पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी : करना होगा सिर्फ 5 हजार का निवेश, पहले ही दिन होगी बेहतरीन कमाई, जानें कैसे करना होगा आवेदन

आज के समय में बेरोजगारी से बहुत लोग जूझ रहे हैं. बहुत से लोग तो ऐसे हैं कि पढ़े लिखे बेहतर डिग्री प्राप्त कर चुके हैं, लेकिन फिर भी उनके पास नौकरी नहीं है. सरकारी क्षेत्र में तो नौकरी की कमी बहुत आम बात हो गई है. आपको बता दें कि हमारे देश में भारतीय डाक विभाग का नेटवर्क बहुत बड़ा है. इसकी ब्रांच देश के शहरी ईलाकों में ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी है. भारतीय डाक विभाग अपने इस नेटवर्क को देश के कोने-कोने में पहुँचाना चाहता है इसलिये वह अपनी फ्रैंचाइज़ी भी देता है. यदि कोई व्यक्ति पढ़ा लिखा है और उसे रोजगार की तलाश है तो भारतीय डाक विभाग द्वारा दी जा रही ‘पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी’ को लेकर बेहतरीन कमाई कर सकता है. यह फ्रैंचाइज़ी वह कैसे प्राप्त कर सकता है इसकी जानकारी उन्हें यहाँ इस लेख के माध्यम से हम देने जा रहे हैं.

post office franchise kaise le in hindi

फ्रैंचाइज़ी क्या है, इसके प्रकार जानें एवं इससे ये लाभ प्राप्त कर सकते हैं.  

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी लेने के लिए पात्रता मापदंड

  • भारत का रहने वाला कोई भी व्यक्ति जिसकी उम्र 18 साल या उससे अधिक हैं वह पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी लेने के लिए पात्र हैं.
  • पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी न सिर्फ कोई व्यक्ति बल्कि इंस्टिट्यूशन, आर्गेनाइजेशन के अतिरिक्त दुकान वाला, छोटे स्तर का कारोबारी, इंडस्ट्रियल सेंटर, कॉलेज, यूनिवर्सिटी, पोलिटेक्निक क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले व्यक्ति भी ये फ्रैंचाइज़ी लेने के लिए पात्र हैं.
  • पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी कम पढ़ा लिखा व्यक्ति भी ले सकता है लेकिन उसका कम से कम आठवीं पास होना आवश्यक है.

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक की पहचान के लिए आधार कार्ड एवं पैन कार्ड
  • भारत का निवासी एवं पते का प्रमाण देने के लिए स्थाई निवासी प्रमाण पत्र
  • उम्र पात्रता दर्शाने के लिए जन्म प्रमाण पत्र भी आवश्यक है.

कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) खोलने के लिए सरकार कर रही है मदद, जानें कितनी इनकम होगी.

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी के लिए आवेदन कैसे करें

  • पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी लेने के लिए आवेदनकर्ता को भारतीय डाक विभाग की अधिकारिक वेबसाइट में विजिट करना होगा.
  • यहाँ पर पहुँचने के बाद आपको एक लिंक मिलेगी, जिस पर क्लिक करके आपको पीडीएफ के रूप में आवेदन फॉर्म प्राप्त होगा. आप उसे डाउनलोड करके प्रिंट करा लें.
  • इसके बाद आप इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को सही – सही भरें और फिर इस फॉर्म को अपने सभी दस्तावेज की कॉपी को अटैच करने के बाद अपने पास के भारतीय डाक विभाग के कार्यालय में जाकर जमा कर दें.
  • यह करने के बाद आपका पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी लेने के लिए आवेदन पूरा हो जायेगा.

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी को वितरित करने की चयन प्रक्रिया

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी को भारतीय डाक विभाग द्वारा सिलेक्शन डिविजन हेड के के माध्यम से वितरित किया जाता है. जब आवेदक अपने आवेदन फॉर्म को जमा कर देता है तो उसके बाद 14 दिन तक एएसपी / एसडीआई की रिपोर्ट के आधार पर चयन प्रक्रिया चलती हैं इसके बाद फिर आवेदक का चयन कर उन्हें फ्रैंचाइज़ी प्रदान की जाती है.

जीएसटी सुविधा केंद्र खोलकर कर सकते हैं जीएसटी रजिस्ट्रेशन करने में लोगों की मदद, और कमा सकते हैं लाखों रूपये.  

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी के लिए ट्रेनिंग  

जब आवेदक का पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी लेने के लिए चयन हो जाता है तो इसके बाद चयन किये गये व्यक्तियों या संस्थानों को क्या और कैसे काम करना है इसकी कुछ समय के लिए ट्रेनिंग दी जाती है. ये ट्रेनिंग इसलिए दी जाती हैं ताकि उन्हें उनके कार्य को करने में किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़े.

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी लेने के लिए सुरक्षा शुल्क

भारतीय डाक विभाग द्वारा दी जाने वाली पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी को प्राप्त करने के लिए आवेदकों को आवेदन करने के बाद 5 हजार रूपये तक का सुरक्षा शुल्क देना होता है. यह सुरक्षा शुल्क आपके 1 दिन में किये जाने वाले वित्तीय लेनदेन पर आधारित होता है. यदि आपका समय के साथ रेवेन्यू बढ़ता जाता है तो आपसे लिया जाने वाला सुरक्षा शुल्क भी बढ़ता जाता है. और यह देना जरुरी होता है क्योंकि इसके बिना फ्रैंचाइज़ी नहीं मिल सकती है.

अमूल की फ्रैंचाइज़ी लेकर कम सकते हैं अच्छा मुनाफा, ऐसे मिलती हैं इसकी फ्रैंचाइज़ी.

पोस्ट ऑफिस में किये जाने वाले कार्य

फ्रैंचाइज़ी मिल जाने के बाद पोस्ट ऑफिस में निम्न कार्य करना होगा –

  • फ्रैंचाइज़ी के बाद आवेदक को स्पीड पोस्ट, मनीऑर्डर की बुकिंग आदि सेवाएं ग्राहकों को देनी होती है.
  • इसके अलावा स्टाम्प एवं स्टेशनरी से संबंधित कार्य भी उन्हें करने पड़ते हैं.
  • उन्हें फ्रैंचाइज़ी लेने के बाद अपने ग्राहकों को पोस्टल लाइफ इन्सुरांस और प्रीमियम भुगतान सेवा भी प्रदान करनी होती है.
  • पोस्ट ऑफिस में बिल, टैक्स, जुर्माना कलेक्शन जैसी भुगतान आदि का कार्य भी करना होता है.
  • आवेदक अपने ग्राहकों को ई – गवर्नेंस, एवं सिटीजन जैसी सर्विस भी प्रदान करने के लिए पात्र होते हैं.
  • इसके साथ ही आपको बता दें कि भारतीय डाक विभाग द्वारा जो भी सेवाएं दी जाती हैं, वह सभी पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी लेने वाले व्यक्ति को अपने ग्राहकों को देनी होगी.

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी से कमाई कैसे होगी  

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी लेने के बाद व्यक्ति कमीशन के आधार पर कमाई करता है. दरअसल जब कोई व्यक्ति पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी लेता हैं तो उसके द्वारा जो भी सेवाएं उनके ग्राहकों को दी जाती है उस सब के लिए उन्हें कुछ न कुछ कमीशन मिलता है. यह कमीशन पहले से ही डाक विभाग द्वारा एमओयू के माध्यम से निर्धारित किया गया है. यहाँ हम आपको कमीशन के बारे में कुछ जानकारी देने जा रहे हैं –

  • जब आप एक रजिस्टर्ड आर्टिकल की बुकिंग करते हैं तो उस पर आपको 3 रूपये का कमीशन मिलता है.
  • एक स्पीड पोस्ट आर्टिकल की बुकिंग करते हैं तो उसके लिए 5 रूपये का कमीशन मिलता है.
  • यदि आप 100 से 200 रूपये तक का मनीऑर्डर करते हैं तो इसके लिए आपको 3.50 रूपये का कमीशन मिलता है.
  • 200 रूपये से ज्यादा का मनीऑर्डर करते हैं तो उस पर कम से कम 5 रूपये का कमीशन तय किया गया है.
  • यदि आपके द्वारा रजिस्ट्री एवं स्पीड पोस्ट की बुकिंग प्रतिमाह 1000 से भी ज्यादा की जाती है तो इस पर आपको 20 % तक का कमीशन प्राप्त होता है.
  • यदि आप पोस्टेज स्टाम्प, पोस्टल स्टेशनरी एवं मनीऑर्डर फॉर्म को बेचते हैं तो इसमें आपको कुल सेल अमाउंट का 5 % कमीशन मिलता है.
  • इन सब के अलावा पोस्टल डिपार्टमेंट की ओर से रेवेन्यू स्टाम्प सेंटर रिक्रूटमेंट एजेंसी के फीस स्टाम्प पर उनकी कमाई का लगभग 40 % तक का कमीशन मिल जाता है.

राशन की दुकान खोलने के लिए सरकार कर रही हैं मदद, होगी बंपर कमाई, ऐसे करना होगा आवेदन.

इस तरह से जो व्यक्ति बेरोजगार हैं और जिन्हें रोजगार की तलाश हैं वे भारतीय डाक विभाग द्वारा दी जाने वाली फ्रैंचाइज़ी के लिए आवेदन करके इसे प्राप्त कर सकते हैं. इससे बेहतरीन कमाई करने का मौका उन्हें प्राप्त हो जायेगा.

अन्य पढ़ें –

Leave a Comment