MSME लोन के लिए करना चाहते हैं आवेदन, जाने स्टेप बाय स्टेप आसान प्रक्रिया के बारे में

एमएसएमई लोन क्या है, कैसे लें, मेला, योजना, अप्लाई (MSME Loan, Application, Schemes, New Business 2020, Guidelines, Registration, Interest Rate, Limit, Covid 19 in Hindi

जब आप किसी व्यवसाय को शुरू करते हैं है तो आपको उद्योग आधार की वेबसाइट में जाकर उसे सूक्ष्म, लघु या मध्यम उद्यम यानि एमएसएमई के तहत रजिस्टर करना होता है. ताकि यह निर्धारित किया जा सके वह एमएसएमई की किस श्रेणी में आते हैं. एमएसएमई के तहत रजिस्टर हो जाने के बाद आप एमएसएमई लोन भी प्राप्त कर सकते हैं. आपको बता दें कि सरकार ने हालही में एमएसएमई की परिभाषा को बदलाव करते हुए कुछ अहम फैलसे भी लिए हैं, आप एमएसएमई लोन के लिए किस तरह से रजिस्टर कर सकते हैं, और यदि आप इससे संबंधित कुछ शिकायत करना चाहते हैं तो वह कैसे करेंगे. ये सभी जानकारी आप हमारे इस लेख में आसानी से देख सकते हैं. एमएसएमई लोन से संबंधित पूरी जानकारी जानने के लिए इसे अंत पढ़ें.  

MSME Loan Registration

एमएसएमई लोन क्या है (What is MSME Loan)

एमएसएमई लोन मुख्य रूप से सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम व्यवसायियों को दिए जाने वाला लोन होता है. जोकि किसी स्टार्टअप बिज़नेस या फिर छोटे व्यवसाय उद्यम हो सकते हैं. ये लोन चुकाने की अवधि विभिन्न बैंकों द्वारा अलग – अलग हो सकती हैं. एमएसएमई लोन आवेदक को इस आधार पर दिया जाता हैं कि उस आवेदक की प्रोफाइल क्या है पिछले बार उसका व्यवसाय कैसा था, साथ ही रिपेमेंट कैसे था आदि. और इसी के आधार पर ब्याज दर का भी निर्धारण किया जाता है.

एमएसएमई लोन के लिए 59 मिनिट के अंदर आवेदन की पूरी प्रक्रिया को अंजाम दिया जा सकता है, जानने के लिए यहाँ क्लिक करें.  

एमएसएमई लोन योजनायें (MSME Loan Schemes)

एमएसएमई लोन देने के लिए केंद्र सरकार द्वारा कुछ योजनायें भी शुरू की गई हैं जोकि प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना, सूक्ष्म, लघु एवं माध्यम उद्योग के लिए क्रेडिट गारंटी फण्ड ट्रस्ट (सीजीटीएमएसई) एवं प्रधानमंत्री एम्प्लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम (पीएमईजीपी) आदि है. इसके अलावा आपको बता दें कि मुद्रा लोन योजना के अंतर्गत कुछ उप – योजनायें भी आती है जैसे सूक्ष्म व्यापारियों के लिए लोन, महिला उद्यमी योजना, बैंकों के लिए री – फाइनेंस योजना, माइक्रो – क्रेडिट योजना, मुद्रा कार्ड, क्रेडिट गारंटी फण्ड एवं इक्विपमेंट फाइनेंस योजना आदि है. आप इनमें से किसी एक तहत लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं.

एमएसएमई लोन के लिए सरकार द्वारा लिए गये नये निर्णय

एमएसएमई के लिए केंद्र सरकार द्वारा इसकी परिभाषा में बदलाव किया गया हैं. और इसे 1 जून सन 2020 से मंजूरी दे दि गई हैं. इसके तहत किये गए कुछ बदलाव की संक्षिप्त जानकारी इस प्रकार हैं –

  • अब एमएसएमई के तहत बिना किसी सिक्यूरिटी के लोन लिया जा सकता है.
  • एमएसएमई लोन के लिए 3 लाख करोड़ रूपये का आवंटन सरकार द्वारा किया गया हैं.
  • इसमें लोन लेने के बाद और पहली ईएमआई भरने के बीच का जो समय होता है, जोकि मोरटोरियम पीरियड कहलाता है वह अब 12 महीने का हो गया है.
  • इसके साथ ही मैन्युफैक्चरिंग एवं सर्विस क्षेत्रों के उद्योगों के लिए अब पात्रता एक समान कर दी गई है.
  • लोन भुगतान अवधि 48 महीने की कर दी गई हैं. एवं क्रेडिट गारंटी लोन अब 100 % की दर से मिलेगा.  
  • इस तरह से इस योजना का लाभ अब देश के 48 लाख उद्यमों को प्राप्त को सकता है.

शिशु मुद्रा लोन योजना के तहत लॉकडाउन में पायें 2 % की ब्याज छूट, रजिस्टर करने के लिए यहाँ क्लिक करें.

एमएसएमई लोन के लिए पात्रता मापदंड

एमएसएमई लोन के अप्रूवल के लिए अलग – अलग ऋण दाता द्वारा अपने पात्रता मापदंड निर्धारित किये जाते हैं, जिसको पूरा करना प्रत्येक आवेदक के लिए आवश्यक है. कुछ आम पात्रता मापदंड ऐसे हैं जोकि सभी बैंकों द्वारा समान होते हैं वे इस प्रकार हैं –

  • आपका व्यवसाय मैन्युफैक्चरिंग या फिर सर्विस क्षेत्र में से एक में शामिल होना आवश्यक है.
  • सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम की निर्धारित शिशु, किशोर एवं मध्यम वर्ग में से किसी एक की श्रेणी के अंतर्गत आना आवश्यक है आदि.

एमएसएमई लोन के रजिस्ट्रेशन के लिए आवश्यक दस्तावेज

एमएसएमई लोन के रजिस्ट्रेशन के दौरान लगने वाले कुछ आवश्यक दस्तावेज है –

  • आवेदन फॉर्म
  • पहचान प्रमाण पत्र (पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र आदि में से कोई एक)
  • पते का प्रमाण (पासपोर्ट, लीज एग्रीमेंट, ट्रैड लाइसेंस, टेलीफोन या बिजली का बिल, राशन कार्ड या फिर सेल्स टैक्स सर्टिफिकेट आदि में से कोई एक)
  • उम्र प्रमाण पत्र (पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र और पैन कार्ड आदि में से कोई भी एक)

क्रेडिट कार्ड एवं डेबिट कार्ड के बीच के अंतर को समझने के लिए यहाँ क्लिक करें.

एमएसएमई लोन के रजिस्ट्रेशन के लिए वित्त से संबंधित दस्तावेज

एमएसएमई लोन के रजिस्ट्रेशन के लिए वित्त से संबंधित भी कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ सकती हैं जैसे कि –

  • आपको अपने पिछले 12 महीने का बैंक स्टेटमेंट आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करना होगा.
  • आपने अपने व्यवसाय को एमएसएमई के तहत रजिस्टर किया है इसके प्रमाण पत्र की भी आवश्यकता होती है.
  • इसके बाद लाभार्थी को अपना प्रोपराइटर (एस) पैन कार्ड, और साथ अपनी कम्पनी के नाम से बने पैन कार्ड की भी एक कॉपी की आवश्यकता होगी.
  • इसके अलावा व्यवसायी को अपने पिछले 2 वर्षों के प्रॉफिट एवं लोस की बैलेंस शीट की कॉपी भी फॉर्म में अटैच करनी होगी.
  • फिर आवेदन को अपने सेल टैक्स दस्तावेज एवं नगर टैक्स दस्तावेजों की भी एक – एक कॉपी फॉर्म में अटैच करने के लिए कहा जा सकता है. 

