आर्गेनिक फ़ूड स्टोर का बिज़नस कैसे शुरू करें?

आर्गेनिक फ़ूड स्टोर का बिज़नस कैसे शुरू करें (How to Start Organic food shop or health food store business profit margin in Hindi)

आज के जमाने में हर व्यक्ति अपने शरीर को स्वस्थ और तंदुरुस्त बनाना चाहता है. और स्वस्थ रहने के लिए सबसे ज्यादा आपको हरी सब्जियों का सेवन करना पड़ता है, यानी कि ऑर्गेनिक फूड का सेवन करना पड़ता है. ऐसी स्थिति में यदि आपने आर्गेनिक फ़ूड स्टोर का बिज़नस शुरू किया, तो इसकी बढ़ती बिक्री को देखकर इससे आपको काफी अधिक मुनाफा मिल सकता है. अब आप यह मुनाफा किस तरह से प्राप्त कर सकते हैं एवं इसके लिए आपको क्या – क्या तैयारी करनी हैं और इसी तरह की इसमें क्या – क्या चीजों को ध्यान रखना आवश्यक हैं. इसके बारे में हम नीचे दिए गए कुछ बिंदुओं पर अमल करते हुए बता रहे हैं.

organic farming

ऑर्गेनिक फूड क्या होते हैं ? (What are The Organic Foods)

आर्गेनिक फ़ूड स्टोर शुरू करने से पहले, सबसे जरूरी और खास बात, जो आपको जानना आवश्यक हैं, वह यह है कि ऑर्गेनिक पदार्थ होते कौन से हैं और हमारे लिए किस प्रकार फायदेमंद होते हैं. और क्यों इस प्रकार के बिजनेस भारत में बड़ी ही तेजी से वृद्धि कर रहे हैं.

आर्गेनिक फ़ूड में सब्जियां, फल, अनाज, बेकरी के प्रोडक्ट्स और कुछ प्रोसेस्ड फ़ूड आते हैं. जैसे – सेब, स्ट्रॉबैरीज, गाजर, अंगूर, अंडे, उत्तम अनाज, चावल, बेस्ट दूध, डेयरी उत्पाद (मक्खन, दही, दूध, पनीर), हरी सेम, खीरा, साग पत्तेदार सब्जियाँ (पालक, सलाद, कोलार्ड साग), गोभी, टमाटर जड़ी बूटी, आड़ू, काली मिर्च, अजवायन, आलू (शकरकंद सहित) आदि और भी इसी तरह के बहुत से पदार्थ होते हैं, जो कि आर्गेनिक फूड्स की श्रेणी में आते हैं.

आपको बता दें, कि ये फ़ूड इसलिए फायदेमंद होते है, क्योंकि ऑर्गेनिक फार्मिंग ना केवल हमारे शरीर को फिट रखती हैं, बल्कि हमारे वातावरण को भी शुद्ध बनाए रखती हैं. ऑर्गेनिक फार्मिंग में बनने वाले सभी पदार्थ हवा, पानी, मिट्टी से केमिकल को हटाकर शुद्ध वातावरण में पैदा किए जाते हैं. इसीलिए ऑर्गेनिक फार्मिंग का बिजनेस भारत में काफी तेजी से वृद्धि कर रहा है, और उसके ओनर बड़े ही अच्छी मात्रा में मुनाफा भी कमा रहे हैं, इसलिए यह व्यापार काफी फायदेमंद भी है.

ऑर्गेनिक फूड स्टोर के लिए सही स्थान का चयन (How to Select Place for Organic Food Store ?)

हम आपको बता देना चाहते हैं, कि बिजनेस चाहे कैसा भी हो चाहे आप एक छोटी सी फल की दुकान लगाएं या फिर एक बड़ा सा ऑर्गेनिक स्टोर खोलें, ऐसे में सबसे पहले आपको चाहिए, एक अच्छी लोकेशन. अगर आपके पास अच्छी लोकेशन नहीं होगी, तो 100% आपको सफलता नहीं मिलेगी. इसलिए आपकी फूड स्टोर की लोकेशन ऐसी जगह पर होनी चाहिए, जहां पर जनसंख्या ज्यादा हो और उसके साथ – साथ यातायात के सभी साधन पार्किंग आदि के लिए अच्छी जगह भी हो. आपके प्रतिस्पर्धी कम मात्रा में हो, जिससे बिक्री में आसानी हो.

