फ्री में अपनी वेबसाइट कैसे बनाये या ब्लॉगिंग का व्यापार कैसे शुरू करें?

अपनी वेबसाइट कैसे बनाये या ब्लॉगिंग का व्यापार कैसे शुरू करें (How to create a website free of cost or Earn Money from blogging website Business in hindi) 

आजकल ब्लॉगिंग एक बहुत ही परिचित सा या बहुत ज्यादा सुना हुआ शब्द लगता है, पर बहुत ही कम लोग इसका वास्तविक मतलब जानते है. वास्तव में जब आप किसी विषय पर लिखते है, तो उसे ब्लॉगिंग कहते है, आप इस दौरान किसी विषय पर अपने मौजूदा ज्ञान को अन्य लोगों से साझा करते है. क्या आपने कभी गौर किया है, कि जब आप अपने किसी सवाल या प्रोब्लम को गूगल पर डालते है, तो गूगल उसका जवाब आपको कैसे देता है, क्या गूगल सब कुछ जानता है?? वास्तव में गूगल इन्हीं विभिन्न ब्लॉग और वेबसाइट के जरिये आपको आपकी समस्या का समाधान देता है. अब भी आपके मन में इस व्यापार को लेकर कई सवाल जैसे इसे शुरू कैसे करें, इसमें कितना लाभ हो सकता है, इसमें निवेश कितना होगा और आपको एक दिन में कितना लिखना होगा आदि होंगे. आपके इन सवालो के जवाब हम अपने आर्टिकल के जरिये आप तक पंहुचा रहें है.

Blogging Business

ब्लॉगिंग का व्यापार लाभ (Online Blogging Business Benefit) 

वैसे तो किसी भी व्यापार का सबसे महत्वपूर्ण उद्देश्य पैसे कमाना ही होता है, परंतु यदि आप ब्लॉगिंग को अपने प्रॉफ़ेशन के रूप में चुनते है, तब आपको इसमें और भी कई फायदे मिलते है, जो इस प्रकार है –

  • आप अपने शौक को अपना व्यापार बना सकते है और अपनी प्रतिभा को और निखार सकते है – अगर आप लिखने के शौकीन है, तो ही यह व्यापार आपके लिए है. आपको इसमें प्रतिदिन नए नए टॉपिक पर लिखना होगा. इसी के साथ रोजाना नए अनुभवो से आपकी लिखने की प्रतिभा में भी निखार आएगा.
  • आपका ज्ञान बढ़ेगा – जब आप रोजाना नए टॉपिक पर लिखेंगे, तो आपको उनके संबंध में रिसर्च भी करनी पड़ेगी, इससे आपका ज्ञान भी बढ़ेगा.
  • अपने चुने हुए समय पर काम करने की आजादी – अगर आप बाहर किसी अन्य ऑफिस में जाकर काम करते है, तो आपको उनके अनुसार समय पर जाकर काम करना होगा. परंतु यहाँ आप स्वयं अपने समय का चयन कर काम कर सकते है.
  • बॉस का टेंशन नहीं – जब आप किसी अन्य के यहाँ काम करते है, तो आपको उसके अधीन होकर काम करना होता है, उसका कहां मानना होता है. परंतु यहाँ आप स्वयं अपनी मर्जी के मालिक होते है, आप वही लिखते है, जो आपको सही लगता है. इसलिए आप टेंशन फ्री होकर काम कर सकते है.
  • आप एक अच्छे रिसर्चर बन सकते है – जब आप रोजाना नए सब्जेक्ट के बारे में सोचेंगे, उसे पढ़ेंगे, उसके बारे में जानकारी एकत्रित करेंगे, तो आपकी रिसर्च करने की आदत भी बनेगी और आप एक अच्छे रिसर्चर बनेंगे.
  • आपकी क्रिएटिविटी बढ़ेगी – यह आपकी पसंद का व्यापार होगा, और इसमें सफलता के लिए आप रोजाना नए प्रयत्न करेंगे, इससे आपकी क्रिएटिविटी भी बढ़ेगी और आपकी इसी क्रिएटिविटी से आपको सफलता भी मिलेगी.
  • आप अपने ज्ञान और अपने अनुभवो को साझा कर पाएंगे – हम जानते ही है, कि ज्ञान बांटने से बढ़ता है, तो इस व्यापार में मूलतः आपको अपने ज्ञान और अनुभवो को ही अन्य लोगों से एक कॉमन प्लेटफॉर्म पर साझा करना होता है. इससे अन्य लोगों को भी मदत मिलती है.
  • पैसा कैसे बनाया जाता है आप यह सीखेंगे – अधिकतर लोग अपने इंटरेस्ट के हिसाब से केवल एक ब्लॉग को लेकर मार्केट में आते है, पर जब उन्हे अनुभव हो जाता है, तो वे अन्य विषय पर भी काम करने लगते है. आप अपने मूल ब्लॉग से आपको क्या करना चाहिए, क्या नहीं करना चाहिए, आपकी मार्केटिंग स्ट्रेटेजी क्या होनी चाहिए आदि चीजें सीखते है और ये सब अपने अन्य ब्लॉग में अप्लाई कर पैसा कमा सकते है. इस प्रकार इस व्यापार के कई फायदे है.