एमएसएमई लोन के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें

यदि आपका व्यवसाय एमएसएमई के अंतर्गत आता हैं और आपको लोन की आवश्यकता हैं तो आपको उन बैंकों में से किसी एक बैंक की अधिकारिक वेबसाइट में जाकर लोन के लिए आवेदन करना होगा जोकि एमएसएमई लोन प्रदान करते हैं. हमारे देश में ऐसे कई बैंक हैं जो एमएसएमई लोन उद्यमियों के लिए जारी करते हैं. यहाँ हम आपको पीएनबी बैंक के द्वारा दिए जाने वाले एमएसएमई लोन के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में जानकारी दे रहे हैं.

  • सबसे पहले आवेदकों को पीएनबी बैंक की अधिकारिक वेबसाइट में जाना होगा.
  • यहाँ पहुँचने के बाद आपको सीधे हाथ तरफ एक लिंक दिखाई देगी जिसे पर एमएसएमई लोन लिखा हुआ होगा. आप उस पर क्लिक करें.
  • इसके बाद आपको एमएसएमई लोन जिस भी सरकारी योजना के माध्यम से प्राप्त करना है उस पर क्लिक कर दीजिये.
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा, जहाँ आपसे जो भी जानकारी पूछी जाएगी उसे सही – सही भरकर आपको अंतिम सबमिट करना होगा. आपसे इस फॉर्म में अपने सभी दस्तावेजों को अपलोड करने के लिए भी कहा जायेगा.
  • जब आप फॉर्म सबमिट कर देंगे तो आपका एमएसएमई के तरह रजिस्ट्रेशन हो जायेगा. फिर आपकी स्क्रीन पर आपका रजिस्ट्रेशन नंबर शो होगा जिसे आपको सेव कर लेना है.

इस तरह से आप अन्य किसी भी बैंक की अधिकारिक वेबसाइट में जाकर एमएसएमई लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं. आप चाहे तो बैंक जाकर भी लोन के लिए आवेदन दे सकते हैं. सारी प्रक्रिया सही से हो जाने के बाद आपको लोन की प्राप्त हो जाएगी. 

बैंक में ओवरड्राफ्ट का अर्थ क्या हैं और बिज़नेस में इसका क्या इस्तेमाल हैं, जानने के लिए यहाँ क्लिक करें.  

एमएसएमई लोन देने वाले बैंक्स

एमएसएमई लोन देने वाले कुछ बैंक्स में भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी बैंक, इलाहबाद बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज फिनसर्व, पंजाब नेशनल बैंक, यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया एवं ओरिएण्टल बैंक ऑफ़ कॉमर्स आदि हैं. ये सभी बैंक एमएसएमई लोन प्रदान करने वाली विभिन्न योजनाओं के तहत लोन उपलब्ध कृते हैं. आप इनमें से किसी भी बैंक के तहत लोन प्राप्त कर सकते हैं.

एमएसएमई में शिकायत करने के लिए पोर्टल

केंद्र सरकार ने एमएसएमई के लिए नया पोर्टल लांच किया है जिसका नाम है चैंपियन पोर्टल. यह शिकायत निवारण प्रबंधन प्रणाली शुरू करने के लिए सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय की एक पहल है. यहाँ लोग या संगठन अब अपनी चिंता को दूर करने के लिए अधिकारिक वेबसाइट पर एमएसएमई शिकायत ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म भर सकते हैं. एमएसएमई के तहत शिकायत करने के लिए रजिस्ट्रेशन करने की अनुमति संगठन, एमएसएमई यूनिट, एमएसएमई एम्प्लोयी, सरकारी अधिकारिक, उद्यमी, एक व्यक्ति अकेले को भी दी गई है. यानि इसमें कोई भी रजिस्ट्रेशन कर सकता है.

उद्योग आधार क्या हैं एवं इसके तहत खुद के बिज़नेस को कसी रजिस्टर कर सकते हैं, पूरी प्रक्रिया जानने के लिए यहाँ क्लिक करें.

