आए हैं. इस व्यवसाय का नाम है एलपीजी गैस एजेंसी डीलरशिप लेना. जी हां वही गैस जिस पर आपके घर में खाना बनाया जाता है. ऐसा व्यापार जिस की डिमांड दिन प्रतिदिन बढ़ती तो दिखाई दे रही है, लेकिन ऐसा कोई भी समय नहीं होगा जहां पर गैस की जरूरत कम हो और इसकी डिमांड कम हो जाए. ऐसे में यह व्यापार करोड़ों रुपए कमाने के लिए जबरदस्त है.

LPG Gas Agency Business

Table of Contents

गैस एजेंसी खोलने का तरीका (डीलरशिप) (Gas Agency Dealership Business in Hindi)

यदि आप अपनी खुद की गैस एजेंसी खोलना चाहते हैं तो इसे खोलने के तरीके के बारे में आपको हम इस लेख में बताने जा रहे हैं, इसे अंत तक ध्यान से पढ़िए.

भारत में मौजूद एलपीजी गैस कंपनियां (LPG Gas Companies in India)

भारत में ऐसी कुछ नामी कंपनी है जो एलपीजी गैस एजेंसी की डीलरशिप देने का काम करती हैं. यह लेने के बाद आप करोड़ों रुपए कमा सकते हैं. इन कंपनियों में शामिल है –

  • एचपी गैस,
  • इंडेन गैस और
  • भारत गैस कंपनी आदि.

भारत में मौजूद विभिन्न गैस कंपनियों की डीलरशिप के लिए आवेदन कहाँ से करें जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पढ़ें.

एलपीजी गैस की एजेंसी कैसे लें (How to Get LPG Gas Agency)

भारत में गैस एजेंसी लेना कोई बड़ी बात नहीं है इसको लेने के लिए आपको पैसे की आवश्यकता तो होती ही है, क्योंकि अच्छा खासा निवेश करने के बाद ही आप इस एजेंसी को ले कर बिज़नेस शुरू कर सकते हैं. हालांकि एजेंसी को लेने के लिए आपको कुछ कठिनाइयों का भी सामना करना पड़ता है क्योंकि एजेंसी लेने के लिए एक प्रक्रिया है जो थोड़ी कठिन है. हालांकि कोई भी गैस एजेंसी आसानी से किसी कंपनी को नई जगह पर डीलरशिप देने का काम करती है, लेकिन उससे पहले प्रचार का काम करती है. वे अपनी खुद की ऑफिशियल वेबसाइट अथवा समाचार पत्र के माध्यम से लोगों तक उस एजेंसी के बारे में जानकारी पहुंचाते हैं.

एलपीजी गैस एजेंसी लेने के लिए पात्रता मापदंड (Eligibility Criteria)

  • भारत की नागरिकता रखने वाले व्यक्ति ही गैस एजेंसी से डीलरशिप ले सकते हैं.
  • गैस एजेंसी में आवेदन के लिए कम से कम दसवीं पास का सर्टिफिकेट आपके पास होना चाहिए.
  • पुरुष अथवा स्त्री दोनों में से कोई भी इस एजेंसी को प्राप्त करने के लिए आवेदन भर सकते हैं.
  • गैस एजेंसी की डीलरशिप में आवेदन के लिए आयु सीमा भी निर्धारित की गई हैं. यह गैस एजेंसी 21 साल से अधिकतम 60 साल तक के लोग ही के सकते हैं.
  • आवेदन कर्ता व्यक्ति के ऊपर किसी भी प्रकार का कोई क्रिमिनल केस रिकॉर्ड नहीं होना चाहिए.
  • जो व्यक्ति आवेदन करना चाहते हैं, उनका परिवार का कोई भी सदस्य किसी भी प्रकार की ऑयल कंपनी में कर्मचारी नहीं होना चाहिए.
  • जो भी व्यक्ति डीलरशिप प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें आवेदन करने से पहले अपने पास गैस सिलेंडर रखने के लिए एक गोदाम की व्यवस्था करनी अनिवार्य है.

भारत में अपने नाम का पेट्रोल पंप खोलना चाहते हैं, तो ऐसे करें आवेदन.

एलपीजी गैस एजेंसी के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें (Online Apply)

एलपीजी गैस की एजेंसी में आवेदन करने से पहले आपको यह निर्धारित करना होगा कि भारत की तीन बड़ी गैस कंपनियों में से आप कौन सी कंपनी की डीलरशिप लेना चाहते हैं. हर कंपनी द्वारा डीलरशिप देने के लिए एक विज्ञापन जारी किया जाता है. उसे आप उस कंपनी की ऑफिशल वेबसाइट पर जा देख सकते हैं. इससे आपको यह पता चल जायेगा कि कौन सी कंपनी कितने में आपको डीलरशिप दे रही है. इसके बाद आप निम्न तरीके ऑनलाइन आवेदन दे सकते हैं –

  • ऑनलाइन आवेदन के लिए आपको जिस भी कंपनी से डीलरशिप चाहिए उसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाना पड़ेगा.
  • अपनी ईमेल आईडी अथवा मोबाइल नंबर के माध्यम से आप इस वेबसाइट पर रजिस्टर हो सकते हैं.
  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड नंबर और ईमेल आईडी पर एक ओटीपी भेजा जाएगा, जिसे डाल कर आप अपना नंबर और मेल आईडी वेरीफाई कर सकते है.
  • वेरीफाई होते ही आपका एक अकाउंट उस वेबसाइट पर बनकर तैयार हो जाएगा, जिसमें आपको ऑनलाइन आवेदन पत्र प्राप्त हो जाएगा.
  • आवेदन करते समय आपको इसमें लगने वाला शुल्क भी जमा कराना होता है जो आप वहीं पर दिए गए लिंक के जरिए कर सकते हैं.

एलपीजी गैस एजेंसी लेने में लगने वाला शुल्क (Cost)

आवेदन करते समय कुछ राशि का भुगतान आपको करना होता है. परंतु एक बात जिसका ध्यान आपको रखना होगा कि आवेदन करने के बाद आपका आवेदन पत्र एक्सेप्ट हो या रिजेक्ट जमा की गई राशि आपको प्राप्त नहीं होगी. तो चलिए जान लेते हैं कि आपको गैस एजेंसी का आवेदन करते समय कितनी राशि का भुगतान करना होता है.

  • यदि शहरी क्षेत्रों की बात करें तो जनरल कैटेगरी में आने वाले लोगों को आवेदन के समय 10000 रुपए की राशि का भुगतान करना होता है.
  • यदि आवेदन करने वाला व्यक्ति ओबीसी कैटेगरी में आता है तो उसे 5000 रुपए की राशि का भुगतान करना होगा.
  • इसके अतिरिक्त यदि कोई व्यक्ति एसटी – एससी क्षेत्र में आते हैं तो उन्हें 3000 रुपए की राशि का भुगतान करना होगा.
  • वहीं यदि ग्रामीण क्षेत्रों में गैस एजेंसी की बात की जाए तो जनरल कैटेगरी वाले व्यक्ति को 8000 रुपए, ओबीसी कैटेगरी में आने वाले आवेदकों को 4000 रुपए और एससी एवं एसटी कैटेगरी में आने वाले व्यक्तियों को 2500 रूपये का भुगतान करना होता है.

तेल की मिल का व्यवसाय शुरू करने के लिए चाहिए होगा यह कच्चा माल, जानें क्या है और कहाँ से मिलेगा.

एलपीजी गैस एजेंसी लेने में सिक्योरिटी डिपाजिट (Security Deposit)

यदि आवेदन भरने वाले आवेदन कर्ता व्यक्ति का फॉर्म एक्सेप्ट हो जाता है तो उन्हें आवश्यक दस्तावेज जमा कराने होते हैं. दस्तावेजों के साथ उन्हें कुछ सिक्योरिटी डिपॉजिट भी कराना होता है जो किसी भी परिस्थिति में आपको वापस नहीं मिलता है. शहरी क्षेत्रों में डीलरशिप लेने के लिए 5 लाख रुपए की राशि जमा करानी पड़ती है और ग्रामीण क्षेत्रों में 4 लाख रुपए की राशि सिक्योरिटी के तौर पर जमा करानी होती है.

एलपीजी गैस एजेंसी लेते समय महत्वपूर्ण बातें ध्यान रखें (Important Points)

  • गैस एजेंसी से डीलरशिप प्राप्त करने के लिए आपके पास लगभग 17 लाख रुपए की कुल राशि मौजूद होनी चाहिए.
  • आवेदन पत्र भरते समय एक बार उस पत्र को अच्छे से जरूर चेक कर लें कि कहीं आपने कोई जानकारी गलत तो नहीं भरी है.
  • यदि आप एक ही राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में डीलरशिप के लिए आवेदन भरना चाहते हैं, तो ऐसा आप कर सकते हैं, परंतु ध्यान रहे आपको सभी क्षेत्रों के लिए अलग-अलग पेमेंट करनी ही पड़ेगी.
  • आप चाहे तो ऑनलाइन फॉर्म भरने के बाद उसे सेव करके रख सकते हैं लेकिन आवेदन पत्र को आखिरी तारीख से पहले जमा जरूर करा दें.
  • उस आवेदन पत्र में आपको अपनी फोटो और सिग्नेचर भी लगाने होते हैं इसलिए पहले से ही अपने फोटो और स्कैन किए हुए सिग्नेचर की व्यवस्था कर ले. 

पोहा की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट शुरू करके कमा सकते हैं लाखों रूपये, जानें कैसे शुरू किया जा सकता है.

गैस एजेंसी खोलकर आप सालों साल अच्छी कमाई कर सकते हैं क्योंकि यह एक ऐसा व्यवसाय है जो ना तो कभी बंद होता है और ना ही खत्म. इस व्यवसाय में नुकसान का भी कोई ज्यादा खतरा नहीं होता है, परंतु रखरखाव और देखभाल का अधिक ध्यान रखना होता है.

होमपेजयहाँ क्लिक करें

FAQ

Q : एलपीजी गैस एजेंसी कैसे खोलें ?

Ans : इसके लिए आपको भारतीय गैस कंपनियों से डीलरशिप लेनी होगी.

Q : एलपीजी गैस एजेंसी लेने के लिए क्या करना होगा ?

Ans : डीलरशिप लेने के लिए आवेदन करना होगाएवंनिवेश करना होगा.

Q : एलपीजी गैस एजेंसी कौन ले सकता है ?

Ans : 21 से 60 साल तक का कोई भी व्यक्ति जो कम से कम 10 वीं पास हो और भारत का नागरिक हो.

Q : कौन कौन सी कंपनी एलपीजी गैस की डीलरशिप देती हैं ?

Ans : भारत में भारत गैस कंपनी, इंडेन गैस, एवं एचपी आदि कंपनियां जो डीलरशिप देती हैं.

Q : एलपीजी गैस एजेंसी लेने के लिए कितना शुल्क देना होता है ?

Ans : यह अलग – अलग जाति के अनुसार अलग – अलग होता है.

अन्य पढ़ें –

Leave a Comment