अपनी वेबसाइट का टाइप तय करें और फ्री में वेबसाइट बनाये (Decide platform Of Website and create a website free of cost) –

ऐसे तो आजकल ब्लॉगिंग के लिए कई सारे प्लेटफॉर्म उपलब्ध है, इनमें से कुछ प्रमुख ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म वर्डप्रेस (WordPress), ब्लॉगर(Blogger), टम्ब्लर(Tumblr) और वर्डप्रेस सेल्फ होस्टेड, पैड (WordPress self Hosted) आदि है. इनमें से किसी भी प्लेटफॉर्म में आप फ्री में ब्लॉग बना सकते है, परंतु इनमें ब्लॉग बनाने पर यह आपकी साइट के नाम के साथ अपना डोमेन नेम भी जोड़ देता है. यदि आप खुद के पसंद का डोमेन लेना चाहते है, तो आपको कुछ पैसे भी खर्च करने पड़ेंगें.

सबसे अच्छा ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म  (Blogging Best Platform)

अधिकतर ब्लॉग वर्डप्रेस पर ही बनाए जाते है, इस पर काम करना तो आसान है ही, इसी के साथ इसमें थीम और प्लगिंग जैसे अन्य विकल्प भी मिल जाते है. इन विकल्पो के चलते आपकी साइट आकर्षक लगने लगती है और लोग आपकी तरफ खिचे चले आते है.

डोमेन रजिस्ट्रेशन (Domain Registration) –

अगर आप अपने डोमेन को रजिस्टर करवाना चाहते है, तो आपको सर्वप्रथम अपना डोमेन एड्रैस का नाम मतलब अपनी वेब साइट का नाम लेना होता होगा. आपको अपने डोमेन का नाम अपने टॉपिक से रिलेटेड ही रखना चाहिए. ऐसा नहीं करने पर आपको सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन से संबंधित समस्याओं का सामना कर पड़ सकता है. आपको अपने डोमेन को खरीदना होगा, कई साइट पर आपको अपने प्रथम वर्ष के लिए डोमेन ऑफर में भी मिल सकता है, आपको इसके लिए सर्च करना होगा.

वेब होस्टिंग (Web Hosting) –

ब्लॉगिंग के लिए आपको एक अच्छे वेब होस्टिंग की भी आवश्यकता होती है. जब आप अपने लिए वेबहोस्टिंग का चयन करते है, तो आपको ध्यान रखना चाहिए, कि आपका वेब होस्टिंग भरोसेमंद हो, ताकि आपका डाटा सुरक्षित रहें, आपकी सर्वर स्पीड अच्छी हो, आपको बैंडविड्थ और डिस्क स्पेस अच्छी मिले, आपको बैकअप सुविधा मिले, यह यूस करने में आसान हो. इन बातों को ध्यान में रखकर ही आप अपने लिए सही वेब होस्टिंग का चयन कर पाएंगे. भारत में भी आपके पास कई अच्छे विकल्प मौजूद है, जिनसे आप होस्टिंग खरीद सकते है, जैसे कि https://in.godaddy.com/ और https://www.hostgator.in/

निवेश (Investment) –

इस व्यापार में आपको कितने रुपय खर्च करने पड़ सकते है इसका अनुमान हम निम्न खर्चो से लगा सकते है.

  • सर्वप्रथम आपको अपने डोमेन के रजिस्ट्रेशन के लिए 200 रुपय से लेकर 1000 रुपय तक का खर्चा करना पड़ सकता है.
  • इसके बाद आपको वेब होस्टिंग के लिए एक महीने के लगभग 400-500 रुपय खर्चा करना होगा, परंतु कोई भी कंपनी वेब होस्टिंग का साल भर का प्लान ही प्रदान करती है इसलिए आप इसमें अपना प्रथम निवेश 4000 से 5000 मान सकते है.
  • इसके बाद यदि आप अपने पेज पर अपनी इच्छा अनुसार थीम लेते है तो उसमें भी आपको पैसे की आवश्यकता पड़ती है. इसमें आप अपने बजट के अनुसार 3000 से 4000 रुपय खर्च करके थीम खरीद सकते है.

इस प्रकार अपने एक ब्लॉग के लिए शुरुआत में आपको लगभग 10 से 12 हजार तक खर्च करना पड़ सकता है.

ब्लॉगिंग व्यापार के लिए आवश्यक योग्यता (Required Skills for Online Blogging Business) –  

किसी भी व्यापार को सफल बनाने के लिए आपमें कुछ स्पेशल योग्यता होना आवश्यक है, ठीक इसी प्रकार से इस व्यापार में सफलता के लिए भी आपमें कुछ विशेष योग्यता होना आवश्यक है जो इस प्रकार से है-

  • आत्मविश्वास और धैर्य – हालांकि यह कोई योग्यता नहीं है, परंतु फिर भी एक सफल ब्लॉगर बनने के लिए आपमें आत्मविश्वास और धैर्य होना अनिवार्य है. जब आप कोई ब्लॉगिंग की साइट स्टार्ट करते है, तो यह रिस्पांस देने में कम से कम 6 महीने या 1 साल का टाइम लेती है, कभी कभी इसमें और भी अधिक समय लग जाता है, इसलिए आपको इस समय धैर्य बनाए रखने की और पूरी लगन से कार्य करने की आवश्यकता होती है.
  • लिखने की कला – ब्लॉगिंग पूर्ण रूप से आपके लिखने की कला पर आधारित व्यापार है, इसके लिए आपकी लिखावट पढ़ने में आसान और समझने में सरल होना चाहिए. आपके लिखे शब्दों से आपके भाव प्रकट होना चाहिए. और अगर आपमें लिखने की कला नहीं है, तो यह व्यापार आपके लिए नहीं है.
  • फोटो एडिटिंग – अगर आप अपने लिखे हुए ब्लॉग्स के साथ फोटो भी लगाते है, तो आपके ब्लॉग और आकर्षक बन जाते है. कई बार आप अपने भाव एक अच्छी सी फोटो के जरिए भी प्रकट कर सकते है. जब कोई विसिटर आपकी साइट या ब्लॉग पर विजिट करता है, तो एक अच्छी फोटो उसे आकर्षित करती है. इसलिए एक अच्छी फोटो बनाने के लिए आपको फोटो शॉप या अडोप डिज़ाइन जैसे टूल के समबंध में जानकारी होना अनिवार्य है.
  • सीएसएस और एचटीएमएल – आपको ब्लॉग्गिंग के अलावा भी कम्प्यूटर कोडिंग और लैंग्वेज का भी ज्ञान होना आवश्यक है. इसके लिए आपका एक अच्छा प्रोग्रामर होना बिलकुल भी आवश्यक नहीं, आपको इसका बेसिक नॉलेज होना अनिवार्य है.
  • नेटवर्किंग – नेटवर्किंग ब्लॉगिंग का एक अहम हिस्सा है, इसके द्वारा आप अपने ब्लॉग पर अच्छा और बहुत बड़ी संख्या में ट्रेफिक ला सकते है. आप अपने लिए एक अच्छा नेटवर्क तब बना सकते है, जब आप हर जगह उपलब्ध होते है और अपने आस-पास के लोगों से बनाकर रखते है. रोजाना लोगों से संपर्क में रहने का प्रयत्न करें, यह जानने का प्रयास करें कि उनके दिमाग में क्या चल रहा है. आप इस व्यापार के लिए अपनी नेटवर्किंग बढ़ाने के लिए सोश्ल मीडिया पर एक्टिव होना या ब्लॉगिंग कम्यूनिटी जॉइन करना जैसे प्रयास कर सकते है.
  • मार्केटिंग स्किल – यहाँ मार्केटिंग स्किल से हमारा तात्पर्य इ-मार्केटिंग से है जिसमें इ-प्रमोशन और इ-सेलिंग शामिल होता है. ब्लॉगिंग एक ऑनलाइन व्यापार है और प्रत्येक व्यापार में मार्केटिंग की आवश्यकता पड़ती है. यदि एक ब्लॉगर में अच्छी मार्केटिंग स्किल्स होती है तो वह अपने ब्लॉग को अच्छे से प्रमोट कर सकता है और अपनी और ज्यादा ट्रेफिक आकर्षित कर सकता है.
  • इंटरेक्षन स्किल – ब्लॉगिंग हमेशा से दो तरफा कम्युनिकेशन का व्यापार रहा है. इसमें आपको अपने रीडर्स से संपर्क में रहना होता है, आपको रोजाना उनके कमेंट को पढ़कर उसका जवाब देना चाहिए. इसके अलावा आपको अन्य ब्लॉगर के भी संपर्क में रहने का प्रयास करना चाहिए. आपको उनके पोस्ट पर कमेंट करना चाहिए.
  • स्वअनुशासन – अगर आप एक सफल ब्लॉगर बनना चाहते है, तो आपके काम और काम करने के तरीके में अनुशासन होना बहुत जरूरी है. चाहे आप पार्ट टाइम ब्लॉगर हो या फूल टाइम अपने सभी कामों के लिए एक समय तय करे, अपने ब्लॉग का प्रकार, किसी टॉपिक पर रिसर्च और उसकी एडिटिंग के लिए भी समय तय करे. क्योंकि यदि आपका समय तय नहीं होगा तो आप आलस करेंगे और आपका कोई भी काम टाइम पर नहीं हो पाएगा और आप पिछड़ जाएंगे.
  • कड़ी-मेहनत – इसमे कोई शक नहीं है की आपको एक सफल ब्लॉगर बनने या जीवन में किसी भी मोड पर सफल होने के लिए कड़ी मेहनत की आवश्यकता होती है इसके लिए कोई आसान रास्ता नहीं होता. मुख्य रूप से यदि आप पार्ट-टाइम ब्लॉगर है तो आपको कड़ी मेहनत की आवश्यकता होगी, क्योंकि ऐसे में आपको अपने डेलि जॉब में टाइम देना, होगा फिर आपको ब्लॉगिंग के लिए टाइम निकालना होगा. आपके द्वारा की गई कड़ी मेहनत ही आपको सफलता दिलवा सकती है.
  • दूसरों का मन पढ़ने की कला – लोगों का मन पढ़ना बहुत मुश्किल है. परंतु आपको यह जानना होगा की उनके दिमाग में क्या है? वे आपसे क्या जानकारी चाहते है. उनके इंटरेस्ट का टॉपिक क्या है? अगर कोई विसिटर आपका आर्टिकल पढ़ता है और उसे यह इंट्रेस्टिंग लगता है, तो वह आपका आर्टिकल पढे बिना आपके पेज से नहीं जाता और वह आपका रेगुलर रीडर भी बन जाता है.
  • एसईओ – सबसे अंत हम आपको जिस चीज के बारे में बता रहें है वह इस व्यापार के लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है. अगर आप अपने आर्टिकल को सर्च रिज़ल्ट में सबसे उपर देखना चाहते है और अपनी साइट पर अच्छा ट्रेफिक लाना चाहते है तो आपको एसईओ मतलब सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का ज्ञान होना आवश्यक है. यह किसी भी ब्लॉगर के लिए बहुत महत्वपूर्ण चीज है, परंतु आपको इससे डरने की आवश्यकता नहीं है यह कोई रॉकेट साइन्स नहीं है आप ऑनलाइन भी इसे सीख सकते है और अपने ब्लॉग को सफल बनाने में इसका उपयोग कर सकते है.
  • अन्य प्रोफेशनल ब्लॉगर को फॉलो करें – आपको अपने व्यापार में अपडेट रहने के लिए यह आवश्यक है कि आप अन्य प्रॉफेश्नल ब्लॉगर को फॉलो करें. इससे आपको नई चीजों का ज्ञान होगा और आप उसे अपने ब्लॉग में भी उपयोग कर सकते है.

इस प्रकार अगर आपको लिखने का शौक है तो यह आपके लिए यह एक बेहतर व्यापार है परंतु आपको इसके लिए यह ध्यान में रखना आवश्यक है कि इसके लिए आपको अपनी निरंतरता बनाए रखना बेहद ही आवश्यक है. इसके लिए आपको अपने दिन के कई घंटे अपने लैपटाप के आगे गुजारने होंगे, आपको नई चीजों को सीखने के लिए भी तैयार रहना होगा. अगर आप इन सब परिस्थितियों के लिए तैयार है तब ही आप इस व्यापार के संबंध में सोचे वरना इसे स्टार्ट करने में आपके द्वारा लगाया गया पैसा और आपकी शुरुआती मेहनत व्यर्थ जाएगी.

अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!