एमएसएमई में शिकायत करने की प्रक्रिया (MSME Complaint Registration Process)

  • एमएसएमई शिकायत निवारण ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए इस अधिकारिक वेबसाइट पर क्लिक करें.
  • यहाँ पहुँचने के बाद आपको मेनू बार में से ‘रजिस्टर हियर’ पर जाकर ‘रजिस्टर ग्रिएवांस’ पर क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन और एक आवेदन फॉर्म शो होगा जिसमें आपको सभी जनकारी दर्ज करनी होगी. सभी जानकारी देने के बाद ‘गेट ओटीपी ऑन मोबाइल नो. या ईमेल आईडी’ बटन पर क्लिक कर दीजिये. जिससे आपके मोबाइल नंबर पर ओटीपी आ जायेगा, उसे वहां इंटर करने के बाद ओके बटन पर क्लिक कर दीजिये.
  • इस प्रकार लोअग एमएसएमई शिकायत निवारण के तहत रजिस्टर्ड हो जायेंगे. रजिस्टर हो जाने के बाद सरकार द्वारा आपसे आपकी परेशानी पूछी जाएगी और इसका जल्द से जल्द निवारण भी कर दिया जायेगा.

एमएसएमई लोन की विशेषताएं एवं लाभ

  • एमएसएमई लोन बिना किसी कोलैटरल के प्राप्त हो जाता है, यानि इसके बदले में किसी भी चीज को गिरवी रखने की आवश्यकता नहीं है.
  • हालही में लिए गये निर्णय के अनुसार लोन अब 4 साल के लोए प्राप्त किया जा सकता हैं जिसमें 4 महीने की मोराटोरियम छूट भी दी गई है. इससे लोगों को काफी राहत मिलेगी.
  • एमएसएमई लोन सुविधा काफी फ्लेक्सी है क्योकि यह तेजी से बदलती बिज़नेस की जरूरतों को पूरा करने के लिए आसानी से पैसे उधार दे देती है.
  • एमएसएमई लोन के लिए ऑनलाइन आवेदन दिया जा सकता है. और यह कोलैटरल मुक्त राशि के साथ ही 24 घंटों में अप्रूवल भी प्रदान कर देती है.

भारत में किसी व्यव्साय के लिए सरकार और बैंक द्वारा कौन – कौन से लोन दिए जाते हैं, पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें.  

इस तरह से एमएसएमई लोन के लिए आवेदन करके अपने बिज़नेस को बढ़ाया जा सकता है, इससे आपको काफी अच्छी मदद भी मिल सकती हैं. और किसी प्रकार की परेशानी आने वाले पर आप आसानी से शिकायत भी करके उसका निवारण कर सकते हैं.

एफएक्यू (FAQ’s)

Q : एमएसएमई लोन के लिए ब्याज दर क्या है ?

Ans : एमएसएमई लोन के लिए ब्याज दर प्रत्येक बैंक अपने अनुसार निर्धारित करते हैं. इसकी जानकारी आपको बैंक से सम्पर्क करके की प्राप्त हो सकती है.

Q : एमएसएमई लोन प्राप्त करने के लिए क्या क्रेडिट स्कोर महत्वपूर्ण है ?

Ans : हां, एमएसएमई के लिए यह लाभदायक सिद्ध हो सकता है कि वह एक अच्छा क्रेडिट स्कोर रखें.

Q : एमएसएमई एवं एसएमई लोन में क्या अंतर हैं ?

Ans : कोई अंतर नहीं है. एमएसएमई सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग है, एवं एसएमई लघु और मध्यम उद्योग है. इन दोनों एक ही है.

Q : एमएसएमई लोन के लिए आवेदन कैसे करें ?

Ans : एमएसएमई लोन के लिए आवेदन करने के लिए आप यह लोन प्रदान करने वाले किसी भी बैंक की अधिकारिक वेबसाइट में जाकर आवेदन दे सकते हैं या बैंक में जाकर भी इसका आवेदन दिया जा सकता है.

Q : क्या एमएसएमई लोन लोन लेना सुरक्षित है ?

Ans : यह कहना मुश्किल हैं क्योकि यह बैंक के ऊपर निर्भर करता है कि वे इसे किस तरह से प्रदान कर रहे हैं.  

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *