उद्योग आधार क्या हैं, इसकी रजिस्‍ट्रेशन प्रक्रिया व लाभ | Udyog aadhaar registration, Updation process in hindi

उद्योग आधार क्या हैं, इसकी रजिस्‍ट्रेशन, प्रक्रिया व लाभ | Udyog Aadhaar kya hai,  Udyog Adhaar key feature, Documents, registration, Correction, Updation process, download in hindi

भारत देश की तरक्की हो रही है और भारत सरकार द्वारा देश के नागरिकों के लिए कई योजनाएं बनाई जा रही हैं. इन्हीं योजनाओं में से एक योजना उद्योग आधार है, जिसके अंतर्गत हम अपने लघु उद्योग से लेकर मध्यम वर्ग तक के उद्योगों को पंजीकरण करा कर सरकार की योजनाओं का लाभ ले सकते है. ये योजना देश के उन नागरिकों के लिए है, जो अपना व्यवसाय शुरू कर चुके है या शुरू करने की सोच रहे है. उद्योग आधार में बहुत सरल तरीके से आम लोग भी पंजीकरण कर सकते है, वो भी बगैर कोई शुल्क दिए.

उद्योग आधार की शुरुआत (udyog aadhaar information)

एमएसएमई के सम्मानीय मंत्री श्री कलराज ने अक्टूबर सन् 2015 को नई दिल्ली में उद्योग आधार के मुद्दे को लेकर बैठक बुलाई थी. इस बैठक में ही उद्योग आधार को सबसे पहले प्रयोग में लाने की बात कही गयी थी.

 उद्योग आधार

उद्योग आधार क्यों लाया गया (why udyog aadhaar required)

अगर कुछ साल पहले की बात की जाए, तो सरकार पहले सिर्फ बड़ी कंपनी एवं उद्योगों पर ध्यान देती थी. लेकिन देश को सक्षम बनाने के लिए ये काफी नहीं था. फिर सरकार ने अपना रुख छोटे और सूक्ष्म उद्योगों की तरफ मोड़ा, जिसके चलते सरकार ने लघु उद्योग के लिए सब्सिडी देने की कई योजना चलाई. लेकिन सब्सिडी पाने के लिए पहले सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय में रजिस्ट्रेशन करना पड़ता था. जिसकी प्रक्रिया काफी हद तक मुश्किल थी, जिससे काफी लोग इन योजनाओं से वंचित रह जाते थे, इसलिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए उद्योग आधार लाया गया.

उद्योग आधार के उद्देश्य (Udyog aadhaar key feature or objectives)

  • पंजीकरण प्रक्रिया को सरल बनाना

उद्योग आधार योजना का एक मुख्य उद्देश्य छोटे एवं सूक्ष्म उद्योगों को क़ानूनी तरीके से आगे बढ़ाने का है. पहले पंजीकरण की प्रक्रिया बहुत बड़ी और उलझीं हुआ करती थी. इसलिए हमारे देश के छोटे और मध्यम वर्ग के व्यवसायी इस प्रक्रिया से दूर भागते थे. लेकिन अब उद्योग आधार योजना के अंतर्गत आप अपने व्यवसाय का पंजीकरण आसानी से कर सकते है.

  • बेरोजगारी पर नियंत्रण

छोटे एवं सूक्ष्म उद्योगों को बढ़ावा देने से लोग खुद के व्यापार को शुरू करने में और भी रूचि दिखाएंगे, जिससे नए स्टार्टअप्स (नया व्यापार) होने की संभावनाएं भी बढ़ेगी. इतना ही नहीं ऐसा करने से देश में बेरोजगारों कम होगी और लोगों को नए अवसर मिलेंगे .

  • कम्पनियों के लिए प्रतिस्पर्धा बढ़ाना

इस समय की सरकार व्यापार को बढ़ावा देने पर तुली हुई है, क्योंकि इसमें ही देश का भला हो सकता है. जितने अधिक हमारे देश में उद्योग होंगे उतनी अधिक देश के आर्थिक रूप से मजबूत होने की संभावनाएं बढ़ेगीं.  इसके साथ साथ कंपनियों के बीच में एक दूसरे से आगे बढ़ने वाली सोच भी देश को लाभ पहुंचाएगी.

