Saturday , November 17 2018

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय की शुरुआत कैसे करें | How to Start Paper Glass Making Business Plan in hindi

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय की शुरुआत कैसे करें | How to Start Paper Glass Making Business Plan in hindi

वर्तमान में अगर आप अपना व्यवसाय शुरू करना चाहते है, तो पेपर ग्लास का व्यवसाय आपके लिए एक बेहतर विकल्प है. पेपर कप या ग्लास का निर्माण पर्यावरण और स्वास्थ्य के अनुकूल भी है. पेपर ग्लास को नष्ट किया जा सकता है, इसके विपरीत प्लास्टिक ग्लास को नष्ट नहीं किया जा सकता. जोकि पर्यावरण और स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक होते है. तेजी से बदलती जीवन शैली के साथ ही पेपर ग्लास का उपयोग चाय, कॉफ़ी की दुकानों में, होटलों में, सुपरमार्केट, शैक्षिक संस्थान, भोजन कैंटीन में होने के साथ ही शादी की पार्टियों में भी इसके उपयोग में तेजी से वृद्धि हो रही है, इस वजह से आप इस व्यवसाय को करने के बारे में सोच सकते है. टिश्यू पेपर बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें यहाँ पढ़ें.  

Paper Glass

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय के लिए वित्तीय योजना (Paper Glass Making Business Plan in hindi)

किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले उसके सफ़लता के लिए योजना बनाना आवश्यक होता है. जैसे की व्यवसाय में होने वाले निवेश, कर्मचारियों पर खर्च, व्यवसाय की मार्केटिंग पर होने वाले खर्च इत्यादि सभी योजना के लिए एक रोड मैप तैयार होना चाहिए, ताकि व्यवसाय शुरू करने में परेशानियों का सामना ना करना पड़े. 

पेपर ग्लास बनाने में लगने वाली कच्ची सामग्री (Paper Glass Making Raw Material)

पेपर ग्लास बनाने में मोम या प्लास्टिक के साथ ही खाद्य ग्रेड या पोली कोटेड कागज जैसी कच्ची सामग्रियों का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे कि ग्लास में अगर ठंडा या गर्म रखें तो भी ग्लास को आसानी से पकड़ा जा सकता है. पेपर प्लेट बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें यहाँ पढ़ें.

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय के लिए मशीनरी और उसकी लागत (Paper Glass Making Machine with Price)

पेपर ग्लास के निर्माण के लिए दो तरह के मशीनों का इस्तेमाल होता है, एक पूर्ण स्वचालित मशीन, जिससे 1 मिनट में 50 से 60 ग्लास का निर्माण हो सकता है, और इसकी लागत 9,00,000 रूपये हैं, और दूसरी अर्ध स्वचालित मशीन. भारत के विभिन्न विक्रेताओं से स्वचालित कट कागज़ विनिर्माण मशीन ख़रीदा जा सकता है, जिसकी लागत 5,50,000 तक हो सकती है वैसे मशीन का मूल्य अलग अलग कंपनियों का अलग अलग हो सकता है.

कहाँ से खरीदे : पेपर ग्लास की कच्ची सामग्रियों और मशीन को ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त करने के लिए आप इस लिंक को देख सकते है- 

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय को शुरू करने के लिए स्थान की आवश्यकता (Paper Glass Making Business Required Places)

500 स्क्वायर फीट स्थान में बिजली कनेक्शन के साथ आप इस व्यावसाय को शुरू कर सकते है. अगर आपका घर बड़ा है और आपके घर में बहुत खाली स्थान है तो इस व्यवसाय को आप घर से भी शुरू कर सकते है.

पेपर ग्लास के निर्माण की प्रक्रिया (Paper Glass Making Process)

पेपर ग्लास का निर्माण तीन चरणों में होता है:

  • पहले चरण में ग्लास के आकार के अनुसार कटिंग पाली कोटेड पेपर, मशीन में लगता है जो कि हल्का गीला होता है, इसका गोल कोन बनती है.
  • दुसरे चरण में कोन के नीचे कागज की गोल तली लगती है.
  • उसके बाद तीसरे चरण में ग्लास की जाँच प्रक्रिया हो कर यह एक जगह एकत्रित हो जाती है. 

पेपर ग्लास की पैकेजिंग (Paper Glass Packaging)  

इसकी पैकिंग और गिनती पूर्ण ऑटोमेटिक मशीन के माध्यम से स्वचालित रूप से होती है, सेमी ऑटोमेटिक मशीन में ग्लास बनने के बाद गिनती कप के आकर के अनुसार तैयार लंबे प्लास्टिक में लगभग 100 की संख्या तक ग्लास की पैकिंग श्रमिक के माध्यम से की जाती है.          

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय में लगने वाली लागत (Paper Glass Making Business Cost)  

पेपर ग्लास का व्यवसाय शुरू करने में लगभग 10 लाख से 15 लाख रूपये तक की लागत के साथ 2.2 करोड़ पेपर ग्लास का निर्माण कर 66 लाख रूपये तक कमा सकते है. 

सामग्री खर्च
स्थान का मूल्यशहर और स्थान के अनुसार अलग हो सकता है. 
मशीन का मूल्य5,50,000 रुपये 
कर्मचारियों पर होना वाला खर्च11,000 रुपये 
पोली कोटेड पेपर80,000 
पेपर छपाई इत्यादि पर होने वाला खर्च1,60,000 
पैकिंग सामाग्री20,000 
बिजली और पानी2,650 रूपये 
अन्य खर्च जैसे टेलीफोन बिल, मरम्मत, परिवहन, स्टोर इत्यादि पर   14,500 
कुल खर्च8,38,150

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय के लिए कर्मचारियों को रखने की लागत योजना (Paper Glass Making Business Employees Salary)

अपने ग्लास व्यवसाय की यूनिट को चालू करने के लिए आपको कुछ कर्मचारियों की आवश्यकता होगी. इस व्यावसाय को केवल तीन व्यक्तियों के साथ भी किया जा सकता है, जिसमे एक उत्पादन प्रबन्धक, एक कुशल और एक अकुशल कर्मचारी भी हो सकते है. 

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय के लिए लोन की आवश्यकता (Required Loan for Paper Glass Making Business)  

विभिन्न योजनाओं के तहत स्टार्टअप व्यवसाय के लिए बैंक से लोन भी प्राप्त किया जा सकता है. मुद्रा लोन योजना के तहत 10 लाख रुपये तक का ऋण बिना किसी पूंजी को जमानत के तौर पर रखे विभिन्न बैंकों या वित्तीय संस्थानों से आसानी से मिल सकता है. 

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय के लिए लाइसेंस की प्राप्ति (Paper Glass Making Business License)  

एकल स्वामित्व कंपनी के रूप में व्यवसाय का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए और व्यवसाय को संचालित करने के लिए क़ानूनी लाइसेंस को प्राप्त करना आवश्यक है. इसके लिए जिस स्थान से आप व्यवसाय करने जा रहे है, वहां के स्थानीय प्राधिकरण से संपर्क करके सारी क़ानूनी औपचारिकता को पूरा कर लें. अगर आप बिजली आपूर्ति के लिए विकल्प के रूप में डीजल जनरेटर की आपूर्ति को रखना चाहते है, तो आपको स्थानीय जिला प्राधिकरण से विशेष अनुमति लेनी पड़ेगी.

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय की मार्केटिंग (Paper Glass Making Business Marketing)

अपने उत्पाद का विज्ञापन आप टीवी चैनल, अखबार और बैनरों के माध्यम से कर सकते है. व्यवसाय की मार्केटिंग नेट और सोशल मीडिया के माध्यम से भी वर्तमान में खूब प्रचलित है. आप इसकी मार्केटिंग के लिए बड़ी कंपनियों जैसे कि कोकाकोला, पेप्सी इत्यादि से जुड़ कर उन्हें अपने यहाँ से तैयार माल को थोक रूप में बेच सकते है

पेपर ग्लास बनाने के व्यवसाय में लाभ (Paper Glass Making Business Profit)

पेपर ग्लास की कीमत उसकी बनावट, आकार इत्यादि पर निर्भर होती है, जैसे अगर आप प्रिंटेड पेपर ग्लास बनाते हैं, तो इसकी एक ग्लास की कीमत लगभग 60 पैसे तक हो सकती है जिसे आप बाजार में 1 रूपये प्रति ग्लास के रूप में बेच सकते हैं. अगर आप प्लेन पेपर ग्लास बनाते हैं, तो इसकी एक ग्लास की कीमत 30 पैसे हो सकती है जिसे आप 80 पैसे में बेच सकते हैं.  

अन्य नए व्यापर शुरू करने के तरीके जानने के लिए पढ़े:

3 comments

  1. Hello ,mall ki marketing karne k liye ,direct sell ka bhi praband batao

  2. Pepar.cup making.machin kahan milega contact nomber or sara Details mere email ID per bheigenge ap sir

  3. its a good idea

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *