छोटे किसानों के लिए कृषि के कुछ व्यवसाय की जानकारी | Top Agricultural Business Ideas for Small Farmers in Hindi

छोटे किसानों के लिए कृषि के कुछ व्यवसाय की जानकारी (Top Agricultural Business Ideas for Small Farmers in Hindi)

कई बार ऐसा होता है कि सूखे, कर्ज या बहुत अधिक बारिश होने की वजह से किसानों का जीवन पीड़ा से भरा हो जाता है, लेकिन आज के समय में छोटे किसानों के लिए व्यवसाय के कई विकल्प आ गए हैं, जिससे वे अपना जीवन स्तर बेहतर बना सकते हैं. अतः अब छोटे पैमाने के किसान भी अपनी खेती से अधिक राजस्व उत्पन्न कर सकते हैं. इसलिए यदि आप उनमें से एक हैं, और कृषि में एक लाभदायक भविष्य की तलाश कर रहे हैं, तो हमारे इस लेख में नजर डालिए, जहाँ आप अपने रिसोर्स और स्थानीय मांग के साथ कृषि क्षेत्र में कई तरह के व्यवसाय की जानकारी प्राप्त कर उनमें से एक व्यवसाय का चयन कर उसे शुरू कर सकते हैं.

Top Farmin Business ideas for Farmers

कृषि व्यवसाय की कुछ श्रेणियां (Agriculture Business Categories)

कृषि व्यवसाय के विकल्प जानने से पहले उसकी श्रेणियों के बारे में बात करते हैं, जिसे 3 बड़ी श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है. और वे हैं –

  • प्रोडक्शन रिसोर्सेज (Productive Resources) :- इस श्रेणी में मुख्य रूप से चारा, बीज, फ़र्टिलाइज़र, उपकरण, ऊर्जा और मशीनरी आदि आते हैं.
  • कृषि वस्तुएं (Agricultural Commodities):- इसमें कुछ वस्तुएं जैसे कच्चा माल और खाद्य एवं फाइबर की प्रोसेस्ड वस्तुएं भी कृषि व्यवसाय की श्रेणी हैं.
  • सुविधा सेवाएं (Facilitative Services) :- इस श्रेणी में क्रेडिट, बीमा, मार्केटिंग, स्टोरेज, प्रोसेसिंग, परिवहन, पैकिंग आदि से जुड़े व्यवसाय आ सकते हैं.

छोटे किसानों के लिए कृषि के कुछ व्यवसाय (Agriculture Business Ideas for Small Farmers)

यहां हम आपको कुछ छोटे खेती के जुड़े व्यवसाय की जानकारी दे रहे हैं, जिसे शुरू कर किसान अपनी अजीविका चला सकते हैं –

प्रोडक्शन रिसोर्सेज जैसे कृषि उपकरण एवं अन्य सप्लाई उत्पाद से सम्बंधित कुछ व्यवसाय के उदाहरण –

  • कृषि उपकरण किराया :- यदि आपके पास बेहतर कृषि के उपकरण मौजूद हैं या आपके पास उसे खरीदने के लिए पर्याप्त पूंजी हैं, तो आप इसे खरीद कर किराये पर चला सकते हैं. आप अपने इन उपकरणों को किसानों को किराये पर या पट्टे पर दे सकते हैं. और इस तरह से यह व्यवसाय आप कर सकते हैं.
  • पेड़ों के बीज की सप्लाई :- विभिन्न तरह के पेड़ों के बीज काट कर आप इसे लोगों को बेच कर भी व्यवसाय कर सकते हैं. क्योंकि आज बहुत से लोग नये पौधे लगाना चाहते हैं. तो ऐसे में यह व्यवसाय बहुत अच्छा हो सकता है.
  • फलों और सब्जियों का निर्यात :– फलों और सब्जियों के व्यापार को स्थानीय किसानों से एकत्र करके निर्यात शुरू कर सकते हैं. यह आसान कम्युनिकेशन के माध्यम से किया जा सकता है, जैसे एक टेलीफोनिक, वार्तालाप, इन्टरनेट कनेक्शन के साथ वाला कंप्यूटर आदि.
  • कृषि फार्म :- आप उचित पैसे लगाकर कृषि फार्म शुरू कर सकते हैं. आप स्थानीय मांग के अनुसार वस्तुओं का उत्पादन कर सकते हैं, और उन्हें स्थानीय स्तर पर बेच सकते हैं. इसके अलावा यदि आप इसे दूर के क्षेत्रों के लिए करना चाहते हैं, तो आप डिस्ट्रीब्यूशन चैनलों के माध्यम से भी उत्पाद की सप्लाई कर सकते हैं.
  • फ़र्टिलाइज़र वितरण व्यवसाय :- इस व्यवसाय को मध्यम पूंजी का निवेश कर शुरू कर सकते हैं. यह ज्यादातर सरकार के नियंत्रण में होता है. इसलिए यह आपके लिए अच्छा साबित हो सकता है.
  • आर्गेनिक फार्म ग्रीन हाउस :– आर्गेनिक रूप से विकसित कृषि उत्पादों की बढ़ती मांग के कारण इस कृषि व्यवसाय में वृद्धि हुई है. चूंकि देखा जाता है कि रसायनों और फ़र्टिलाइज़र्स के साथ उगायें जाने वाले खाद्य पदार्थों में कई हेल्थ रिस्क हो सकते हैं, इसलिए लोग आर्गेनिक खाद्य पदार्थ उगा कर आर्गेनिक फार्म ग्रीन हाउस शुरू कर सकते हैं.

सुविधा सेवाओं से सम्बंधित कुछ अन्य व्यवसाय के उदाहरण –

  • खाद्य पदार्थों की थोक बिक्री :– आप ऐसे खाद्य पदार्थों की भी कटाई कर सकते हैं, जिन्हें चावल या मकई उत्पाद की तरह थोक में बेचा जा सकता है, इन उत्पादों को आप थोक में खाद्य उत्पादन कंपनियों को बेच सकते हैं.
  • हाइड्रोपोनिक रिटेल स्टोर :- यह एक नई वृक्षारोपण तकनीक है, जिसमें कमर्शियल और घरेलू उपयोग दोनों के लिए वृक्षारोपण के लिए मिट्टी की आवश्यकता होती है.
  • भोजन पहुँचाना :- यदि आप खाद्य पदार्थों को उगाते या बनाते हैं, तो आप स्थानीय उपभोक्ताओं को जो स्थानीय उत्पादों को खरीदना चाहते हैं, उन्हें आप ताज़ा खाद्य पदार्थ वितरित करने के लिए एक व्यवसाय का निर्माण भी कर सकते हैं.
  • फूलवाला :– इस व्यवसाय के लिए फूलों के उत्पादकों के साथ एक खुदरा स्थान और कनेक्शन की आवश्यकता होती है. यह सबसे अधिक लाभदायक खुदरा कृषि व्यवसाय के विकल्पों में से एक है, जो ग्राहकों को फूलों की डोरस्टेप डिलीवरी प्रदान करके ऑनलाइन भी किया जा सकता है.
  • आटा मिलिंग :– आप आटा मिल का व्यवसाय भी कर सकते हैं, इसमें अपने खुद के ब्रांड के नाम से उत्पाद स्थापित करना इस व्यवसाय में अत्यधिक लाभदायक है.
  • जड़ी बूटी का व्यवसाय :– कृषि के लिए तुलसी, पार्सले और इसी तरह की जड़ी बूटियाँ महान कृषि उत्पादों में से हैं. इसलिए आप इसे अपने घर या खेत में उगा सकते हैं. और बेच कर व्यवसाय शुरू कर सकते हैं.
  • खेत की फसल :– सोयाबीन, लौंग और अन्य प्रकार की फसलों को उगाने के लिए उचित मात्रा में क्षेत्र की आवश्यकता होती है. अगर आपके पास जमीन है, तो आप इस तरह के खाद्य उत्पादकों को बेचने के लिए विशिष्ट फसलों की कटाई कर सकते हैं.
  • तितली की खेती :- अक्सर देखा जाता है कि तितलियों का उपयोग माली अपने पौधों की प्रोसेसेज एवं सौन्दर्य को बढ़ाने के लिए करते हैं. ऐसे में यदि आप खुद की तितली कॉलोनी शुरू करते हैं और ऐसे ग्राहकों को टारगेट करते हैं जिन्हें इसकी आवश्यकता होती है तो इससे काफी अच्छा व्यवसाय शुरू हो सकता है.
  • प्लाटिंग सेवा :- यदि आपके पास अपना खुद का खेत नहीं है, लेकिन फिर भी आप फसल बुवाई करना जानते हैं, तो आप इस तरह के व्यवसाय पर ध्यान केन्द्रित कर सकते हैं, जहाँ आप अपनी खुद की प्लाटिंग सेवा शुरू कर सकते हैं. इसके लिए आप अपने क्षेत्र के अन्य किसानों या उत्पादकों के साथ भी काम कर व्यवसाय शुरू कर सकते हैं.
  • सूखे फूल का व्यवसाय :- फूलों का उत्पादन आज के कृषि में सबसे तेजी से बढने वाली फसल प्रवृत्तियों में से एक हैं. इस व्यवसाय में सभी प्रकार के फूलों की आवश्यकता होती हैं, जोकि विशेष रूप से यूनिक और हार्ड किस्मों के बढने के लिए जरुरी है.

पशु पालन से संबंधित कुछ छोटे व्यवसाय के उदाहरण –

  • मुर्गी पालन :– आप खाद्य उत्पादन कंपनियों की आपूर्ति के लिए मुर्गियों और अन्य पोल्ट्री जानवरों की देखभाल पर ध्यान केन्द्रित कर सकते हैं. यह कृषि और खेती व्यवसाय का सबसे तेजी से बढ़ता क्षेत्र माना जाता है.
  • मधुमक्खी पालन (Beekeeping):- मधुमक्खी पालन का व्यवसाय शहद और अन्य उत्पादों जैसे मोम बेचने के लिए किया जाता है. आपको यह पता होगा कि विश्व स्तर पर शहद की मांग कितनी ज्यादा है. इस व्यवसाय का विकल्प एक लाभकारी वेंचर है, जिसमें कम निवेश की आवश्यकता होती है. इसमें मधुमक्खियों के क्लोज सुपरविज़न के साथ दिन – प्रतिदिन निगरानी की आवश्यकता होती है.
  • मछली पालन (Fish Farming) :मछली पालन व्यवसाय वर्ष के किसी भी समय किया जा सकता है. इसके लिए आधुनिक तकनीकों और मध्यम पूंजी निवेश की आवश्यकता होती है.
  • खरगोश पालन (Rabbit Farming):– आप खरगोश पालन का व्यवसाय भी शुरू कर सकते हैं. आपके लिए छोटे पैमाने या समान एनक्लोसर के अंदर विभिन्न पर्पस के लिए खरगोश पालन कर व्यवसाय करना अच्छा हैं.
  • वॉर्म (कृमि) पालन :- खाद्य उत्पादकों के लिए खाद एक बहुत ही उपयोगी उपकरण हो सकता हैं. तो आप खाद बना कर किसानों और माली को बेच सकते हैं, और इस तरह से अपना खुद का वॉर्म फार्म शुरू कर सकते हैं.

उत्पादन से संबंधित व्यवसाय के कुछ उदाहरण –

  • वर्मीकम्पोस्ट आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र उत्पादन :- यह व्यवसाय ऐसा व्यवसाय हैं, जिसके लिए बहुत कम निवेश की आवश्यकता होती हैं, और इसलिए इसे स्टार्टअप कृषि व्यवसाय के लिए लाभदायक माना जा सकता हैं, इसका मतलब यह हैं कृषि के व्यवसाय की शुरुआत के लिए यह अच्छा हैं. इसमें केवल आपको उत्पादन प्रक्रिया कैसी हैं ? इसकी उचित जानकारी होनी चाहिए और फिर आप इस व्यवसाय को शुरू कर सकते हैं.
  • मशरूम की खेती का व्यवसाय :- इस व्यवसाय को करके आप कुछ ही हफ्तों में बहुत अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. इसके लिए कम स्टार्टअप पूंजी निवेश की आवश्यकता होती है. अतः मशरूम उगाने की थोड़ी जानकारी और एक खेत के साथ मशरूम की खेती का व्यवसाय किया जा सकता है.
  • सूरजमुखी की खेती :- सूरजमुखी की खेती व्यवसाय शुरू करने के लिए जमीन प्राथमिक आवश्यकता है. तिलहन के लिए सूरजमुखी उगाने के लिए छोटे निवेश की आवश्यकता होती है. इसे कमर्शियल कैश क्रॉप भी कहा जाता है.
  • वानस्पतिक कीटनाशक उत्पादन :– यह आर्गेनिक खेती के लिए आवश्यक और अनिवार्य है. चूंकि इस उत्पाद की मांग अधिक है, इसलिए इसे सबसे अधिक लाभदायक कृषि व्यवसाय में से एक माना जा सकता है.
  • झाड़ू उत्पादन :– यह एक अच्छा और लाभदायक व्यवसाय है, क्योंकि झाड़ू का इस्तेमाल सदियों से सफाई के उद्देश्य के लिए किया जाता रहा है. यह एक सरल व्यवसाय है और इसे भी कुछ ही पूंजी का निवेश कर शुरू किया जा सकता है.
  • टोकरी बनाना :– इस व्यवसाय के लिए एक विचारशील योजना और एक उच्च स्तरीय रचनात्मक माइंड की आवश्यकता होती हैं जिसमें बेहतर डिज़ाइन की कला है. इस व्यवसाय को कम पूंजी निवेश के साथ घर से ही शुरू किया जा सकता है.
  • क्रिसमस ट्री की खेती :- आप अपनी कृषि युक्त जमीन पर देवदार के पेड़ भी उगा सकते हैं, जोकि क्रिसमस ट्री के लिए बहुत अच्छा विकल्प होता है. सर्दियों की छुट्टियों के आसपास इसके बहुत से ग्राहक हो सकते हैं आप उन्हें यह बेच कर व्यवसाय कर सकते हैं. और लाभ भी कमा सकते हैं.
  • जलाऊ लकड़ी का उत्पादन :- यदि आपकी जमीन पर अन्य प्रकार के पेड़ हैं. तो आप उसकी लकड़ी को जलाऊ लड़की के रूप में उन लोगों को बेच सकते हैं जिन्हें इसकी जरुरत हैं. इस व्यवसाय को लंबे समय तक के लिए स्थायी व्यवसाय बनाना आपकी जमीन की मात्रा के बढने पर निर्भर करेगा, जिस पर आप निरंतर रिप्लांट के माध्यम से पेड़ों की कटाई और व्यवस्थित भराई भी कर सकते हैं.
  • ऊन का उत्पादन :- यदि आप ऊन का उत्पादन करना चाहते हैं तो आप इसके लिए भेड़ और अल्पका जैसे बढ़ते जानवरों पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं.
  • पालतू खाद्य उत्पादन :- आप पालतू खाद्य के उत्पादन के लिए विभिन्न प्रकार की फसलों और खाद्य उत्पादों का उपयोग कर सकते हैं. जिन्हें आप उपभोक्ताओं को बेच सकते हैं.

खाद्य पदार्थों के उत्पादन से संबंधित कुछ व्यवसाय के विकल्प –

  • फ्रोजेन चिकन उत्पादन :– इस उत्पाद की मांग विश्व स्तर पर काफी अधिक बढ़ रही है. कई मेट्रो या उपनगरीय शहर में रहकर इस व्यवसाय को शुरू किया जा सकता है.
  • सब्जियों एवं फलों की फार्मिंग :- आप विभिन्न सब्जियों की एक किस्म भी उगा सकते हैं. और उन्हें विभिन्न उत्पादों को बेचने और बनाने के लिए कटाई कर सकते हैं. या आप अन्य फलों पर आधारित उत्पादों को बेचने या बनाने के लिए विभिन्न प्रकार के फलों को उगा सकते हैं और उसकी भी कटाई कर सकते हैं.
  • दूध उत्पादन :- यदि आपके पास गायों या अन्य डेयरी जानवरों के लिए जगह और देखभाल करने की क्षमता है, तो आप अपने स्वयं के डेयरी फार्म शुरू कर सकते हैं. जहाँ आप दूध, पनीर और इसी तरह के उत्पादों का उत्पादन करते हैं.
  • सोया उत्पादन :- सोया एक अन्य लोकप्रिय पदार्थ है, जिसका उपयोग विभिन्न प्रकार के विभिन्न उत्पादों में किया जा सकता है. इसलिए यदि आप इसकी कटाई और प्रोसेसिंग कर सकते हैं, तो आप इसे विभिन्न उपयोगों के लिए कंपनियों को बेच सकते हैं.
  • फ्रूट कैनिंग एवं जैम उत्पादन :- यदि आप फलों को उगाते हैं या प्रोसेस करते हैं, तो आप इसे उपभोक्ताओं या खाद्य कंपनियों को बेच सकते हैं. इसके अलावा आप जैम या जेली उत्पादों को बनाने के लिए भी विभिन्न फलों की प्रोसेसिंग कर सकते हैं. इसके साथ ही फलों का रस भी फलों पर आधारित प्रसिद्ध उत्पाद हैं. इसे आप संभावित रूप से किसानों के बाजारों या अन्य स्थानों पर बना सकते हैं और बेच भी सकते हैं.
  • मसाला उत्पादन :- यदि आप कृषि क्षेत्र से संबंध रखते हैं, तो आप विभिन्न तरह के मसाले का उत्पादन करना भी जानते होंगे. तो आप इन मसालों का उत्पादन कर इसे प्रोसेस्ड या बेच भी सकते हैं. और अच्छा खासा व्यवसाय शुरू कर सकते हैं.
  • मूंगफली प्रोसेसिंग :- मूंगफली का उत्पादन भी एक बहुत अच्छा व्यवसाय साबित हो सकता है, क्योंकि इसकी मांग बाजार में हमेशा रहती ही है. आप पैकेट बना कर इसे बेच भी सकते हैं.
  • तेल उत्पादन :- विभिन्न प्रकार के अन्य पौधे भी होते हैं जैसे आप तेल का उत्पादन कर सकते हैं. इसका उपयोग खाना पकाने या अन्य उद्देश्यों के लिए किया जाता है. यदि आप तेल का उत्पादन कर इसे बेचते हैं तो यह भी आपके लिए एक कारीगर व्यवसाय हो सकता है.

पर्यटन एवं आकर्षण के केंद्र से सम्बंधित कुछ व्यवसाय के विकल्प –

  • मकई भूलभुलैया ऑपरेशन :- यदि आपके पास जो जमीन हैं वहां मकई के पौधे हैं, तो आप एक मकई भूलभुलैया बना सकते हैं. जहाँ लोग वर्षभर घूमने के लिए आते हैं आप उनसे इसके लिए चार्ज लेकर पैसे कमा सकते हैं.
  • पालतू जू ऑपरेशन :- आप कुछ जानवरों को भी पाल सकते हैं, और यहाँ एक आकर्षक जू के रूप में अपने खेत में आने वाले लोगों का स्वागत भी कर सकते हैं. इसके लिए भी आप उनसे कुछ पैसे ले सकते हैं.
  • एजुकेशनल फार्मिंग :- यदि आपको कृषि के बारे में बेहतर तरीके का ज्ञान हैं, तो आप अपने इस ज्ञान को उन लोगों के साथ बांट सकते हैं, जो लोग यह ज्ञान प्राप्त करने के इच्छुक हैं. वे छात्र समूहों में हो तो आपको इससे अधिक लाभ प्राप्त होगा.
  • ट्रेल राइड सेवा :- यदि आपके पास एक ट्रेक्टर या अन्य वाहन हैं, जिसे आप अपने खेत या प्रॉपर्टी के विभिन्न हिस्सों में चला सकते हैं, तो आप आकर्षण के रूप में ट्रेल राइड सेवा लोगों को प्रदान कर सकते हैं, जोकि आपके लिए अतिरिक्त पैसे कमाने का साधन बन सकता है.
  • एग्रोटूरिज्म :- यदि आप अपने खेत में एक पर्यटक के अनुभव जैसा आकर्षण का केंद्र बनाते हैं, जहाँ लोग विजिट कर सकते हैं, तो यह भी आपके लिए एक तरह के व्यवसाय का विकल्प हो सकता है.
  • शुल्क शिकार :- यदि आपके पास एक ऐसी जमीन हैं जोकि काफी बड़ी है, और उस पर कुछ प्रकार के जानवर हैं, तो आप शिकार के उद्देश्यों के लिए लोगों को आने – जाने की सुविधा देकर भी व्यवसाय कर सकते हैं जहाँ आप उनसे इन सुविधा के लिए कुछ शुल्क ले सकते हैं.

इस तरह के आप कृषि के जुड़े कई तरह के व्यवसाय छोटे एवं बड़े दोनों स्तर पर शुरू कर सकते हैं, और पैसे कमा सकते हैं. यह सभी व्यवसाय आपके लिए काफी लाभकारी सिद्ध हो सकते हैं. आप इनमें से किसी भी व्यवसाय को शुरू कर सकते हैं.

अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!