कुल मिलाकर आपकी लोकेशन ऐसे ही स्थान पर होनी चाहिए, जहां पर कस्टमर को आने जाने में, सामान ले जाने में किसी भी प्रकार की कोई भी परेशानी न हो. इसके साथ ही आप यह भी ध्यान रखें, कि आपने जहाँ पर अपना आर्गेनिक फ़ूड स्टोर शुरू किया है, वह किसी भी प्रकार की कानूनी कार्रवाई या फिर किसी भी कानूनी प्रक्रिया से ना गुजरी हुई हो और हमेशा ऐसे मामलों से बचकर रहें.

आर्गेनिक फ़ूड स्टोर के लिए आवश्यक लाइसेंस (Organic Food Store Registration and Licence)

किसी भी प्रकार के बिजनेस को शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको उस बिजनेस को कानूनी मान्यता दिलवाना बहुत ही आवश्यक होता है.

  • आपने यहां पर एक खाद्य पदार्थ से जुड़ा बिज़नस शुरू करने का विचार किया है, तो ऐसे में आपको एफएसएसएआई का लाइसेंस लेने के लिए एप्लाई करना आवश्यक है.
  • आपके आर्गेनिक फ़ूड स्टोर को अधिकारिक तौर पर आर्गेनिक व्यापार ट्रेड एसोसिएशन द्वारा आर्गेनिक के रूप में प्रमाणित किया जाना चाहिए.
  • राज्य कोई भी हो सभी राज्य में स्वास्थ्य विभाग के तहत आवश्यक लाइसेंस और खाद्य परमिट लेना आवश्यक हैं. इसलिए आप अपने आर्गेनिक फ़ूड स्टोर के लिए यह आवेदन अवश्य कराएं.
  • अपने छोटे व्यवसाय के लिए मुख्य ऑपरेटिंग स्ट्रक्चर में से एक का चयन करें, जैसे कि एक कारपोरेशन, लिमिटेड लायबिलिटी कंपनी पार्टनरशिप या एकमात्र प्रोप्रिएटरशिप आदि.
  • अपने आर्गेनिक फ़ूड स्टोर के नाम पर बैंक में खाता खुलवाना न भूलें. इसके साथ ही खरीददारी करने के लिए बिज़नस एटीएम कार्ड का उपयोग करें, यह आपके छोटे स्टोर के लिए क्रेडिट स्थापित करने के लिए हैं.

नोट :- भारत सरकार के द्वारा आपके द्वारा बेचे जा रहे सभी खाद्य पदार्थों की ट्रेडमार्क के माध्यम से जांच होगी, और उसके बाद ही आपके द्वारा बनाये गये खाद्य पदार्थों को कस्टमर तक पहुंचाया जाएगा अन्यथा नहीं. इसके अलावा आपके द्वारा बेची जा रही सभी चीजों पर भारत सरकार द्वारा फूड मार्क (FM) भी लगाया जाएगा.

आर्गेनिक फ़ूड स्टोर के लिए स्टाफ का नियुक्तिकरण (Organic Food Store Staff Hiring)

व्यापार को स्थापित करने के लिए सबसे पहले आपको उसका मैनेजमेंट करने की आवश्यकता पड़ती हैं, क्योंकि एक आदमी पूरे बिजनेस को कभी नहीं संभाल सकता है. ऐसे में आपको मैनेजमेंट के लिए एक अच्छे स्टाफ की जरूरत पड़ेगी. इसमें आपको रिसेप्शनिस्ट और कैशियर की जरूरत पड़ेगी. जरूरी नहीं कि आप हमेशा कस्टमर के साथ रहकर उनकी जरूरतों को पूरा करें, बल्कि आप परदे के पीछे रहकर भी अपने स्टाफ की अच्छी नियत के साथ अपने कस्टमर को पूरा सहयोग प्रदान कर सकते हैं. इसके अलावा आप हर सप्ताह या फिर हर महीने के अंत में अपने स्टाफ के साथ मार्केटिंग रणनीति बना सकते हैं और स्टाफ को समय – समय पर ट्रेनिंग भी दे सकते हैं. यह आपके व्यापार के लिए अच्छा संकेत हो सकता हैं. अतः यह सब कुछ करने में आपको कुछ निवेश की भी जरूरत पड़ेगी, जोकि आपके स्टाफ की सैलरी होगी. यह भी आपको पहले से सुनिश्चित करना होगा.

ऑर्गेनिक फ़ूड स्टोर का अच्छे से मैनेजमेंट करें (Organic Food Store Management)

बिजनेस तो हर कोई शुरू कर देता है, लेकिन उसे सही ढंग से सही व्यवस्था एवं योजना बनाकर चलाना हर किसी के बस की बात नहीं होती है. इसलिए निम्न बातों का ध्यान रखें –

  • हमेशा आप अपने ऑर्गेनिक स्टोर का मैनेजमेंट सही ढंग से करें, कि सामान किस दाम पर अपने कस्टमर को बेचा जा रहा है और हम किस प्रकार से उसको बड़ी ही आसानी से ट्रैक कर सकते हैं.
  • इसके अलावा अपने ऑर्गेनिक स्टोर में सीसीटीवी कैमरा का जरूर उपयोग करें, क्योंकि वर्तमान समय में ऐसे बड़े-बड़े शहरों में चोरियों की वारदात बहुत ज्यादा आ रही है.
  • सबसे पहले ऐसे चोर लोगों से सतर्क रहने के लिए आप अपने स्टोर का सिक्योरिटी सिस्टम अच्छे से तैयार करें.
  • जितना ज्यादा हो सके स्टोर में नगद कम ही मात्रा में रखें, ज्यादा से ज्यादा अपने बैंक अकाउंट या फिर ऑर्गेनिक फ़ूड स्टोर वाले खाते में पूरा पैसा जाए, ऐसा कुछ सिस्टम बनाए.
  • आज लोग ना केवल ऑर्गेनिक पदार्थों को खरीदते हैं, बल्कि अपने स्वास्थ्य के लिए भी सबसे ज्यादा प्राथमिकता भी उन्हीं को देते है. ऐसे में कस्टमर ऑर्गेनिक पदार्थों में सबसे ज्यादा अपनी पूंजी खर्च करता है, इसलिए आप अच्छी क्वालिटी के प्रोडक्ट्स अपनी स्टोर में रखें.

ऑर्गेनिक फ़ूड स्टोर के लिए अच्छी मार्केटिंग करें (Organic Food Store Marketing)

भारत में हालांकि कस्टमर की संख्या ज्यादा होने के कारण कोई भी बिजनेस बड़ी आसानी से चल जाता है, लेकिन एक समय के बाद उस बिजनेस को चलाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है. भारत में ज्यादातर लोग इन – ऑर्गेनिक चीजों को खरीदना पसंद करते हैं,, जबकि ऑर्गेनिक को इतना नहीं. ऐसे में सबसे पहले आपको लोगों को यह बताना होगा कि ऑर्गेनिक चीज़े आपके स्वास्थ्य के लिए कितनी लाभदायक होती है और साथ में आप अपने स्टोर के बारे में भी बताएं. आप सोशल मीडिया जो सबसे बड़ा विशालकाय जाल है, जिसमें देश का हर व्यक्ति जुड़ा हुआ है, वहां पर अपने आर्गेनिक फ़ूड स्टोर की आसानी से मार्केटिंग कर सकते हैं.

साथ ही आप अपनी एक वेबसाइट तैयार कीजिये, और लोगों को ऑर्गेनिक फूड के बारे में बताते हुए उसकी भी मार्केटिंग कीजिये. इसके अलावा आप ऑफलाइन के जरिए भी लोगों में अपने बिजनेस के बारे में जागरूकता फैला सकते हैं. आप बड़े – बड़े बैनर और पोस्टर लगा सकते हैं और पर्सनल छोटे -छोटे कार्ड भी वितरित करवा सकते हैं, जिस पर आपके व्यापार और प्रोडक्ट के बारे में पूरी जानकारी दी गई हो.

ऑर्गेनिक फ़ूड की बिक्री की कीमत तय करें (Organic Food Store Pricing Strategy)

सबसे बड़ी और महत्वपूर्ण बात यह है कि इन – ऑर्गेनिक पदार्थों की तुलना में ऑर्गेनिक पदार्थों की कीमत ज्यादा होती हैं. ऐसे में हमेशा ध्यान रखें कि आपके ऑर्गेनिक पदार्थों की कीमत इतनी ज्यादा भी नहीं हो, कि आपका कस्टमर किसी और से वही पदार्थ प्राप्त करें कम कीमत में. हमेशा अपने आसपास की दुकानों की कीमतों की तुलना करें और उसी के आधार पर अपने पदार्थों की कीमत तय करें. अगर आप जहां पर अपना ऑर्गेनिक स्टोर लगा रहे हैं, वहां पर आस-पास कोई भी ऑर्गेनिक स्टोर नहीं है, तो आप किसी दूसरे अन्य जगह के स्टोर में देखें, कि वहां पर प्रोडक्ट कितना मुनाफा कमा रहा है. इसके बाद आप भी अपने प्रोडक्ट की कीमत उस हिसाब से लगा सकते हैं. आप अपने सामान की कीमत चाहे शुरुआती दौर में ही क्यों ना हो बहुत कम भी ना लगाएं, क्योंकि यह आपके बिजनेस को हमेशा नीचे की ओर ले कर जाएगी और आपको सफलता प्राप्त नहीं होगी.

नोट :- सबसे ध्यानपूर्वक बात यह है कि जब तक आप अपनी पदार्थों की कीमत सही ढंग से नहीं लगा पाएंगे, तब तक आपका कस्टमर बेस बढ़ नहीं पाएगा. इसलिए आप अपने प्रोडक्ट की कीमतों का निर्धारण सही ढंग से करिये.

ओर्गेनिक फूड बिजनेस के लिए निवेश (Organic Food Business Investment)  

ऑर्गेनिक फूड बिजनेस के लिए आपको तकरीबन 10 से 12 लाख रूपये तक की निवेश की जरूरत पड़ सकती हैं. क्योंकि इस प्रकार के बिजनेस में आपको निम्न जगह पर निवेश करना होगा –

  • सबसे पहले तो एक अच्छी लोकेशन चाहिए, जिसके लिए भी कम से कम तीन – चार लाख तक लागत लग सकती हैं.
  • इसके अलावा आपको एक मैनेजमेंट स्टाफ भी चाहिए, जिन्हें आपको सैलरी देने में निवेश करना होगा.
  • जहां से आप सभी माल खरीद रहे हो, उसके लिए भी पैसे लगते हैं. यानि माल खरीदने के लिए आपको कम से कम 5 से 6 लाख रूपये तक का निवेश करना पड़ सकता है.

कुल मिलाकर आपको अच्छा खासा निवेश एक बार के लिए करना पड़ेगा. आप केवल यह मत सोचिये कि आपको केवल निवेश ही करना होगा, बल्कि आपको इसका प्रॉफिट भी मिलेगा, लेकिन इसके लिए कुछ समय लग सकता है.

ओर्गेनिक फूड बिजनेस के लिए लोन (Organic Food Business Loan)

आज के समय में किसी भी व्यापार को शुरू करना काफी आसान हो गया है, क्योंकि भारत सरकार ने हाल ही में कई योजनाएं या लघु उद्योग के लिए सब्सिडी शुरू की है. सरकार ने नए युवाओं को अपना स्वयं का व्यापार शुरू कर सके, इसके लिए कम से कम बीस लाख रूपये तक का बिज़नस लोन जैसी सुविधा देने की योजना बनाई हैं. इसके तहत लोग लोन लेकर अपने व्यापार को स्थापित कर पा रहे है. यदि आप भी उन्हीं में से एक हैं, तो आप भी इस योजना में शामिल होकर बड़ी आसानी से बैंक से लोन प्राप्त कर सकते हैं. लोन लेने के बाद यह जरुरी नहीं है, कि आप उसे व्यापार स्थापित हो जाने के बाद तुरंत ही चूका दें, आप इसे धीरे-धीरे किस्त के जरिए भी चुका सकते हैं.

निष्कर्ष (Conclusion)                

कोई भी काम शुरू करना इतना भी मुश्किल नहीं होता है, कि आप उसे न कर पायें और न ही इतना आसान होता हैं, कि आप उसे चुटकियों में पूरा कर दें. अतः किसी भी व्यापार को करने के लिए भी आपको मेहनत करने की आवश्यकता पड़ती ही हैं. ऊपर दिए गए इन सभी बिंदुओं में यही दर्शाया गया है, कि आप अपना ऑर्गेनिक बिजनेस किस प्रकार शुरू कर सकते हैं और उसके लिए आपको किन – किन जरूरी जानकारी का होना आवश्यक हैं. अतः हमें आशा है कि आप बहुत जल्द अपना बिजनेस शुरू करेंगे और उसमें कामयाबी भी हासिल करेंगे.

अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!