उद्योग आधार योजना से लाभ (udyog aadhaar benefits)

  • घर बैठे कर सकते हैं पंजीकरण-

आपको उद्योग आधार योजना में पंजीकरण करवाने के लिए किसी भी कार्यालय में जाने की जरूरत नहीं है, आप खुद घर पर ही ये कर सकेंगे. इस योजना से भ्रष्टाचार के खात्मे की ओर एक कदम बढ़ाया गया है और लोगों के समय की भी बचत हुई है.

  • ऋण लेने में आसानी (udyog aadhaar loan)

हम अपने रजिस्ट्रेशन फॉर्म से बैंक में चालू खाता आसानी से खुलवा सकते है. जिससे आगे हमें बगैर किसी परेशानी के बैंक से ऋण भी मिल सकता है. बिना किसी तीसरी पार्टी की गारंटी एवं बिना किसी प्रॉपर्टी के दस्तावेजों को जमा किये बिना ही आसानी से ऋण मिल जायेगा.  

  • सरकार से सहायता (udyog aadhar subsidy)

इसमें पंजीकरण करने वाली कंपनी की सहायता सरकार द्वारा की जाएगी, उदाहरण के तौर पर सरकार आपके व्यापार में मदद हेतु सब्सिडी देगी. जिसकी मदद से आप अपनी कंपनी को एक नया आयाम दे सकते हैं.

उद्योग आधार के लिए आवश्यक दस्तावेज (Udyog Aadhaar Required Documents)

  1. आपको अपने व्यापार को पंजीकृत करने के लिए सबसे पहले आधार कार्ड की जरुरत पड़ेगी, आधार कार्ड का होना पंजीकरण कराने की प्राथमिकता है. इस कार्ड के साथ आपका मोबाइल नंबर जुड़ा होना चाहिए.
  2. आवेदकों को आधार कार्ड के अलावा अपना निवास प्रमाण पत्र एवं जिस जगह आप अपना व्यापार खोल रहे हैं उस जगह का पता भी देना अनिर्वाय है. इतना ही नहीं अगर आप सामान्य वर्ग से नहीं आते हैं, तो ऐसी सूरत में आपको अपना जाति प्रमाण पत्र देना होगा, जिससे आपको सरकार द्वारा कुछ लाभ दिए जाएंगे.
  3. जैसे की पंजीकरण करते समय आपसे आपके बैंक खाते की जानकारी भी मांगी जाएगी, इसके लिए आपके पास बैंक की पासबुक भी होना चाहिए. क्योंकि इसी खाते में आपको सब्सिडी दी जाएगी.

उद्योग आधार में पंजीकरण कैसे करें (udyog aadhaar registration process)

  • सबसे पहले आपको भारत सरकार के एमएसएमई मंत्रालय की ऑफिसियल वेबसाइट http://udyogaadhaar.gov.in/UA/UAM_Registration.aspx पर जाकर अपना आधार नंबर जो 12 अंको का होता है भरना होगा. इसके साथ ही आपसे आपका नाम पूछा जायेगा जहां आप वहीं नाम भरेंगे जो इस कार्ड पर लिखा होगा.
  • यदि आपके पास आधार कार्ड नहीं है तो भी आप रेजिट्रेशन (पंजीकरण) कर सकते है, लेकिन उसके लिए आपको कम से कम अपने आधार की इनरोलमेंट आईडी देनी होगी. इतना ही नहीं आपको आईडी के साथ सरकार द्वारा प्रमाणित एक दस्तावेज की फोटो कॉपी देनी पड़ेगी और उस दस्तावेज में आपकी फोटो का लगा होना आवश्यक है.
  • इसके बाद आपके आधार कार्ड के सत्यापन के लिए आपको एक वन टाइम पासवर्ड प्राप्त होगा जो कि आपके इस कार्ड में अंकित फोन नंबर पर भेजा जायेगा. जिसके बाद की आगे की प्रक्रिया चालू की जाएगी.
  • इसके बाद आपको अपनी जाति या वर्ग, जेंडर (लिंग), कंपनी का नाम एवं कम्पनी का प्रकार आदि भरना होगा, जिसके बाद आपकी पंजीकरण की प्रक्रिया में अंतिम चरण रह जायेगा.
  • इस चरण में आपको अपनी कंपनी से सम्बंधित सभी जानकारी देनी होगी, जैसे कम्पनी की मशीनरी के बारे में, उपकरण एवं आपकी कंपनी के कर्मचारी की संख्या कितनी है और इत्यादि.
  • इतना ही नहीं आपको अपने पुराने पंजीकरण की जानकारी बतानी होगी, यदि आपने पहले किसी अपनी दूसरी कंपनी के लिए उद्योग आधार नंबर ले रखा है, अगर नहीं तो आप आगे बढ़ सकते हैं.
  • इन सब जानकारी के अलावा आपको अपनी ईमेल आईडी भी भरनी होती है, इसके साथ ही आप अपने बैंक खाते की जानकारी भरनी पड़ेगी और ऐसा करने के बाद ही आपको सरकार की तरफ से यूएएम नंबर मिलेगा जो कि आपकी कम्पनी के स्थापित होने का प्रमाण होगा.

यूएएम मतलब क्या है (What Is UAM Registration)

उद्योग आधार मेमोरेंडम (यूएएम) एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके अंतर्गत आप अपने उद्योग का पंजीकरण सिर्फ एक पेज फॉर्म भरकर करवा सकते हैं, जिसको भारत के एमएसएमई विभाग द्वारा चलाया गया है.

उद्योग आधार में सुधार कैसे करें या अपडेशन की प्रक्रिया (Udyog Aadhaar Correction And Updatation process in hindi)

उद्योग आधार में सुधार करने की प्रक्रिया को काफी आसान रखा गया है. इसके लिए आपको अपनी उद्योग आधार संख्या को http://udyogaadhaar.gov.in/UA/UA_EntrepreneurLogin.aspx इस लिंक पर जाकर भरना होगा. जिसके बाद आपको ओटीपी प्राप्त करने के लिए तीन विकल्प मिलेंगे :

पहला आधार से लिंक फोन नंबर के जरिये,

दूसरा जो नंबर आपने रजिस्ट्रेशन या पंजीकरण के दौरान दिया था, या फिर आपकी पंजीकृत ईमेल आईडी पर.

जिसमें से आप किसी एक का चुनाव कर सकते है.

उद्योग आधार मेमोरेंडम संख्या का सत्यापन (Udyog Aadhaar Memorandum Verification)

इसमें आपको इस लिंक http://udyogaadhaar.gov.in/UA/UA_VerifyUAM.aspx  पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद आपके सामने एक वेबपेज खुलेगा जिसमें आपको 12 अंको का उद्योग आधार नंबर भरना है. इसके बाद थोड़ा नीचे एक इमेज में कैप्चा कोड दिखेगा जिसको वैरिफिकेशन कोड वाले टैब में भरना पड़ता है. इसके बाद जैसे ही आप ‘वेरीफाई’ नाम के बटन पर क्लिक करेंगे आपके सामने परिणाम पेज दिखेगा, जो कि आपके उद्योग आधार के पंजीकरण को सत्यापित करेगा. 

उद्योग आधार को ऑनलाइन भी कर सकते है डाउनलोड (Udyog Aadhaar Download)

आपको अपने उद्योग आधार को ऑनलाइन डाउनलोड करने के लिए इस लिंक http://udyogaadhaar.gov.in/ua/PrintApplication_Pub.aspx पर जाना पड़ेगा, जिसके बाद आपसे आपका आधार कार्ड नंबर और उद्योग आधार नंबर मांगा जाएगा. जिसके बाद आप प्रिंट आउट ले सकेंगे.

उद्योग आधार के लिए योग्यता (Udyog Aadhaar Eligibility Criteria)

  • सबसे बड़ी एवं महत्वपूर्ण बात को देखे तो इस योजना के तहत वही अपना पंजीकरण करा सकते है जिनकी कंपनी अभी हाल में मौजूद है, मतलब कोई भी भविष्य में खोली जा रही कम्पनी का पंजीकरण मान्य नहीं होगा. इतना ही नहीं अभी हाल में इस योजना के लाभ के लिए भारतीय नागरिक होना भी आवश्यक है.
  • फिलहाल तो इसकी कोई राशि की कोई भी सीमा तय नहीं की गयी है, लेकिन एमएसएमई मंत्रालय के हिसाब से इसमें सिर्फ लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम व्यापार की कंपनियां ही पंजीकरण करा सकती हैं. और इस हिसाब से इनकी अधिकतम सीमा उत्पाद निर्माण वाली कंपनियों के लिए 10 करोड़ है, एवं सेवाएं देने वाली कंपनियों के लिए 5 करोड़ ही है.

अन्य पढ़े:

One comment

  1. राजेंद्र रिखवदास शहा

    क्या उद्योग आधार को अंतर्गत फोटोग्राफी एवम् व्हिडीओग्राफीका बिजनेस रजिस्टर कर सकते है ?.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *